Friday, September 10, 2021

गणेश चतुर्थी विशेष : आज का पंचांग एवँ राशिफल 10 सितंबर 2021

 


 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞

⛅ *दिनांक 10 सितम्बर 2021*

⛅ *दिन - शुक्रवार*

⛅ *विक्रम संवत - 2078 (गुजरात - 2077)*

⛅ *शक संवत - 1943*

⛅ *अयन - दक्षिणायन*

⛅ *ऋतु - शरद* 

⛅ *मास-भाद्रपद*

⛅ *पक्ष - शुक्ल* 

⛅ *तिथि - चतुर्थी रात्रि 09:57 तक तत्पश्चात पंचमी*

⛅ *नक्षत्र - चित्रा दोपहर 12:58 तक तत्पश्चात स्वाती*

⛅ *योग - ब्रह्म शाम 05:43 तक तत्पश्चात इंद्र*

⛅ *राहुकाल - सुबह 11:03 से दोपहर 12:35 तक*

⛅ *सूर्योदय - 06:25* 

⛅ *सूर्यास्त - 18:45*

⛅ *दिशाशूल - पश्चिम दिशा में*

⛅ *व्रत पर्व विवरण - विनायक चतुर्थी, गणेश चतुर्थी, चंद्र- दर्शन निषिद्ध (चंद्रास्त रात्रि 9:20), गणेश महोत्सव प्रारंभ, संवत्सरी पर्व- चतुर्थी पक्ष (जैन)* 

 💥 *विशेष - चतुर्थी को मूली खाने से धन का नाश होता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


 🌷 *गणेश चतुर्थी* 🌷

🙏🏻 *10 सितम्बर, शुक्रवार को भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि है। धर्म ग्रंथों के अनुसार, इसी दिन भगवान श्रीगणेश का प्राकट्य माना जाता है। इस दिन भगवान श्रीगणेश को प्रसन्न करने के लिए व्रत व पूजन किया जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इस दिन कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो भगवान श्रीगणेश अपने भक्तों पर प्रसन्न होकर उनकी हर मनोकामना पूरी करते हैं। अगर आप भी इस विशेष अवसर का लाभ उठाना चाहते हैं तो ये उपाय विधि-विधान पूर्वक करें-*

➡ *जो चाहिए वो मिलेगा गणेशजी के इन उपायों में से , कोई भी 1 करें*

🙏🏻 *1. शास्त्रों में भगवान श्रीगणेश का अभिषेक करने का विधान बताया गया है। गणेश चतुर्थी पर भगवान श्रीगणेश का अभिषेक करने से विशेष लाभ होता है। इस दिन आप शुद्ध पानी से श्रीगणेश का अभिषेक करें। साथ में गणपति अथर्व शीर्ष का पाठ भी करें। बाद में मावे के लड्डुओं का भोग लगाकर भक्तों में बांट दें।*

🙏🏻 *2. ज्योति शास्त्र के अनुसार, गणेश यंत्र बहुत ही चमत्कारी यंत्र है। गणेश चतुर्थी पर घर में इसकी स्थापना करें। इस यंत्र की स्थापना व पूजन से बहुत लाभ होता है। इस यंत्र के घर में रहने से किसी भी प्रकार की बुरी शक्ति घर में प्रवेश नहीं करती।*

🙏🏻 *3. अगर आपके जीवन में बहुत परेशानियां हैं, तो आप गणेश चतुर्थी को हाथी को हरा चारा खिलाएं और गणेश मंदिर जाकर अपनी परेशानियों का निदान करने के लिए प्रार्थना करें। इससे आपके जीवन की परेशानियां कुछ ही दिनों में दूर हो सकती हैं।*

🙏🏻 *4. अगर आपको धन की इच्छा है, तो इसके लिए आप गणेश चतुर्थी को सुबह स्नान आदि करने के बाद भगवान श्रीगणेश को शुद्ध घी और गुड़ का भोग लगाएं। थोड़ी देर बाद घी व गुड़ गाय को खिला दें। ये उपाय करने से धन संबंधी समस्या का निदान हो सकता है।*

🙏🏻 *5. गणेश चतुर्थी पर सुबह स्नान आदि करने के बाद समीप स्थित किसी गणेश मंदिर जाएं और भगवान श्रीगणेश को 21 गुड़ की गोलियां बनाकर दूर्वा के साथ चढ़ाएं। इस उपाय से भगवान आपकी हर मनोकामना पूरी कर सकते हैं ।*

🙏🏻 *6. गणेश चतुर्थी पर पीले रंग की गणेश प्रतिमा अपने घर में स्थापित कर पूजा करें। पूजन में श्रीगणेश को हल्दी की पांच गठान श्री गणाधिपतये नम: मंत्र का उच्चारण करते हुए चढ़ाएं। इसके बाद 108 दूर्वा पर गीली हल्दी लगाकर श्री गजवकत्रम नमो नम: का जप करके चढ़ाएं। यह उपाय लगातार 10 दिन तक करने से प्रमोशन होने की संभावनाएं बढ़ सकती हैं।*

🙏🏻 *7. गणेश चतुर्थी पर किसी गणेश मंदिर में जाएं और दर्शन करने के बाद अपनी इच्छा के अनुसार गरीबों को दान करें। कपड़े, भोजन, फल, अनाज आदि दान कर सकते हैं। दान के बाद दक्षिणा यानी कुछ रुपए भी दें। दान से पुण्य की प्राप्ति होती है और भगवान श्रीगणेश भी अपने भक्तों पर प्रसन्न होते हैं।*

🙏🏻 *8. यदि बेटी का विवाह नहीं हो पा रहा है, तो गणेश चतुर्थी पर विवाह की कामना से भगवान श्रीगणेश को मालपुए का भोग लगाएं व व्रत रखें। शीघ्र ही उसके विवाह के योग बन सकते हैं।*

🙏🏻 *9. गणेश चतुर्थी को दूर्वा (एक प्रकार की घास) के गणेश बनाकर उनकी पूजा करें। मोदक, गुड़, फल, मावा-मिष्ठान आदि अर्पण करें। ऐसा करने से भगवान गणेश सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं।*

🙏🏻 *10. यदि लड़के के विवाह में परेशानियां आ रही हैं, तो वह गणेश चतुर्थी पर भगवान श्रीगणेश को पीले रंग की मिठाई का भोग लगाएं। इससे उसके विवाह के योग बन सकते हैं।*

🙏🏻 *11. गणेश चतुर्थी पर व्रत रखें। शाम के समय घर में ही गणपति अर्थवशीर्ष का पाठ करें। इसके बाद भगवान श्रीगणेश को तिल से बने लड्डुओं का भोग लगाएं। इसी प्रसाद से अपना व्रत खोलें और भगवान श्रीगणेश से मनोकामना पूर्ति के लिए प्रार्थना करें।*

         🌞 ~ *हिन्दू पंचांग* ~ 🌞


🌷 *गणेश चतुर्थी* 🌷

🙏🏻 *गणेशजी का जन्म भाद्रपद मास के शुक्लपक्ष की चतुर्थी को मध्याह्न में हुआ था। उस समय सोमवार का दिन, स्वाति नक्षत्र, सिंह लग्न और अभिजीत मुहूर्त था। गणेशजी के जन्म के समय सभी शुभग्रह कुंडली में पंचग्रही योग बनाए हुए थे।*

👉🏻 *इस वर्ष यह त्यौहार 10 सितम्बर 2021 शुक्रवार को मनाया जाएगा।*

👉🏻 *स्वाति नक्षत्र दोपहर 12:59 से अगले दिन तक*

👉🏻 *अभिजीत मुहूर्त सुबह 11:52 से दोपहर 12:42 तक रहेगा।*

💥 *मध्याह्न गणेश पूजा का समय = सुबह 11:21 से दोपहर 01:50 तक*

➡ *वैसे तो भविष्य पुराण में सुमन्तु मुनि का कथन है*

*“न तिथिर्न च नक्षत्रं नोपवासो विधीयते । यथेष्टं चेष्टतः सिद्धिः सदा भवति कामिका।।”*

🙏🏻 *“भगवान गणेशजी की आराधना में किसी तिथि, नक्षत्र या उपवासादि की अपेक्षा नहीं होती। जिस किसी भी दिन श्रद्धा-भक्तिपूर्वक भगवान गणेशजी की पूजा की जाय तो वह अभीष्ट फलों को देनेवाली होती है।” फिर भी गणेशजी के जन्मदिन पर की जानेवाली उनकी पूजा का विशेष महत्व है। तभी तो भविष्यपुराण में ही सुमन्तु मुनि फिर से कहते हैं की*

*“शुक्लपक्षे चतुर्थ्यां तु विधिनानेन पूजयेत्। तस्य सिध्यति निर्विघ्नं सर्वकर्म न संशयः ।।*

*एकदन्ते जगन्नाथे गणेशे तुष्टिमागते। पितृदेवमनुष्याद्याः सर्वे तुष्यन्ति भारत ।।”*

🙏🏻 *“शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को उपवास कर जो भगवान गणेशजी का पूजन करता है, उसके सभी कार्य सिद्ध हो जाते हैं और सभी अनिष्ट दूर हो जाते हैं। श्रीगणेशजी के अनुकूल होने से सभी जगत अनुकूल हो जाता है। जिस पर एकदन्त भगवान गणपति संतुष्ट होते हैं, उसपर देवता, पितर, मनुष्य आदि सभी प्रसन्न रहते हैं।”*

➡ *अग्निपुराण के अनुसार भाद्रपद के शुक्लपक्ष की चतुर्थी को व्रत करनेवाला शिवलोक को प्राप्त करता है |*

➡ *भविष्यपुराण, ब्राह्मपर्व के अनुसार*

*मासि भाद्रपदे शुक्ला शिवा लोकेषु पूजिता । ।*

*तस्यां स्नानं तथा दानमुपवासो जपस्तथा । क्रियमाणं शतगुणं प्रसादाद्दन्तिनो नृप । ।* 

*गुडलवणघृतानां तु दानं शुभकरं स्मृतम् । गुडापूपैस्तथा वीर पुण्यं ब्राह्मणभोजनम् । ।*

*यास्तस्यां नरशार्दूल पूजयन्ति सदा स्त्रियः । गुडलवणपूपैश्च श्वश्रूं श्वसुरमेव च । ।*

*ताः सर्वाः सुभगाः स्युर्वे१ विघ्रेशस्यानुमोदनात् । कन्यका तु विशेषेण विधिनानेन पूजयेत् । ।*

🙏🏻 *भाद्रपद मास की शुक्ल चतुर्थी का नाम ‘शिवा’ है, इस दिन जो स्नान, दान उपवास, जप आदि सत्कर्म किया जाता है, वह गणपति के प्रसाद से सौ गुना हो जाता है | इस चतुर्थी को गुड़, लवण और घृत का दान करना चाहिये, यह शुभ माना गया है और गुड़ के अपूपों (मालपुआ) से ब्राह्मणों को भोजन कराना चाहिये तथा उनकी पूजा करनी चाहिये | इस दिन जो स्त्री अपने सास और ससुर को गुड़ के पुए तथा नमकीन पुए खिलाती है वह गणपति के अनुग्रह से सौभाग्यवती होती है | पति की कामना करनेवाली कन्या विशेषरूप से इस चतुर्थी का व्रत करे और गणेशजी की पूजा करें |*

➡ *गरुड़पुराण के अनुसार “सोमवारे चतुर्थ्यां च समुपोष्यार्चयेद्गणम्। जपञ्जुह्वत्स्मरन्विद्या स्वर्गं निर्वाणतां व्रजेत् ॥” सोमवार, चतुर्थी तिथिको उपवास रखकर व्रती को विधि – विधान से गणपतिदेव की पूजा कर उनका जप, हवन और स्मरण करना चाहिये | इस व्रत को करने से उसे विद्या, स्वर्ग तथा मोक्ष प्राप्त होता है |*

➡ *शिवपुराण के अनुसार “वर्षभोगप्रदा ज्ञेया कृता वै सिंहभाद्रके” जब सूर्य सिंह राशिपर स्थित हो, उस समय भाद्रपदमास की चतुर्थी को की हुई गणेशजी की पूजा एक वर्ष तक मनोवांछित भोग प्रदान करती है*

➡ *अग्निपुराण अध्याय 301 के अनुसार*

*पूजयेत्तं चतुर्थ्याञ्च विशेषेनाथ नित्यशः ।।*

*श्वेतार्कमूलेन कृतं सर्व्वाप्तिः स्यात्तिलैर्घृतैः ।*

*तण्डुलैर्दधिमध्वाज्यैः सौभाग्यं वश्यता भवेत् ।।*

🙏🏻 *गणेशजी की नित्य पूजा करें, किंतु चतुर्थी को विशेष रूप से पूजा का आयोजन करें। सफ़ेद आक की जड़ से उनकी प्रतिमा बनाकर पूजा करें। उनके लिए तिल की आहुति देने पर सम्पूर्ण मनोरथों की प्राप्ति होती है। यदि दही, मधु और घी से मिले हुए चावल से आहुति दी जाय तो सौभाग्य की सिद्धि एवंय शिवत्व की प्राप्ति होती है।*

🙏🏻 *गणेश जी को मोदक (लड्डू), दूर्वा घास तथा लाल रंग के पुष्प अति प्रिय हैं । गणेशजी अथर्वशीर्ष में कहा गया है "यो दूर्वांकुरैंर्यजति स वैश्रवणोपमो भवति" अर्थात जो दूर्वांकुर के द्वारा भगवान गणपति का पूजन करता है वह कुबेर के समान हो जाता है। "यो मोदकसहस्रेण यजति स वाञ्छित फलमवाप्रोति" अर्थात जो सहस्र (हजार) लड्डुओं (मोदकों) द्वारा पूजन करता है, वह वांछित फल को प्राप्त करता है।*

🙏🏻 *गणेश चतुर्थी पर गणेशजी को 21 लड्डू, 21 दूर्वा तथा 21 लाल पुष्प (अगर संभव हो तो गुड़हल) अर्पित करें।*

         🌞 ~ *हिन्दू पंचांग* ~ 🌞

🙏🏻🌷🌻🌹🍀🌺🌸🍁💐🙏🏻पंचक

: 18 सितंबर दोपहर 3.26 बजे से 23 सितंबर प्रात: 6.45 बजे तक

एकादशी


सितंबर 2021: एकादशी व्रत


17 सितंबर: परिवर्तिनी एकादशी


प्रदोष


सितंबर 2021: प्रदोष व्रत


18 सितंबर: शनि प्रदोष व्रत


पूर्णिमा

 20 सितंबर सोमवार भाद्रपद


अमावस्या


07 सितंबर, मंगलवार भाद्रपद अमावस्या


मेष दैनिक राशिफल (Aries Daily Horoscope)

आज आप अपने आपको रिलैक्स महसूस करेंगे व आपको आज अपनी परेशानियां बहुत कम लगेंगी, जिसके कारण आप आज प्रसन्न होगा। व्यवस्था में आज आपको लाभ भी बहुत अधिक मात्रा में होगा, लेकिन फिर भी आपके मन मे संतोष होगा और आप अपनी जरूरतें पूरी करने में सफल रहेंगे। आज आपको कठिन परिश्रम के बाद ही सफलता मिलेगी, इसलिए ज्यादातर कार्यों को कल के लिए ही टालना बेहतर होगा। नौकरी में आज आपके कुछ शत्रु आपको परेशान करने की कोशिश कर सकते हैं, लेकिन आप आज उनकी परवाह नहीं करेंगे।

वृष दैनिक राशिफल (Taurus Daily Horoscope)

आज का दिन आपके लिए थोड़ा संभल कर चलने का होगा। आज आप जल्दबाजी में किसी भी निर्णय पर ना पहुंचे। यदि आपने ऐसा किया, तो बाद में आपको पछताना पड़ सकता है। यदि आज किसी से धन के लेन-देन की बात चल रही है, तो उसे भी कुछ समय के लिए टाल दें। यदि आज आप किसी के कहे अनुसार धन का निवेश करेंगे, तो वह आपको भविष्य में लाभ दे सकता है, लेकिन कार्य व व्यवसाय में यदि आप जोर जबरदस्ती से कुछ बेचने की कोशिश करेंगे, तो आपको नुकसान दे सकता हैं। विवाह योग्य जातको के लिए उत्तम विवाह के प्रस्ताव आएंगे।

मिथुन दैनिक राशिफल (Gemini Daily Horoscope) 

आज आपके चारों ओर का वातावरण सुखद व अनुकूल रहेगा। आज आप जिस भी कार्य में हाथ डालेंगे, उसमें आपको सफलता अवश्य मिलेगी व संतान पक्ष की ओर से भी आज आपको कोई मन मुताबिक समाचार सुनने को मिल सकता है, जिसके कारण आपकी खुशी का ठिकाना नहीं रहेगा। यदि आप अपने परिवार के किसी सदस्य से कोई वाद विवाद चल रहा था, तो पहले आज सुलझ सकता है, लेकिन दोपहर के समय आज आपकी किसी ऐसे व्यक्ति से मुलाकात हो सकती है, जिसके बाद आपको थोड़ी परेशानी होगी।

कर्क दैनिक राशिफल (Cancer Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए व्यस्तता भरा रहेगा। आज आपको अपने कार्य क्षेत्र में एक के बाद एक नए कार्य से ऊपर जा सकते हैं, जिसके कारण आप व्यस्त रहेंगे और व्यस्तता के बीच आप अपने परिवार के सदस्यों के लिए समय निकालने में कामयाब रहेंगे, लेकिन आपको अपने जीवन साथी के स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहना होगा, नहीं तो उसमें कुछ गिरावट आ सकती है। घर में आज किसी मांगलिक कार्यक्रम पर चर्चा हो सकती है। भाइयों के साथ यदि आपका कोई मनमुटाव चल रहा था, तो उसमें भी आज सुधार होगा। ससुराल पक्ष से आज आपको मान सम्मान मिलता दिख रहा है।


सिंह दैनिक राशिफल (Leo Daily Horoscope) 

सामाजिक दृष्टिकोण से आज का दिन उत्तम रहेगा और यदि आपने अपने पारिवारिक बिजनेस के लिए कुछ योजनाएं बनाई हैं, तो आज उन योजनाओं आरंभ करने में सफल रहेंगे। आज आप अपने घर पर खर्च भी दिल खोल कर करेंगे। साझेदारी में यदि किसी व्यापार को चलाया हुआ है, तो आज आप उसमें किसी प्रोजेक्ट पर भी काम कर सकते हैं। नौकरी से लड़कों को जातकों को आज किसी महिला मित्र के सहयोग से धन लाभ हो सकता है। यदि आज आपका किसी से कोई वाद-विवाद हो, तो आपको उसमें पड़ने से बचना होगा।

कन्या दैनिक राशिफल (Virgo Daily Horoscope)  

आज का दिन आपके लिए मध्यम रूप से फलदायक रहेगा, लेकिन आज आपको परिश्रम अधिक करना पड़ेगा। आध्यात्म के प्रति आज आपकी रूचि बढ़ेगी। नौकरी से जुड़े जातकों को आज मन लगाकर कार्य करना होगा, यदि ऐसा नहीं किया, तो उनका कोई कार्य बिगड़ सकता है। यदि आपने व्यापार में किसी बड़ी डील को फाइनली किया था, तो वह आज आपको भरपूर लाभ दे सकती है, जिससे आपकी आर्थिक स्थिति को मजबूती मिलेगी। विद्यार्थियों को अपनी शिक्षा में धन की कमी का सामना करना पड़ सकता है।

तुला दैनिक राशिफल (Libra Daily Horoscope)

आज का दिन आपके लिए उतम रहने वाला है। भाइयों की मदद से आज आपको आय के नए स्रोत प्राप्त होंगे। नौकरी ढूंढ रहे जातकों को आज किसी प्रियजन की मदद से कोई रोजगार मिल सकता है। व्यापार में भागदौड़ अधिक होने के कारण मौसम के प्रभाव आपके स्वास्थ्य पर पड़ सकते है, जिसके कारण आपको परेशान हो सकती हैं। जीवनसाथी का सहयोग व सानिध्य में आज आपको भरपूर मात्रा में मिलता दिख रहा है। यदि आपने संतान के लिए कहीं निवेश करने का मन बनाया है, तो अवश्य करें क्योकि भविष्य में वह आपको भरपूर लाभ दे सकता है।

वृश्चिक दैनिक राशिफल (Scorpio Daily Horoscope) 

यदि आपने किसी नए व्यवसाय को किया था, तो उसमें अब आपके प्रयास हर रंग लाएंगे, जिसे देखकर आप फूले नहीं समाएंगे, लेकिन आपको अपनी खुशी का ज्यादा दिखावा नहीं करना है। यदि ऐसा किया, तो आपको आपके शत्रुओं की नजर लग सकती है। सामाजिक कार्यक्रमों से भी आज आपकी ख्याति चारों ओर फैलेगी जिसका आपको लाभ अवश्य मिलेगा। यदि आपके पिताजी को कोई रोग है, तो उनके कष्टों में आज वृद्धि हो सकती है। यदि ऐसा हो, तो डॉक्टरी परामर्श अवश्य लें।


धनु दैनिक राशिफल (Sagittarius Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए अनुकूल रहने वाला है। विद्यार्थियों को आज अपने सीनियर से कुछ सुझावों की आवश्यकता होगी। भाइयों के सहयोग से आज आपको पारिवारिक बिजनेस में मदद मिलेगी। आज आपके ससुराल पक्ष के आपको आपको कोई दुखद समाचार सुनने को मिल सकता है, जिसके कारण आपका मन परेशान होगा। अच्छे कार्य में आज आपका कुछ धन व्यय हो सकता है। आज आपको अपनी माता जी के स्वास्थ्य के प्रति भी सचेत रहने की आवश्यकता है, क्योंकि उनको आज कोई समस्या हो सकती है।


मकर दैनिक राशिफल (Capricorn Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। कार्य क्षेत्र में आज आपके सुझावों का स्वागत होगा, जिसे देखकर आपका मन प्रसन्न होगा व आपके सुझाव से आज कोई कठिन कार्य सरलता से पूरा होगा। आज आपको अपने किसी परिजन के लिए कुछ रुपयों का इंतजाम करना पड़ सकता है। रचनात्मक कार्य मे आज आपकी रुचि बढ़ेगी। धन लाभ के मामले में आज दिन उत्तम रहेगा। आज आपको अपने दिल व दिमाग दोनों की सुननी होगी तभी किसी निर्णय को ले और किसी के बहकावे में ना आए। आज आप अपने परिवार के साथ धार्मिक आयोजन में सम्मिलित हो सकते हैं।


कुंभ दैनिक राशिफल (Aquarius Daily Horoscope) 

आज यदि आपको आपके व्यापार में कोई बाधा आ रही थी, तो वह किसी परिजन किसी परिजन की मदद से दूर होगी, जिससे आप अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाने के सभी कार्य को पूरा करने में सफल रहेंगे। संतान पक्ष की ओर से आपको आज किसी मामले में निराशा हाथ लग सकती है। यदि ऐसा हो, तो परेशान ना हो, लेकिन जमीन जायदाद संबंधी आज के मामले में आपको लेनदेन से दूर रहना होगा, नहीं तो भविष्य में यह आप के लिए कोई बहुत बड़ा नुकसान करवा सकता है।


मीन दैनिक राशिफल (Pisces Daily Horoscope)

आज का दिन आपकी सुख सुविधाओं में वृद्धि का दिन रहेगा। दांपत्य जीवन में यदि कोई अवरोध चल रहा है, तो आज वह समाप्त होगा। व्यापार में प्रतिद्वंदी भी आज आपके कार्यों को बिगाड़ने की कोशिश में लगे रहेंगे, इसलिए आज आपको उनसे सावधान रहना होगा। धन के साथ आज आपकी अन्य सुख सुविधाओं में भी वृद्धि होगी, जिसे देख कर आपका और आपके परिवार के सदस्यों का मन प्रसन्न होगा। सायंकाल का समय आज आप वृद्धजनों की सेवा में व्यतीत करेंगे व पुण्य कार्य पर भी कुछ धन व्यय करेंगे, जिससे आपके यश में वृद्धि होगी।


दिनांक 10 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 1 होगा। आप राजसी प्रवृत्ति के व्यक्ति हैं। आपको अपने ऊपर किसी का शासन पसंद नहीं है। आप साहसी और जिज्ञासु हैं। आपका मूलांक सूर्य ग्रह के द्वारा संचालित होता है।

 

आप सौन्दर्यप्रेमी हैं। आपमें सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाला आपका आत्मविश्वास है। इसकी वजह से आप सहज ही महफिलों में छा जाते हैं। आप अत्यंत महत्वाकांक्षी हैं। आपकी मानसिक शक्ति प्रबल है। आपको समझ पाना बेहद मुश्किल है। आप आशावादी होने के कारण हर स्थिति का सामना करने में सक्षम होते हैं।



 

शुभ दिनांक : 1, 10, 19, 28

 

शुभ अंक : 1, 10, 19, 28, 37, 46, 55, 64, 73, 82


 

शुभ वर्ष : 2026, 2044, 2053, 2062

 

ईष्टदेव : सूर्य उपासना तथा मां गायत्री

 

शुभ रंग : लाल, केसरिया, क्रीम,

 

कैसा रहेगा यह वर्ष

स्वास्थ्य की दृष्टि से यह वर्ष उत्तम रहेगा। पारिवारिक मामलों में महत्वपूर्ण कार्य होंगे। अविवाहितों के लिए सुखद स्थिति बन रही है। विवाह के योग बनेंगे। नौकरीपेशा के लिए समय उत्तम हैं। पदोन्नति के योग हैं। बेरोजगारों के लिए भी खुशखबर है इस वर्ष आपकी मनोकामना पूरी होगी। यह वर्ष आपके लिए अत्यंत सुखद रहेगा। अधूरे कार्यों में सफलता मिलेगी।

No comments: