Monday, August 16, 2021

चौथे नंबर पर रहकर भी दानिश ने जीता मुजफ्फरनगर का दिल


मुजफ्फरनगर। इंडियन आइडल में चौथे स्थान पर रहकर भी अपनी सुर लहरियों से सबको दीवाना बनाने वाले मुजफ्फरनगर के मोहम्मद दानिश ने एक बार फिर सबका दिल जीत लिया। रविवार 15 अगस्त को इंडियन आइडल-12 के करीब 12 घंटे चले रंगारंग फाइनल कार्यक्रम में हालांकि वह विजेता तो नहीं बन सके लेकिन मंच पर दानिश के कंठ से सुरों की ऐसी धारा बही की कार्यक्रम में मौजूद दर्शकों ने तालियों की गड़गड़ाहट से लगातार उनका उत्साहवर्धन किया। प्रस्तुति के दौरान द ग्रेट खली के साथ दानिश की मस्ती और विशेष मेहमानों में शामिल उनके माता पिता के आशीर्वाद से फाइनल तक पहुंचने की उनकी राह आसान हुई, उन्होंने चौथा स्थान हासिल किया।

दानिश का सपना देश का बड़ा और लोकप्रिय प्ले बैक सिंगर बनने का है। दानिश का एकमात्र उद्देश्य अपनी गायकी से मुजफ्फरनगर को गौरवान्वित करना है। भविष्य के लिए भी वह गंभीर तैयारी कर रहे हैं। बड़े बैनर की चार फिल्मों के लिए उनके कई गाने रिकार्ड हो चुके हैं।

संगीत की दुनिया में दानिश की एंट्री 2012 में जी टीवी के कार्यक्रम 'सारेगामापा' से हुई थी। मेगा आडिशन तक का सफर पूरा करने के बाद दानिश छोटी उमर के चलते पिछड़ गए थे लेकिन हिम्मत नहीं छोड़ी और पीटीसी चैनल के 'वाइस आफ पंजाब' के ग्रांड फिनाले तक पहुंचे। इसके साथ ही एंड टीवी के 'दि वाइस इंडिया सीजन-2' के कार्यक्रमों में भी दानिश ने अपनी सुरलहरियों से सबको झुमाया।

मुजफ्फरनगर के मोहल्ला लद्धावाला निवासी डा. शाहनवाज के पुत्र मो. दानिश को गायकी विरासत में मिली है।

दानिश आज जो कुछ भी हैं, उसका श्रेय अपने दादा अफजाल खां, इकबाल खां तथा किराना घराना से ताल्लुक रखने वाले उस्ताद इरशाद अहमद वारसी को देते हैं। उन्होंने ही उसे गायकी के गुर सिखाए तथा घंटों रियाज कराकर इस काबिल बनाया कि वह आज अपने सुरों से प्रशंसा बटोर रहे हैं।

किराना घराने के उस्ताद अफजाल खां के पौत्र दानिश ने इस्लामिया इंटर कालेज से प्रारंभिक शिक्षा ग्रहण कर सुरों के साथ अठखेलियां शुरू की थी। कड़ा परिश्रम और निरंतर रियाज कर दानिश ने आवाज की दुनिया में सिक्का जमाया। करीब आठ माह पूर्व सोनी टीवी ने इंडियन आइडल के लिए डिजीटल आडिशन लिया था। दानिश ने आडिशन में कामयाबी हासिल की और अपनी दिलकश आवाज के बल पर वह टाप-6 में जा पहुंचे और चौथे स्थान पर रहे।

एक के बाद एक शानदार प्रस्तुति के बल पर और दर्शकों से मिले सपोर्ट व प्रोत्साहन से दानिश फाइनल तक पहुंचे। रविवार रात सोनी टीवी पर प्रसारित हुए इंडियन आइडल सीजन-12 के ग्रैंड फिनाले में दानिश ने कई दिलकश प्रस्तुति दी। उन्होंने जब रेसलर खली के समक्ष फिल्म पद्मावत का गीत 'खली बली हो गया है दिल' गाया तो मंच पर मौजूद जज ने भी अपने स्थान पर खड़े होकर दानिश का उत्साह बढ़ाया। दानिश का प्रदर्शन देखने के लिए मुजफ्फरनगर में तमाम लोग देर रात तक टीवी से चिपके रहे।

No comments:

Featured Post

सपा यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिया बूथ जीतने का मंत्र

मुजफ्फरनगर । सपा कार्यालय पर मुलायम सिंह यादव यूथ ब्रिगेड राष्ट्रीय अध्यक्ष सिद्धार्थ सिंह ने कार्यकर्ताओं को बूथ जीतने का मंत्र दिया।  उनके...