Thursday, September 23, 2021

सऊदी में सिनेमाघर खोलने का भारतीय उलेमाओं ने किया विरोध

 


बरेली। सऊदी हुकूमत की तरफ से मदीना शरीफ में सिनेमाघर खोलने के मुद्दे पर तंजीम उलमा-ए-इस्लाम ने अपना विरोध जताया है। बरेलवी मसलक से जुड़े उलेमा का कहना है कि सिनेमाघरों को फौरन बंद नहीं किया तो दुनिया भर के तमाम सुन्नी मुसलमान सऊदी हुकूमत के खिलाफ विरोध करेंगे।

तंजीम के महासचिव मौलाना शहाबुद्दीन रज़वी ने कहा कि हम सऊदी हुकूमत को मक्का, मदीना के पाकीजा जगह पर सिनेमा घर खोलने की इजाजत नहीं देंगे। दुनिया भर के मुसलमानों की आस्था मक्का और मदीना शरीफ से जुड़ी हुई है। सऊदी हुकूमत के लिए जरूरी है कि आलीमे इस्लाम के जज़्बात का ख्याल रखें। खानकाहे कादरीया रहमानिया के गद्दीनशीन मौलाना सूफ़ी अब्दूर्ररहमान कादरी ने कहा कि इस्लाम में कुरान व हदीस ने मुस्लिम समाज को बुराईयों से बचाने का फरमान जारी किया है। गाना बजाना तमाशा और बुरी चीजों को सऊदी हुकूमत खत्म करने के बजाये बढ़ावा दे रहीं हैं। खानकाहे जहांगिरीया के गद्दीनशीन सूफ़ी पीर मुहम्मद हनीफ लियाक़ती ने कहा कि सऊदी हुकूमत आये दिन ऐसे कार्यों को बढ़ावा दे रहा है जो इस्लामी उसूलों के खिलाफ है।

No comments: