राकेश टिकैत के बयानों से किसान मोर्चा का संबंध नहीं : चढूनी

अंबाला। भारतीय किसान यूनियन के हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने अपने एक बयान में कहा कि राकेश टिकैत ने किसान आंदोलन की अवधि को लेकर मजाक किया है। चढूनी आज अंबाला के शंभू बॉर्डर पर पहुंचे थे। यहां चढूनी का फूल-मालाओं के साथ स्वागत किया गया और चढूनी ने किसानों की पंचायत को संबोधित किया।

पंचायत के बाद चढूनी ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि हमारा आंदोलन तब तक जारी रहेगा, जब तक हमारी जीत नहीं होती। वहीं राकेश टिकैत के 2 अक्तूबर तक आंदोलन चलने के बयान पर चढूनी ने कहा कि टिकैत के बयानों से किसान संयुक्त मोर्चा का कोई लेना देना नहीं। उन्होंने कहा कि टिकैत ने 2 अक्तूबर तक आंदोलन चलने वाले बयान पर शायद मजाक किया है, लेकिन इसमें संयुक्त मोर्चा का कोई रोल नहीं है। हालांकि गुरनाम सिंह चढूनी ने किसान आंदोलन में गुटबाजी होने से साफ मना कर दिया।

इस दौरान किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने पीएम मोदी के आंदोलनजीवी वाले बयान पर भी पलटवार किया और कहा कि अगर देश को आंदोलनजीवी आजाद न करवाते तो देश आजाद न होता और आज देश की रोटी बचाने की लड़ाई को अगर पीएम परजीवियों की लड़ाई कहते हैं तो उन्हें परजीवी होने पर गर्व है।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा