Sunday, August 22, 2021

मुज़फ्फरनगर में लिखी थी कल्याण सिंह ने बसपा गठबंधन सरकार गिराने की पटकथा


मुजफ्फरनगर । बसपा के साथ भारतीय जनता पार्टी की गठबंधन सरकार के पतन की पटकथा मुजफ्फरनगर में कल्याण सिंह ने लिखी थी। हाथ में हथकड़ी और पांव में बेडी वाली सरकार नहीं चाहिए कहने वाले कल्याण सिंह ने मुजफ्फरनगर में एक आयोजन में मायावती सरकार पर तमाम आरोप लगाये। इसके बाद सरकार का पतन हो गया। 

सपा-बसपा के गठबंधन से वर्ष 1995 में चल रही सरकार दो जून 95 को हुए गेस्ट हाउस कांड के बाद बसपा के समर्थन वापस लेने के चलते गिर गई। मायावती की ताजापोशी के पीछे भाजपा नेता लालजी टंडन के साथ ही ब्रह्मदत्त द्विवेदी की अहम भूमिका रही। संघ को पल-पल की रिपोर्ट दी गई और बसपा के विधायकों को समर्थन के लिए संघ व केंद्रीय नेतृत्व को राजी किया गया। इसमें अटल बिहारी वाजपेयी के साथ ही मुरली मनोहर जोशी मुख्य भूमिका में रहे। भाजपा ने मायावती को समर्थन दिया और उनकी सरकार बनी। शपथग्रहण में दिल्ली से मुरली मनोहर जोशी भाग लेने लखनऊ आए। 

भाजपा का एक खेमा या यूं कहें पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह इसके पक्षधर नहीं थे। उनका मानना था कि भाजपा सपा-बसपा के गठजोड़ के बावजूद 183 सीटें लाने में सफल रही है। अन्य पिछड़ों की कमोबेश सभी जातियां जैसे निषाद, कोरी, कुर्मी, कुशवाहा, मौर्या यहां तक की यादवों ने भी उनकी पार्टी के लिए वोट किया है। ऐसे में बसपा को साथ देकर आगे बढ़ाने की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने पार्टी मंच पर कई बार इसका प्रबल विरोध भी किया।

No comments:

Featured Post

सपा यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिया बूथ जीतने का मंत्र

मुजफ्फरनगर । सपा कार्यालय पर मुलायम सिंह यादव यूथ ब्रिगेड राष्ट्रीय अध्यक्ष सिद्धार्थ सिंह ने कार्यकर्ताओं को बूथ जीतने का मंत्र दिया।  उनके...