आज का पंचांग एवँ राशिफल 06 नवम्बर 2020


🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞


⛅ *दिनांक 06 नवम्बर 2020*


⛅ *दिन - शुक्रवार*


⛅ *विक्रम संवत - 2077 (गुजरात - 2076)* 


⛅ *शक संवत - 1942*


⛅ *अयन - दक्षिणायन*


⛅ *ऋतु - हेमंत*


⛅ *मास - कार्तिक (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - अश्विन)*


⛅ *पक्ष - कृष्ण* 


⛅ *तिथि - षष्ठी पूर्ण रात्रि तक*


⛅ *नक्षत्र - आर्द्रा सुबह 06:45 तक तत्पश्चात पुनर्वसु*


⛅ *योग - सिद्ध सुबह 06:53 तक तत्पश्चात साध्य*


⛅ *राहुकाल - सुबह 10:58 से दोपहर 12:22 तक*


⛅ *सूर्योदय - 06:44* 


⛅ *सूर्यास्त - 18:00* 


⛅ *दिशाशूल - पश्चिम दिशा में*


⛅ *व्रत पर्व विवरण - षष्ठी वृद्धि तिथि*


 💥 *विशेष - षष्ठी को नीम की पत्ती, फल या दातुन मुँह में डालने से नीच योनियों की प्राप्ति होती है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*


               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞दाम्पत्य जीवन की अनचाही परेशानियों को दूर रखने के लिए....


 


कार्तिक मास के दौरान तुलसी जी के पौधे के चारों ओर चार केले के पत्तों से सुंदर मंडप बनाएं। तुलसी जी को लाल चुनरी चढ़ाएं | साथ ही सुहाग का सामान जैसे - चूड़ी, बिंदी, आलता, सिंदूर, बिछिया आदि चढ़ाये। फिर जल, घी का दीपक जलाएं अक्षत, रोली और द्रव्य से विष्णु जी की पूजा करें और बताशे  का भोग लगाएं। आपके दाम्पत्य जीवन में  सुख रहेगा। 


कार्तिक मास के दौरान सुबह स्नान से निवृत्त होकर, साफ कपड़े पहनकर, तुलसी के पौधे के नीचे घी का दीपक जलाएं और 'ऊँ नमो भगवते नारायणाय’ बोलते हुए 5 बार तुलसी के पौधे को प्रणाम करें। ऐसा करने से आपका स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा। साथ ही तुलसी के आस-पास के क्षेत्र को साफ-सुथरा रखें। ऐसा करने से जीवनसाथी के साथ संबंध अच्छे बने रहेंगे और जीवनसाथी का व्यवहार आपके प्रति नरम होगा


संतान के दीर्घायु और खुशहाल जीवन का व्रत अहोई अष्टमी हर वर्ष कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को होता है। अखंड सौभाग्य के व्रत करवा चौथ के बाद 3 या 4 दिन बाद और दिवाली से 6 या 7 दिन पूर्व अहोई अष्टमी का व्रत होता है। इस वर्ष अहोई अष्टमी का व्रत 08 नवंबर दिन रविवार को है। इस दिन माताएं अपनी संतान की खुशहाल और सुखी जीवन के लिए व्रत रखती हैं। यह व्रत मुख्यत: सूर्योदय से लेकर सूयोस्त के बाद तक होता है। शाम के समय में आकाश में तारों को देखकर व्रत का पारण किया जाता है। कुछ स्थानों पर माताएं चंद्रमा दर्शन के बाद पारण करती हैं।


अहोई अष्टमी 2020 की तिथि


 


इस वर्ष कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि का प्रारंभ 08 नवंबर को सुबह 07 बजकर 29 मिनट से हो रहा है। इस तिथि का समापन 09 नवंबर को सुबह 06 बजकर 50 मिनट पर होगा। ऐसे में अहोई अष्टमी का व्रत 8 नवंबर को रखा जाएगा


🌷 *पटाखों से जलने पर* 🌷


🎆 *पटाखों से जलने पर जले हुए स्थान पर कच्चे आलू के पतले पतले चिप्स काट कर रख दें या आलू का रस लगा दें । और कुछ ना लगाये । इससे १-२ घंटे में आराम हो जायेगा ।*


           🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


 


🌷 *राहु मंत्र* 🌷


🙏🏻 *राहुदेवता का मंत्र है ..*


🌷 *ॐ राहवे नम: | ॐ राहवे नम: |*


🙏🏻 *अर्धकाय महावीर्यं, चंद्रादित्य विमर्दनं |*


*सिंहिका गर्भसंभूतं ,तं राहूं प्रणमाम्यहं ||*


               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


 


🌷 *शास्त्रों के अनुसार* 🌷


 🔵 *दीपावली के दिनों में न करें ये 7 काम*


🙏🏻 *दीपावली के दिनों में देवी लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए कई प्रकार के उपाय किए जाते है, पूजा की जाती है, लेकिन इन उपायों के साथ ही कुछ सावधानियां भी रखनी जरूरी हैं। शास्त्रों में बताया गया है कि दीपावली के दिनों में हमें कौन-कौन काम नहीं करना चाहिए। यदि वर्जित किए गए काम दीपावली पर किए जाते हैं तो कई उपाय करने के बाद भी लक्ष्मी कृपा प्राप्त नहीं हो पाती है।*


🔵 *यहां जानिए दीपोत्सव में कौन-कौन से काम न करें...*


❌ *सुबह देर तक नहीं सोना चाहिए*


*वैसे तो हर रोज सुबह जल्दी उठ जाना चाहिए, लेकिन काफी लोग ऐसे हैं जो सुबह देर से ही उठते हैं। शास्त्रों के अनुसार दीपावली के दिनों में ब्रह्म मुहूर्त में ही उठ जाना चाहिए। जो लोग इन दिनों में सूर्योदय के बाद तक सोते रहते हैं, उन्हें महालक्ष्मी की कृपा प्राप्त नहीं हो पाती है।*


❌ *माता-पिता और बुजुर्गों का अपमान न करें*


*दीपावली पर इस बात का विशेष ध्यान रखें कि किसी भी परिस्थिति में कोई अधार्मिक काम न हो। माता-पिता एवं बुजुर्गों का सम्मान करें। जो लोग माता-पिता का अनादर करते हैं, उनके यहां देवी-देवताओं की कृपा नहीं होती है और दरिद्रता बनी रहती है। किसी को धोखा ना दें। झूठ न बोलें। सभी से प्रेम पूर्वक व्यवहार करें।*


❌ *घर में गंदगी न रखें*


*दीपावली पर घर में गंदगी नहीं होना चाहिए। घर का कोना-कोना एकदम साफ एवं स्वच्छ होना चाहिए। किसी भी प्रकार की बदबू घर में या घर के आसपास नहीं होनी चाहिए। सफाई के साथ ही घर को महकाने के लिए सुगंधित पदार्थों का उपयोग किया जा सकता है।*


❌ *क्रोध न करें*


*दीपावली पर क्रोध नहीं करना चाहिए और जोर चिल्लाना भी अशुभ रहता है। जो लोग इन दिनों क्रोध करते हैं या जोर से चिल्लाते हैं, उन्हें लक्ष्मी की कृपा प्राप्त नहीं हो पाती है। घर में शांत, सुखद एवं पवित्र वातावरण बनाए रखना चाहिए। लक्ष्मी ऐसे घरों में निवास करती हैं जहां शांति रहती है।*


❌ *शाम के समय न सोएं*


*कुछ विशेष परिस्थितियों को छोड़कर दिन में या शाम के समय सोना नहीं चाहिए। यदि कोई व्यक्ति बीमार है, वृद्ध है या कोई स्त्री गर्भवती है तो वह दिन में या शाम को सो सकती हैं, लेकिन स्वस्थ व्यक्ति को दिन में या शाम को सोना नहीं चाहिए। शास्त्रों के अनुसार जो लोग ऐसे समय में सोते हैं, वे निर्धन बने रहते हैं।*


❌ *वाद-विवाद न करें*


*इन दिनों में इस बात का भी ध्यान रखें कि घर में किसी भी प्रकार का कलह या झगड़ा नहीं होना चाहिए। घर-परिवार के सभी सदस्य प्रेम से रहें और खुशी का माहौल बनाकर रखें। जिन घरों में झगड़ा या कलह होता है, वहां देवी की कृपा नहीं होती है। घर के साथ ही बाहर भी इस बात का ध्यान रखें कि किसी से वाद-विवाद या झगड़ा ना करें।*


❌ *नशा न करें*


*शास्त्रों के अनुसार इन दिनों में किसी भी प्रकार का नशा करना वर्जित किया गया है। जो लोग दीपावली के दिन नशा करते हैं, वे हमेशा दरिद्र रहते हैं। नशे की हालत में घर की शांति भंग हो सकती है और सभी सदस्यों को मानसिक तनाव का सामना करना पड़ता है। इससे बचना चाहिए। अन्यथा वाद-विवाद हो सकते हैं और लक्ष्मी पूजा भी ठीक से नहीं हो पाती है।*


🌸🙏🏻


पंचक


 


21 नवंबर रात्रि 10.24 से 26 नवंबर रात्रि 9.20 बजे तक


 


19 दिसंबर प्रातः 7.16 से 23 दिसंबर तड़के 4.32 बजे तक


 


 


एकादशी


 


रमा एकादशी- 11 नवंबर दिन बुधवार


 


 देवुत्थान एकादशी- 25 नवंबर दिन बुधवार


 


उत्पन्ना एकादशी- 11 दिसंबर दिन शुक्रवार


 


मोक्षदा एकादशी- 25 दिसंबर दिन शुक्रवार


 


प्रदोष


 


शुक्रवार, 13 नवंबर - प्रदोष व्रत (कृष्ण)


 


शुक्रवार, 27 नवंबर - प्रदोष व्रत (शुक्ल)


 


शनिवार, 12 दिसंबर - शनि प्रदोष व्रत (कृष्ण)


 


रविवार, 27 दिसंबर - प्रदोष व्रत (शुक्ल)


 


 


अमावस्या


 


रविवार, 15 नवंबर कार्तिक अमावस्या


सोमवार, 14 दिसंबर मार्गशीर्ष अमावस्या


 


पूर्णिमा


सोमवार, 30 नवंबर कार्तिक पूर्णिमा व्रत


बुधवार, 30 दिसंबर मार्गशीर्ष पूर्णिमा व्रत


 


मेष 


आज का दिन आपको खुशी देने वाला होगा। परिवार वालों के प्रति सहानुभूति और प्रेम की भावना बढ़ेगी। माता से सुख मिलेगा और परिवार में ज्यादा समय लगाएंगे। आपके ऑफिस में आपको किसी काम से बाहर भेजा जा सकता है, जिसमें आपकी इच्छा नहीं होगी, फिर भी मन मार कर आपको यह काम करना पड़ सकता है। दोस्त आपका साथ देगे और उनके साथ आज की शाम बताएंगे, जिससे मन खुश हो जाएगा। स्वास्थ्य थोड़ा कमजोर रहेगा और अधिक प्रयासों के बाद सफलता प्राप्त होगी। मेहनत करने से पीछे ना हटें।


वृष 


आज आप काफी व्यस्त रहने वाले हैं। आज का दिन किसी यात्रा पर जाने के लिए शुभ रहेगा। आज की गई यात्रा आपको सुख देगी। परिवार के लोगों का सहयोग आपके मन को जीत लेगा। हालांकि दांपत्य जीवन में तनाव रहेगा, जिससे जीवन साथी आपसे कुछ उखड़ा हुआ रह सकता है। यदि आप किसी से प्रेम करते हैं, तो आज उनके संबंधों पर असर पड़ सकता है। पिताजी का स्वास्थ्य कमजोर रहेगा। कार्य क्षेत्र में आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे, जो आप की मेहनत का नतीजा होंगे। आत्मविश्वास बनाए रखें, लेकिन अहंकारी होने से बचें।


मिथुन 


आज आपके मन में हर्ष की प्रबल भावना रहेगी क्योंकि आज आपको धन प्राप्ति होगी और अपनों का सहयोग मिलेगा, जिससे हर काम में सफलता मिलेगी। भाग्य का सितारा प्रबल रहेगा। आपकी इनकम बढ़ेगी, लेकिन विरोधियों से कुछ समस्या हो सकती है और उनके ऊपर कुछ खर्च भी करना पड़ेगा। प्रेम संबंधों के लिए दिन अनुकूल रहेगा, लेकिन दांपत्य जीवन में तनाव रह सकता है। उस तनाव को दूर करने के लिए जीवनसाथी को कहीं बाहर लेकर जाये और उनसे स्पष्ट रूप से बातचीत करें और तनाव को दूर करने की कोशिश करें।


कर्क 


आज का दिन मानसिक रूप से चिंता ग्रस्त बन सकता है, लेकिन यदि आप प्रयास करेंगे, तो काम में सफलता मिलेगी। विरोधियों से समस्या हो सकती है, लेकिन दांपत्य जीवन में स्थितियां सुधरेंगी और आपके जीवन साथी से आपको कोई नई बात जानने को मिल सकती है। कार्यक्षेत्र में मन कम लगेगा और संतान के प्रति ज्यादा सोच विचार करेंगे। प्रेम जीवन के लिए दिन सामान्य रहेगा। 


सिंह 


आज किसी बात को लेकर चिंताग्रस्त रह सकते हैं और आपकी सेहत भी कमजोर पड़ सकती है। सर्दी खांसी की शिकायत आपको परेशान कर सकती है। खर्चों में बढ़ोतरी होगी। आप किसी दूर की यात्रा पर जा सकते हैं, लेकिन दांपत्य जीवन में खुशियां मिलेंगी। जीवन साथी से प्रेम बढ़ेगा। इस राशि के लोगों को प्रेम जीवन में निराशा का सामना करना पड़ सकता है। संपत्ति से संबंधित मामलों में आज का दिन फायदेमंद रहेगा।


कन्या 


आज का दिन खुशी देने वाला साबित होगा। आपकी इनकम बढ़ेगी, जिससे आपको खुशी मिलेगी। ऑफिस में बॉस की अनुकृपा रहेगी और वह आपसे खुश रहेंगे, जिससे आपका दिन बेहतर हो जाएगा। पारिवारिक जीवन में कुछ तनाव रह सकता है। आपके अंदर चुनौतियों से लड़ने का मुदा होगा और भाग्य को अपने हक में मोड़ पाएंगे। विरोधियों के प्रति आप सतर्कता से खड़े रहेंगे, जिससे आपको उन पर जीत मिलेगी। प्रेम संबंधों के लिए आज का दिन बेहद सामान्य रहेगा और जैसे आप अभी तक चल रहे हैं, ऐसे ही प्रेम पूर्वक अपने रिश्ते को आगे बढ़ाएंगे।


तुला 


आज आप अपने काम में काफी बिजी रहेंगे और आप मन लगाकर अपना काम करेंगे, जिससे काम में सफलता मिलेगी। केवल इतना ही नहीं परिवार में भी आपको सुख मिलेगा। माता-पिता के आशीर्वाद से आपके काम बनेंगे। लोगों से बातचीत करते समय अपने शब्दों पर ध्यान दें। यात्रा पर जाने की संभावना हो, तो उसे टाल दें, तो बेहतर होगा। प्रेम जीवन में सफलता मिलेगी और आपका प्रिय आपके गुण गाएगा। सेहत में सुधार होने से राहत मिलेगी।


वृश्चिक 


आज आप मजबूत दिखेंगे क्योंकि भाग्य आपके पक्ष में रहेगा। यही वजह है कि आज लगभग हर काम में आपको सफलता मिलेगी। आपका मान-सम्मान बढ़ेगा। आपको परिवार के लोगों का सहयोग मिलेगा और परिवार में खुशी की लहर दौड़गी, जिससे आप भी खुश होंगे। आज सुख-सुविधाओं में ज्यादा मन लगाएंगे। किसी से प्यार करते हैं, तो आज प्रपोज करे, तो सफलता मिलेगी। दांपत्य जीवन में तनाव के बावजूद खुशी का एहसास होगा। कार्यक्षेत्र में आपको सजग रहना होगा। कुछ विरोधी आपको परेशान करने की कोशिश कर सकते हैं।


धनु 


आज चिंताएं आपके दिमाग में घर कर सकती हैं और आपका मानसिक तनाव बढ़ेगा तथा स्वास्थ्य भी कमजोर हो सकता है। जल संबंधित परेशानी आपको कष्ट देंगी। पीने का पानी स्वच्छ हो, तो बेहतर रहेगा, नहीं तो दिक्कतें बढ़ सकती हैं। अनचाही यात्रा पर जाने से खर्चे बढ़ेंगे। विरोधी प्रबल होंगे। हालांकि आपको आपके ऑफिस में बेहतर नतीजे मिलेंगे और आपके सहकर्मी भी आपके सहयोगी बनेंगे। प्रेम जीवन में दिनमान कमजोर रहेगा। शादीशुदा जातकों का दांपत्य जीवन कुछ नीरस लग सकता है।


मकर 


आप दिन को खुशी खुशी बताएंगे और जीवनसाथी से प्रेम बढ़ेगा और वह भी आपके बारे में भी ध्यान करेंगे, जिससे आपका बॉन्ड मजबूत होगा। आमदनी आप की बढ़ती रहेगी, जिससे आपके विरोधी भी कमजोर पड़ेंगे और आपको समाज में अच्छा स्थान मिलेगा। आप अपने प्रिय के साथ जीवन के नए विषयों की चर्चा करेंगे और रिश्ते में आगे बढ़ना पसंद करेंगे। पारिवारिक जीवन भी खुशनुमा रहेगा और आपको प्रॉपर्टी से अच्छा लाभ होगा। आप जो काम करते हैं उसमें सफलता मिलेगी। किसी को पैसा उधार ना दें।


कुंभ 


खर्च में बढ़ोतरी होगी। आपको कार्य में सफलता तभी मिलेगी। जब आप मेहनत ज्यादा करेंगे। कभी कठोर परिश्रम से ही सफलता मिलने के योग बन रहे हैं। हालांकि जैसे जैसे दिन आगे बढ़ेगा। आपकी इनकम भी बढ़ेगी।पारिवारिक जीवन खुशनुमा रहेगा और परिवार वालों का साथ आपको मानसिक सुकून देगा। प्रेम जीवन में आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे और अपने प्रिया के साथ कहीं घूमने फिरने की योजना बन सकती हैं। कार्य क्षेत्र में स्थिति आपके पक्ष में रहेंगी, जिससे काम बनेंगे।


Meen


आज आप अंदर से खुश नजर आएंगे। प्रेम संबंधों में बेहतर परिणाम मिलेंगे और आपका प्रिय आपके प्रति मन से समर्पित होगा और आपको प्यार जताएगा, जिससे आप फूले नहीं समाएंगे। भाग्य का भी आज सितारा बुलंदियों पर होगा, जिससे आपको कामों में सफलता मिलेगी। कार्यक्षेत्र में कुछ समस्याएं चली आ रही थी, तो उनसे मुक्ति मिलेगी और पारिवारिक जीवन में व्यस्तता के चलते आपको कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। सुख सुविधाओं पर अधिक ध्यान देंगे, जिससे खर्चे होगे, लेकिन यह खर्चे आपको चुभेंगे नहीं।


 


जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं


 


दिनांक 6 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 6 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति आकर्षक, विनोदी, कलाप्रेमी होते हैं। आपमें गजब का आत्मविश्वास है। इसी आत्मविश्वास के कारण आप किसी भी परिस्थिति में डगमगाते नहीं है। आपको सुगंध का शौक होगा। आप अपनी महत्वाकांक्षा के प्रति गंभीर होते हैं।


 


6 मूलांक शुक्र ग्रह द्वारा संचालित होता है। अत: शुक्र से प्रभावित बुराई भी आपमें पाई जा सकती है। जैसे स्त्री जाति के प्रति आपमें सहज झुकाव होगा। अगर आप स्त्री हैं तो पुरूषों के प्रति आपकी दिलचस्पी होगी। लेकिन आप दिल के बुरे नहीं है।  


 


 


 


शुभ दिनांक : 6, 15, 24 


 


शुभ अंक : 6, 15, 24, 33, 42, 51, 69, 78


 


  


शुभ वर्ष : 2022, 2026   


 


ईष्टदेव : मां सरस्वती, महालक्ष्मी


 


शुभ रंग : क्रीम, सफेद, लाल, बैंगनी   


 


कैसा रहेगा यह वर्ष


जो विद्यार्थी सीए की परीक्षा देंगे उनके लिए शुभ रहेगा। व्यापार-व्यवसाय में भी सफलता रहेगी। विवाह के योग भी बनेंगे। स्त्री पक्ष का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी। नौकरीपेशा व्यक्ति अपने परिश्रम के बल पर उन्नति के हकदार होंगे। बैक परीक्षाओं में भी सफलता अर्जित करेंगे। दाम्पत्य जीवन में मिली जुली स्थिति रहेगी। आर्थिक मामलों में सभंलकर चलना


Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा