Monday, May 24, 2021

हिसार में मुकदमे वापसी के समझौते पर किसानों का प्रदर्शन खत्म


चंडीगढ़। हिसार में 16 मई को चौधरी देवीलाल संजीवनी अस्पताल के उद्घाटन के दौरान हुई हिंसा के बाद जारी गतिरोध आज किसान संगठनों व जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ हुई वार्ता में समाप्त हो गया। वार्ता के सिरे चढऩे के बाद सभी किसानों ने अपने विरोध प्रदर्शन को समाप्त  करने की घोषणा की। इसके बाद विरोध प्रदर्शन में शामिल लोग वापस लौट गए। आज हुई बातचीत में हिसार मंडल के आयुक्त चंद्रशेखर,  पुलिस महानिरीक्षक राकेश आर्य, उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी व डीआईजी बलवान सिंह राणा ने किसान संगठन के 30 सदस्यी प्रतिनिधिमंडल से वार्ता की। 

वार्ता के दौरान कोरोना संक्रमितों के उपचार के लिए बीती 16 मई को चौधरी देवीलाल संजीवनी अस्पताल के उद्घाटन के बाद हुई हिंसा व इसके बाद के घटनाक्रम को लेकर विस्तार पूर्वक चर्चा हुई। 

इस दौरान सभी मसलों पर सौहार्दपूर्ण माहौल में बातचीत हुई। वार्ता के दौरान 16 मई को किसानों के खिलाफ दर्ज केसों को वापिस लेने के बारे में सहमति बनी। केस वापिस लेने की प्रक्रिया जल्द शुरू कर दी जाएगी। आज के प्रदर्शन में शामिल होने हेतु आते हुए मृतक रामचंद्र खर्ब के आश्रित को डीसी रेट की नौकरी देने पर सहमति बनी। बातचीत के बाद किसान संगठनों के प्रमुख नेताओं ने आज का हिसार का विरोध प्रदर्शन समाप्त करने पर सहमति जाहिर की।                   

प्रशासन की ओर से किसानों से कहा गया कि भविष्य में होने वाले किसी भी विरोध प्रदर्शन के दौरान यह सुनिश्चित किया जाए कि आंदोलन शांतिपूर्वक व कानून के दायरे में रहकर हो। इस पर किसान संगठन के प्रतिनिधियों ने विश्वास दिलाया कि वे आगे से प्रशासन के  सरकारी कार्य में बाधा नही डालेंगे, ताकि भविष्य में ऐसी कोई स्तिथि उत्पन्न न हो।

No comments:

Featured Post

सुनील बंसल ने भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं को दी ये हिदायत

लखनऊ । भाजपा के बूथ से लेकर मंडल व जिले के सभी पदाधिकारी सरकार और संगठन के कार्यों को जन.जन तक पहुंचाने का काम करें। 2017 और 2019 से अब तक प...