मुजफ्फरनगर में भी बनेगा फ्रेट कॉरीडोर का लॉजिस्टिक हब


मुजफ्फरनगर । केंद्रीय राज्यमंत्री एवं मुजफ्फरनगर से सांसद संजीव बालियान ने बताया कि कोलकाता से लुधियाना फ्रेट कारिडोर में मुजफ्फरनगर और मेरठ में भी लॉजिस्टिक हब (लोडिंग अनलोडिंग) बनेगा। इसके लिए उनकी रेल मंत्री के साथ ही डेडिकेटेड फ्रेट कारिडोर कार्पोरेशन ऑफ इंडिया (डीएफसीसीआईएल) के जीएम के साथ पूर्व में हुई बातचीत में सहमति हो चुकी है। अभी तक के प्रस्तावित नक्शे में खुर्जा के बाद सीधे सहारनपुर में लाजिस्टिक हब दिया गया है।

केंद्रीय राज्यमंत्री डा.संजीव बालियान ने बताया कि जब उनके संज्ञान में आया कि फ्रेट कारिडोर में खुर्जा के बाद सीधे सहारनपुर में ही लाजिस्टिक हब बनाया जा रहा है तो उन्होंने 3 सितंबर 2020 को केंद्रीय रेल मंत्री पियूष गोयल को पत्र लिखा था जिसमें मुजफ्फरनगर में चीनी, पेपर व लोहा इंडस्ट्रीज का हब होने के कारण फ्रेट कारिडोर के लिए लाजिस्टिक हब बनाने का अनुरोध किया गया था। उन्होंने पत्र में मंसूरपुर रेलवे स्टेशन के निकट ही लाजिस्टिक हब बनाने की सिफारिश अपने पत्र में की थी। बाद में वह इस संबंध में रेल मंत्री पियूष गोयल व डीएफसीसी के जीएम से मिले थे। दोनों के साथ हुई बैठक में उन्होंने मेरठ में खेल उद्योग समेत अन्य उद्योग तथा मुजफ्फरनगर में चीनी, गुड़, पेपर व लोहा इंडस्ट्रीज का हवाला देते हुए दोनों जिलों में फ्रेट कारिडोर का लाजिस्टिक हब (माल लोडिंग अनलोडिंग सुविधा) उपलब्ध कराने की मांग की थी। उन्होंने बताया कि रेलमंत्री और डीएफसीसी के जीएम दोनों जिलों में लाजिस्टिक हब बनाए जाने पर सहमत हो गए थे लेकिन यह दोनों जिलों में कहां कहां बनेगा इसका निर्णय फ्रेट कारिडोर की ड्राइंग के आधार पर रेल विभाग के अधिकारी ही तय करेंगे। उन्होंने कहा कि खुर्जा से सहारनपुर तक फ्रेट कारिडोर के निर्माण का काम तेजी से चल रहा है। आने वाले दिनों में मुजफ्फरनगर और मेरठ के कारोबारियों को भी इसका लाभ मिलेगा।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा