शुक्रवार, 23 अक्तूबर 2020

सहारनपुर में हाईवे निर्माण के लिए शिवालिक पहाड़ियों के 5000 पेड़ों की दी जाएगी बलि

सहारनपुर। दिल्ली देहरादून फोरलेन नेशनल हाइवे में शिवालिक वन प्रभाग के 5 हज़ार से ज्यादा पेड़ काटे जाएंगे। गणेशपुर  से डाट काली मंदिर तक शिवालिक जंगल के 5,297 पेड़ हाइवे के दायरे में आ रहे हैं।


वन विभाग और एनएचएआई के अधिकारियों के संयुक्त सर्वे में हाइवे के दायरे में आने वाले पेड़ो के सर्वे व चिन्हीकरण का काम पूरा कर लिया गया हैं। दरअसल फोरलेन के लिए हाइवे का चौड़ीकरण होना है जिससे किनारे के हज़ारों पेड़ो को काटा जाना प्रस्तावित हैं। दोनों विभागों के संयुक्त सर्वे में किनारे में 5, 297 पेड़ काटे जाने हैं। पेड़ कटाई का काम वन निगम करेगा वहीं, इन पेड़ों के कटान की एवज में एनएचएआई को वन विभाग के माध्यम से इसके 10 गुणा पेड़ लगाने होंगे। यह 10 गुणा पेड़ कहां लगेंगे, इसके लिए विभाग अपनी रिपोर्ट तैयार कर रहा हैं। वह विभाग के अफसरों के अनुसार, जो पेड़ काटे जाने हैं उनमें शीशम, साल, सागौन, यूकेलिप्टस, खैर, ढाक, बकैण, बेहड़ा, बरगद, पीपल, कंजी, कंजू, सीरस, लिसोड़ा, हल्दू, रोहनियां व चीड़ आदि के पेड़ शामिल हैं। इनमें नए व पुराने सभी तरह के पेड़ शामिल हैं।


कोई टिप्पणी नहीं:

Featured Post

*'जो रह गए, उन्हें भविष्य में मिलेगा सभी योजनाओं का लाभ':मीनाक्षी स्वरूप*

  मुज़फ्फरनगर। वार्ड 41 आदर्श कॉलोनी में आयोजित विकसित भारत संकल्प यात्रा में नगर पालिका अध्यक्षा मीनाक्षी स्वरूप ने बताया कि गांव के गरीब से...