Monday, September 20, 2021

मुजफ्फरनगर को कश्मीर बनने से बचा लिया


मुजफ्फरनगर । भाजपा के शहर सीट से विधायक और कौशल विकास राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार कपिलदेव अग्रवाल ने कहा कि भाजपा सरकार ने मुजफ्फरनगर को कश्मीर बनने से बचा लिया।  वर्तमान सरकार में पलायन रुका है और शहर से गांव तक बिजली मिली है। पिछली सरकार के समय जो इंडस्ट्रीज बंद हो गई थी या जिले से पलायन कर गई थी वह अब फिर से वापस लौट आई हैं। पिछली सरकार के दौरान मुजफ्फरनगर कश्मीर बनने जा रहा था। भाजपा सरकार आने के बाद पलायन रुका और अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की गई। सरकार के कार्यकाल से उद्यमी, व्यापारी, छोटा कारोबारी और किसान हर वर्ग खुश है।

महावीर चौक पर अर्पण वैंक्वेट हॉल में आयोजित पत्रकार वार्ता में कपिलदेव अग्रवाल ने कहा कि शहर विधानसभा क्षेत्र में ही काली नदी पर दो पुल, पर्दाफाश मोती झील पर पुल समेत कुल चार पुल बने हैं। मुजफ्फरनगर से शुकतीर्थ तक सड़क चौडीकरण हुआ तो मुजफ्फरनगर से जौली रोड पर भंडूर तक सडक निर्माण हुआ। आगे भी यह निर्माण हो रहा है। मुजफ्फरनगर शहर के चारो ओर अब रिंगरोड हो गई है। यह अकेला शहर है जिसके चारोओर रिंगरोड है। उन्होंने कहा कि बधाईकलां में बिजलीघर और आईटीआई का निर्माण शहर विधानसभा के कोटे से ही हुआ है।राज्य मंत्री 

कपिलदेव अग्रवाल ने कहा कि पार्को का सौंदर्यीकरण हुआ और सडकों को गड्ढामुक्त किया गया। बेघरों को घर दिए जा रहे हैं। शहर में 500 सीटों वाला आडिटोरियम/सभाकक्ष बनने के बाद कार्यक्रम कराना और अधिक सुविधाजनक हो जाएगा। उन्होंने कहा कि योगी सरकार के समय शहर में ना तो कहीं तनाव हुआ और ना ही कहीं दंगा। अपराधी डरे हुए हैं और आम आदमी बेखौफ है। मुजफ्फरनगर को महापालिका बनाने का प्रस्ताव विचाराधीन है।

इस मौके पर मंडल अध्यक्ष राजेश पराशर, सचिन सिंघल, अचिंत मित्तल, कुश पुरी, सुरेंद्र अग्रवाल, सुधीर खटीक, संजय गर्ग व तमाम पदाधिकारी मौजूद थे।

No comments: