Sunday, August 8, 2021

हादसों में मौतों से जिलेभर में कोहराम


 मुजफ्फरनगर । बहन का सिंदारा देकर घर वापस लौटते समय भैंसी गांव के समीप अज्ञात वाहन की टक्कर से बाइक सवार युवक की मौत हो गई। घटना की सूचना से परिजनों में कोहराम मच गया। ग्रामीणों ने कोतवाली पहुंच कर अज्ञात वाहन चालक के विरूद्व तहरीर दी। शव को पोस्टमार्टम पर भेजा गया है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक गांव गंगधाडी निवासी निक्की पुत्र जय सिंह रविवार को बाइक से शाहपुर थाना क्षेत्र के कमालपुर गांव में अपनी बहन का सिंदारा देने गया था। शाम को घर वापस लौटते समय जीटी रोड भैंसी गांव क समीप पहुंचने पर पीछे से तेज गति से आएं वाहन ने बाइक में टक्कर मार दी। टक्कर लगते ही बाइक सवार युवक सड़क पर गिर गया। वाहन युवक को कुचलता हुआ निकल गया।घटना के बाद मौके पर लोगों की भीड जमा हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को सडक से उठाकर पहचान होने के बाद परिजनों को सूचना दी। युवक की मौत की सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। ग्रामीणों ने कोतवाली पहुंच कर वाहन चालक को पकडने की मांग को लेकर हंगामा किया। शव को पोस्टमार्टम पर भेजा गया है।बताया गया कि मृतक की करीब तीन महीने पहले ही शादी हुई थी। कोतवाली में अज्ञात वाहन चालक के विरूद्व तहरीर दी गई है।

उधर, मीरापुर थाना क्षेत्र के गांव बलीपुरा के निकट कुछ भट्ठा स्वामियों ने पथेर के लिए गहरे गहरे गड्ढे खुदवा रखें हैं। शनिवार की दोपहर में बलीपुरा निवासी रियासत का 18 वर्षीय पुत्र तालिब अपने कुछ दोस्तों के साथ गांव के निकट ही एक भट्ठा स्वामी द्वारा खुदवाए गए उक्त गहरे गड्ढे में भरे हुए पानी में नहाने गया था। नहाते समय तालिब गहरे पानी में डूब गया।जिसके बाद उसके दोस्त घबराकर वहां से अपने घर चले आये और किसी को भी उसके डूबने की जानकारी नहीं दी।

देर शाम तक भी जब तालिब अपने घर नही पहुंचा तो परिजन उसकी तलाश में जुट गए,तालिब के लापता होने की सूचना पर सैकड़ो ग्रामीण भी परिजनों के साथ उसे तलाशने लगे। रात्रि में करीब 10 बजे तालिब के कपड़े जंगल में एक पेड़ के पास मिले। जिसके बाद ग्रामीणों ने यहां पर बने गहरे गड्ढे में उसकी तलाश की। तो रात भर की मशक्कत के बाद रविवार की सुबह तालिब का शव गहरे गड्ढे में भरें पानी से बरामद हुआ। युवक की मौत से परिवार में कोहराम मच गया।

परिजन बिना पोस्टमार्टम कराए ही युवक तालिब के शव को घर ले आये।रविवार की दोपहर में गमगीन माहौल में मृतक तालिब के शव को सुपुर्देखाक कर दिया गया। वहीं ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि भट्टा स्वामी ने ईंट पथेर के लिए गहरे गड्ढे खुदवाए हुए हैं।कई बार कहने कब बाद भी भट्टा स्वामियों ने इन गड्ढों को बन्द नहीं कराया है जिसके चलते यह हादसा हुआ है।

No comments:

Featured Post

कपिलदेव अग्रवाल व उमेश मलिक ने किया सडक सुरक्षा सप्ताह का उद्घाटन

मुज़फ्फरनगर। आज एआरटीओ कार्यालय पर एआरटीओ विनीत मिश्रा के निर्देशन में सड़क सुरक्षा सप्ताह का आयोजन किया गया है जिसमें उन्होंने सड़क सुरक्षा के...