बुधवार, 4 नवंबर 2020

चपरासी पद पर स्नातक की नियुक्ति रद्द

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने एक बैंक चपरासी को नौकरी से हटाने के फैसले को बरकरार रखते हुए कहा कि चपरासी पद पर नियुक्ति के लिए स्नातक होना अनिवार्य योग्यता से अधिक है। इसके साथ ही शीर्ष कोर्ट ने याचिकाकर्ता अमित कुमार दास की याचिका खारिज कर दी। कोर्ट ने यह दलील मानने से इनकार कर दिया कि ज्यादा शैक्षणिक योग्यता किसी व्यक्ति को अयोग्य ठहराने का आधार नहीं हो सकती। मामला उडीसा का है। 


कोई टिप्पणी नहीं:

Featured Post

*'जो रह गए, उन्हें भविष्य में मिलेगा सभी योजनाओं का लाभ':मीनाक्षी स्वरूप*

  मुज़फ्फरनगर। वार्ड 41 आदर्श कॉलोनी में आयोजित विकसित भारत संकल्प यात्रा में नगर पालिका अध्यक्षा मीनाक्षी स्वरूप ने बताया कि गांव के गरीब से...