कोरोना के नाम पर शहर में लूट का बाजार गर्म


मुजफ्फरनगर। जिले में कोरोना के नाम पर लूट की दुकानें खुल गई हैं। दवाओं पर जहां जमकर लूट हो रही है, वहीं इलाज के नाम पर कुछ निजी चिकित्सक लूट मचा रहे हैं। निजी नर्सिग होम खोलकर मरीजों को लूटा जा रहा है। इस कार्य में प्रशासन के साथ सामाजिक संस्थाओं को भी जमकर बेवकूफ बनाया जा रहा है। पहले एलटू अस्पताल के नाम पर प्रशासन को झांसा देकर लूट का अड्डा खोलने वाले यह चिकित्सक अब एल वन अस्पताल के नाम पर एक सामाजिक संस्था को झांसा देकर समाज सेवा के नाम पर लूट का दूसरा अड्डा खोलने की तैयारी में हैं। समझ में यह नहीं आता कि सरकार द्वारा तमाम निजी नर्सिंग होम्स को भी कोरोना मरीजों का उपाचार करने के लिए बाध्य करने के आदेशों के बावजूद किस तरह यह लूट के अड्डे खोले जा रहे हैं। सेवा के नाम पर चिकित्सा के पवित्र पेशे को बदनाम करने में जुटे इन चिकित्सकों का लगता है प्रशासन के पास भी कोई इलाज नहीं है। मात्र दस हजार रूपये में मरीज भर्ती करने के नाम पर तीस-तीस हजार रूपये रोज वसूल किए जा रहे हैं।

Comments

Popular posts from this blog

राज्य कर्मचारियों को भी मिलेगा बढा महंगाई भत्ता

डीएम सेल्वा कुमारी जे का तबादला, मनीष बंसल होंगे नये डीएम!

शाहपुर सौरम की महिला सिपाही ने की आत्महत्या