Wednesday, October 13, 2021

राकेश टिकैत के इस बयान से भाजपा में मची खलबली

 गाजीपुर । भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत ने कहा कि दशहरे पर किसान रावण के बजाय भाजपा नेताओं का पुतला दहन करेंगे। 

राकेश टिकैत ने भाजपा पर किसानों के दमन का आरोप लगाते हुए कहा कि लखीमपुर कांड को लेकर लखनऊ में 26 अक्टूबर को कार्यक्रम है। जिसमें आंदोलन की रणनीति तय की जाएगी। लखीमपुर काण्ड में मारे गए किसानों के परिजन पोस्टमार्टम रिपोर्ट से संतुष्ट न होने की बात पर 


टिकैत ने कहा कि लखनऊ से गए डाक्टरों की रिपोर्ट उन्हें मान्य है। अगर वह नहीं मानते तो तीसरा पोस्टमार्टम होता। कांग्रेस द्वारा लखीमपुर काण्ड को हाईजैक करने पर उन्होंने कहा कि सभी को जाने की छूट है। हम लाशों की राजनीति नहीं करते हैं। 

उन्होने कहा कि कृषि कानून पर स्टे का कोई मतलब नहीं है, वापस लेने की मांग है। उन्होंने कहा कि देख रहे हैं कि क्या हालात है। किसानों का धान 12 सौ रुपए में बिक रहा है। दिनदहाड़े किसानों को लूटा जा रहा है। उन्हें तो बड़े व्यापारी और उद्यमियों को फायदा पहुंचाना ही है। हम तो सिर्फ इतनी बात कह रहे हैं कि एमएसपी से नीचे किसानों का उत्पाद न खरीदा जाए। एक साल से चल रहे आंदोलन को लेकर राष्ट्रीय प्रवक्ता बोले कि तब तक चलता रहेगा जब तक भारत सरकार बात करके कानून वापस नहीं लेगी। उन्होंने कहा कि किसान क्या मांग रहा कि एमएसपी गारंटी कानून दे दो।

No comments: