मंसूरपुर डिस्टिलरी के ब्रांड की नकली शराब बनाने वाला बडा गिरोह पकडा



मुजफ्फरनगर। एसएसपी अभिषेक यादव ने अंतरराज्य अवैध शराब गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए बडे पैमाने पर मंसूपुर डिस्टिलरी के तोहफा ब्रांड के नाम पर नकली शराब बनाने का कारखाना पकडकर 3 कारें  बरामद करते हुए एक दर्जन से ज्यादा तस्कर गिरफ्तार किए हैं। उनके  कुछ साथी फरार हैं। एसएसपी अभिषेक यादव ने कहा कि  इन तस्करों पर रासुका की कार्यवाही होगी।

एसएसपी के जीरो ड्रग्स अभियान के तहत पुलिस को आज एक ओर सफलता मिली।   पुलिस ने मंसूरपुर क्षेत्र में चल रही फैक्ट्री से अंतरराज्यीय गिरोह से जुडे 13 आरोपी गिरफ्तार किये हैं। चार आरोपी फरार बताए गए हैं। मौके पर 3 गाड़ी, 24 हजार लीटर शराब, 55 हजार खाली पव्वे बरामद किए गए। इसके अलावा वहां 20 हजार ढक्कन, 82 हजार रेपर अंग्रेजी शराब के बरामद हुए हैं। फैक्ट्री में नकली जहरीली अंग्रेजी व देशी शराब बन रही थी। यह शराब दिल्ली, यूपी-उत्तराखंड, हरियाणा में सप्लाई होती थी। शराब बनाने के फैक्ट्री से करोड़ों रुपए के उपकरण बरामद किए गए हैं। 13 आरोपियों के खिलाफ 28 मुकदमें यूपी के थानों में दर्ज बताए गएहैं। थाना मंसूरपुर पुलिस व क्राइम ब्रांच को मिली सफलता पर एसएसपी ने इस टीम की सराहना की है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव के आदेशानुसार नशीले पदार्थों के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान व आगामी पंचायत चुनाव के दृष्टिगत पुलिस अधीक्षक नगर व पुलिस अधीक्षक अपराध के निर्देशन और मंसूरपुर थाना के प्रभारी निरीक्षक कुशलपाल सिंह के नेतृत्व में अवैध शराब निर्माण तस्करी करने वाले गैंग को आज शुक्रवार के दिन क्राइम ब्रान्च व थाना मंसूरपुर पुलिस की संयुक्त टीम को गिरफ्तार करने में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त हुई। मुखबिर की सूचना पर थाना क्षेत्र मंसूरपुर के फैक्ट्री एरिया बेगराजपुर से अवैध शराब बनाने के कारोबार में संलिप्त 12 अभियुक्तों को भारी मात्रा में रेक्टीफाइड, ढक्कन, रैपर, होलोग्राम व पच्चे (छोटी बोतल) आदि के साथ गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अभियुक्तों में विशाल उर्फ मुरली पुत्र संजय निवासी मिल मंसूरपुर थाना मंसूरपुर जनपद मुजफ्फरनगर, सोनू उर्फ मनोज पुत्र कंवरपाल निवासी मिल मंसूरपुर थाना मंसूरपुर जनपद मुजफ्फरनगर, रवि उर्फ पहलवान पुत्र सोमपाल निवासी ग्राम दूधाहेडी थाना मंसूरपुर जनपद मुजफ्फरनगर, गौरव उर्फ गोला पुत्र उदयवीर निवासी ग्राम दूधाहेडी थाना मंसूरपुर जनपद मुजफ्फरनगर, नितिन उर्फ बब्बू पुत्र सतीश कुमार निवासी ग्राम दूधाहेडी थाना मंसूरपुर जनपद मुजफ्फरनगर, विपिन पुत्र राजबीर निवासी ग्राम नागौरी थाना फलावदा जनपद मेरठ, अजय कुमार उर्फ बाबा पुत्र धर्मवीर निवासी बुढाना मोड रोड जनपद शामली, सन्नी उर्फ अर्जुन पुत्र दयाराम निवासी ग्राम डेरा थाना छतरपुर दिल्ली हाल किरायेदार सुनील दयानन्दनगर आश्रम के पास थाना आदर्श मण्डी जनपद शामली, मोहित उर्फ सांडा पुत्र कृष्णपाल निवासी ग्राम पीनना मौहल्ला धुमिया वाला मुजफ्फरनगर, सोमपाल उर्फ मुन्ना पुत्र जय सिंह निवासी कस्वा व थाना तितावी जनपद मुजफ्फरनगर, कुलदीप पुत्र सुरेश निवासी ग्राम नसीरपुर थाना तितावी जनपद मुजफ्फरनगर, गौतम कर्णवाल पुत्र संजय कुमार निवासी मौहल्ला रैदासपुरी थाना सिविल लाइन मुजफ्फरनगर और प्रदीप कुमार पुत्र मीर सिंह निवासी मकान नंबर 10 गांधीनगर कूकडा थाना नई मण्डी जनपद मुजफ्फरनगर बताये गये हैं। जबकि फरार तस्करो में चमन लाल उर्फ सागर पुत्र लक्ष्मीचन्द निवासी 541 ए गली नंबर 8 अशोकनगर शाहदरा दिल्ली, दिनेश कर्णवाल पुत्र प्रेमचन्द निवासी कस्बा व थाना छपार जनपद मुजफ्फरनगर, रजनीश पुत्र जसपाल निवासी ग्राम कण्डेला थाना कैराना जनपद शामली व सुनील गुर्जर पुत्र नबाब निवासी ईशोपुर टीला थाना कांधला जनपद शामली हैं। गिरफ्तार अभियुक्तों से 12 हजार 400 लीटर ईएनएन (एल्कोहॉल), 55 हजार खाली पव्वे (छोटी बोतल), 82 हजार रैपर तोहफा, मिस इण्डिया दौराला मिल व रॉयल स्टेग, 20 हजार ढक्कन अलग अलग ब्राण्ड के (तोहफा मंसूरपुर मिल, इम्पीरियल ब्लू, रोयल स्टेग, मेकडावल, रम, रॉयल चैलेन्जर, ब्लैण्डर और फाइटर मंसूरपुर मिल आदि के अलावा ओपीपीओ रेेेनो टू जेड, 45 हजार बार कोड, एक मशीन पव्वे पर सील लगाने की, दो पम्प, एक बडा आरओ, 500 कार्टून (गत्ता पेटी), 1 वैगन आर कार, एक टियागो कार, एक ओमनी कार, एक एल्कोहॉल मीटर, 5 बोतल शराब में मिलाने वाला फ्लेवर, फेविकॉल, शराब में मिलाने वाला कलर, छोटी बड़ी टेप, एक कटा हुआ ड्रम, एक पानी की टंकी बड़ी, 3 पेटी शराब तोहफा मार्का है। अभियुक्तों से पूछताछ पर ज्ञात हुआ कि अभियुक्त विशाल उर्फ मुरली व सोनू उर्फ मनोज मंसूरपुर डिस्टलरी में नौकरी करने के उपरान्त अवैध शराब के धन्धे में आये और इस कारोबार को करते हुए कई बार जेल जा चुके हैं। पुन अवैध कारोबार में संलिप्त होकर आगामी पंचायत चुनाव में शराब की डिमाण्ड की पूर्ति के लिए अवैध शराब के कारोबार में अपने पूर्व के साथी दिनेश कर्णवाल व चमनपाल से अवैध शराब बनाने की सामग्री प्राप्त कर अवैध शराब बनाकर जनपद मुजफ्फरनगर, शामली, सहारनपुर, मेरठ और हरिद्वार आदि में सप्लाई करने में संलिप्त हुए। इसके अतिरिक्त उपरोक्त जनपदों में शराब बनाने में प्रयुक्त होने वाले रैपर, ढक्कन, होलोग्राम व ईएनए की आपूर्ति गौतम कर्णवाल, दिनेश कर्णवाल व विशाल उर्फ मुरली द्वारा की जा रही थी। इसमें मुख्य रूप से तोहफा ब्राण्ड की शराब तैयार कर सप्लाई की जा रही थी। शराब बनाने में प्रयुक्त सामान रैपर, ढक्कन व होलोग्राम आदि गौत्तम कर्णवाल, दिनेश कर्णवाल व चमन के द्वारा मुजफ्फरनगर के अतिरिक्त मेरठ, सहारनपुर, हरिद्वार और देहरादून आदि में भी उपलब्ध कराये जा रहे थे। जो कि पूर्व में मुजफ्फरनगर पुलिस द्वारा इसी अपराध में जेल भेजे गये थे। इनमें विशाल उर्फ मुरली, गौरव उर्फ गोला, नितिन उर्फ बब्बू, सोनू उर्फ मनोज, रवि उर्फ पहलवान मोहित उर्फ साण्डा के खिलाफ दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं। गिरफ्तार करने वाली टीम में एसओजी टीम के उपनिरीक्षक मनोज कुमार, सुनील शर्मा, हैड कांस्टेबल ब्रह्मप्रकाश, जोगेन्द्र कसाना, विजय मावी, भूपेन्द्र राठी, रूपक नागर, गुरनाम सिंह, शिवम यादव के अलावा बेगराजपुर पुलिस चौकी प्रभारी गजेन्द्र सिंह, उपनिरीक्षक ब्रहमजीत सिंह तोमर, सब इंस्पेक्टर मशकूर अली, कांस्टेबल अजय कुमार तेवतिया, निखिल, आशीष व नरेश पूनिया रहे।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा