आज का पंचांग एवँ राशिफल 30 अप्रैल 2021

 



🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞

⛅ *दिनांक 30 अप्रैल 2021*

⛅ *दिन - शुक्रवार*

⛅ *विक्रम संवत - 2078 (गुजरात - 2077)*

⛅ *शक संवत - 1943*

⛅ *अयन - उत्तरायण** 

⛅ *मास - वैशाख (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - चैत्र)*

⛅ *पक्ष - कृष्ण* 

⛅ *तिथि - चतुर्थी शाम 07:09 तक तत्पश्चात पंचमी*

⛅ *नक्षत्र - ज्येष्ठा दोपहर 12:08 तक तत्पश्चात मूल*

⛅ *योग - परिघ सुबह 08:04 तक तत्पश्चात शिव*

⛅ *राहुकाल - सुबह 10:59 से दोपहर 12:36 तक*

⛅ *सूर्योदय - 06:09* 

⛅ *सूर्यास्त - 19:02* 

⛅ *दिशाशूल - पश्चिम दिशा में*

⛅ *व्रत पर्व विवरण - संकष्ट चतुर्थी (चन्द्रोदय रात्रि 10:54)*

 💥 *विशेष - चतुर्थी को मूली खाने से धन का नाश होता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


🌷 *वैशाख मास* 🌷

🙏🏻 *वैशाख हिन्दू धर्म का द्वितीय महीना है। विशाखा नक्षत्रयुक्त पूर्णिमा होने के कारण इसका नाम वैशाख पड़ा | इस वर्ष 28 अप्रैल 2021 (उत्तर भारत हिन्दू पञ्चाङ्ग के अनुसार) से वैशाख का आरम्भ हो गया है। वैशाख मास पुण्यकारी, श्रीविष्णु को अत्यंत प्रिय मास है |*

🙏🏻 *वैशाख मास का एक नाम माधव मास भी है | इस मास के देवता “मधुसूदन" हैं | मधु दैत्य का वध होने के कारण उन्हें मधुसूदन कहते हैं। विष्णुसहस्त्रनाम “दुःस्वप्ने स्मर गोविन्दं संकटे मधुसूदनम्” के अनुसार किसी भी प्रकार के संकट में श्रीविष्णु के नाम मधुसूदन का स्मरण करना चाहिए |*

🙏🏻 *स्कन्दपुराणम्, वैष्णवखण्ड के अनुसार*

*न माधवसमो मासो न कृतेन युगं समम्। न च वेदसमं शास्त्रं न तीर्थं गंगया समम्।।*

👉🏻 *वैशाख के समान कोई मास नहीं है, सत्ययुग के समान कोई युग नहीं है, वेद के समान कोई शास्त्र नहीं है और गंगाजी के समान कोई तीर्थ नहीं है।*

🙏🏻 *पद्मपुराण, पातालखण्ड के अनुसार*

*यथोमा सर्वनारीणां तपतां भास्करो यथा ।आरोग्यलाभो लाभानां द्विपदां ब्राह्मणो यथा।। परोपकारः पुण्यानां विद्यानां निगमो यथा।मंत्राणां प्रणवो यद्वद्ध्यानानामात्मचिंतनम् ।।सत्यं स्वधर्मवर्तित्वं तपसां च यथा वरम्।शौचानामर्थशौचं च दानानामभयं यथा ।।गुणानां च यथा लोभक्षयो मुख्यो गुणः स्मृतः।मासानां प्रवरो मासस्तथासौ माधवो मतः ।।*

👉🏻 *जैसे सम्पूर्ण स्त्रियों में पार्वती, तपने वालों में सूर्य, लाभों में आरोग्यलाभ, मनुष्यों में ब्राह्मण, पुण्यों में परोपकार, विद्याओं में वेद, मन्त्रों में प्रणव, ध्यानों में आत्मचिंतन, तपस्याओं में सत्य और स्वधर्म-पालन, शुद्धियों में आत्मशुद्धि, दानों में अभयदान तथा गुणों में लोभ का त्याग ही सबसे प्रधान माना गया है, उसी प्रकार सब मासों में वैशाख मास अत्यंत श्रेष्ठ है |* 

🙏🏻 *महाभारत अनुशासन पर्व अध्याय 106 के अनुसार “निस्तरेदेकभक्तेन वैशाखं यो जितेन्द्रियः। नरो वा यदि वा नरी ज्ञातीनां श्रेष्ठतां व्रजेत्।।” जो स्त्री अथवा पुरूष इन्द्रिय संयम पूर्वक एक समय भोजन करके वैशाख मास को पार करता है, वह सहजातीय बन्धु-बान्धवों में श्रेष्ठता को प्राप्त होता है।।*

🙏🏻 *पद्मपुराण, पातालखण्ड के अनुसार*

*दत्तं जप्तं हुतं स्नातं यद्भक्त्या मासि माधवे।तदक्षयं भवेद्भूप पुण्यं कोटिशताधिकम् ।।*

👉🏻 *माधवमास में जो भक्तिपूर्वक दान,जप, हवन और स्नान आदि शुभकर्म किये जाते हैं, उनका पुण्य अक्षय तथा सौ करोड़ गुना अधिक होता है |*

*प्रातःस्नानं च वैशाखे यज्ञदानमुपोषणम्।हविष्यं ब्रह्मचर्यं च महापातकनाशनम् ।।*

👉🏻 *वैशाख मास में सवेरे का स्नान, यज्ञ, दान, उपवास, हविष्य-भक्षण तथा ब्रह्मचर्य का पालन - ये महान पातकों का नाश करने वाले हैं |*

🙏🏻 *स्कन्दपुराण में यह बताया है की वैशाख मास में क्या क्या त्याज्य है।*

*तैलाभ्यङ्गं दिवास्वापं तथा वै कांस्य भोजनम् ।। खट्वा निद्रां गृहे स्नानं निषिद्धस्य च भक्षणम् ।।*

👉🏻 *वैशाख में तेल लगाना, दिन में सोना, कांस्यपात्र में भोजन करना, खाट पर सोना, घर में नहाना, निषिद्ध पदार्थ खाना दोबारा भोजन करना तथा रात में खाना - इन आठ बातों का त्याग करना चाहिए।*

🙏🏻 *शिवपुराण के अनुसार वैशाख में भूमि का दान करना चाहिए | ब्रह्मवैवर्त पुराण के अनुसार वैशाख मास में ब्राह्मण को सत्तू दान करने वाला पुरुष सत्तू कण के बराबर वर्षों तक विष्णु मन्दिर में प्रतिष्ठित होता है।*

👉🏻 *वैशाख मास में गृह प्रवेश करने से धन, वैभव, संतान एवं आरोग्य की प्राप्ति होती हैं ।*

👉🏻 *देव प्रतिष्ठा के लिये वैशाख मास शुभ है। वृक्षारोपण के लिए वैशाख मास विशेष शुभ है |*

🙏🏻 *स्कन्द पुराण में वर्णित वैशाख मास के माहात्म्य के कुछ अंश*

➡ *वैशाख मास भगवान विष्णु को अत्यन्त प्रिय है ।*

➡ *वैशाख मास माता की भाँति सब जीवों को सदा अभीष्ट वस्तु प्रदान करने वाला है ।*

➡ *जो वैशाख मास में सूर्योदय से पूर्व स्नान करता है, उससे भगवान विष्णु निरन्तर प्रीति करते हैं।* 

➡ *सभी दानों से जो पुण्य होता है और सब तीर्थों में जो फल होता है, उसी को मनुष्य वैशाख मास में केवल जलदान करके प्राप्त कर लेता है।*

➡ *जो मनुष्य वैशाख मास में सड़क पर यात्रियों के लिए प्याऊ लगाता है, वह विष्णुलोक में प्रतिष्ठित होता है। प्याऊ देवताओं, पितरों तथा ऋषियों को अत्यन्त प्रीति देने वाला है। जिसने वैशाख मास में प्याऊ लगाकर थके-मांदे मनुष्यों को संतुष्ट किया है, उसने ब्रह्मा, विष्णु और शिव आदि देवताओं को संतुष्ट कर लिया।*

➡ *वैशाख मास में जल की इच्छा रखने वाले को जल, छाया चाहने वाले को छाता और पंखे की इच्छा रखने वाले को पंखा देना चाहिए।* 

➡ *विष्णुप्रिय वैशाख में पादुका दान करता है, वह यमदूतों का तिरस्कार करके विष्णुलोक में।* 

➡ *जो मार्ग में अनाथों के ठहरने के लिए विश्रामशाला बनवाता है, उसके पुण्य फल का वर्णन नहीं किया जा सकता।*

➡ *अन्नदान मनुष्यों को तत्काल तृप्त करने वाला है।इसलिए इससे बढ़कर कोई दूसरा दान ही नहीं है।*

🙏🏻 *स्कन्दपुराण में कहा गया है “योऽर्चयेत्तुलसीपत्रैर्वैशाखे मधुसूदनम् ।। नृपो भूत्वा सार्वभौमः कोटिजन्मसु भोगवान् ।। पश्चात्कोटिकुलैर्युक्तो विष्णोः सायुज्यमाप्नुयात्” जो वैशाख मास में तुलसीदल से भगवान विष्णु की पूजा करता है, वह विष्णु की सामुज्य मुक्ति को पाता है।*


📖 **

📒 **

                 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞

🙏🏻🌹🌻☘🌷🌺🌸🌼💐🙏🏻पंचक

: 4 मई रात्रि 8.41 बजे से 9 मई सायं 5.30 बजे तक

: 1 जून रात्रि 3.57 बजे से 5 जून रात्रि 11.27 बजे तक

: 28 जून प्रात: 12.57 बजे से 3 जुलाई प्रात: 6.15 बजे तक

एकादशी


07 मई, शुक्रवार वरुथिनी एकादशी

23 मई, रविवार मोहिनी एकादशी

06 जून, रविवार अपरा एकादशी

21 जून, सोमवार निर्जला एकादशी

प्रदोष


08 मई: शनि प्रदोष


24 मई: सोम प्रदोष व्रत


07 जून: सोम प्रदोष व्रत


22 जून: भौम प्रदोष

अमावस्या

वैशाख अमावस्या- मंगलवार, 11 मई 2021


ज्येष्ठ अमावस्या- बृहस्पतिवार, 10 जून 2021

पूर्णिमा


26 मई, बुधवार: बुद्ध पूर्णिमा


मेष 

आज का दिन आपकी महत्वाकांक्षाओं की पूर्ति करने वाला होगा। व्यापार के लिए कुछ यात्रा करनी पड़ सकती हैं, जो भविष्य में आपको लाभ देंगी। यदि आज किसी उच्च अधिकारी से वाद-विवाद होता है, तो वह कानूनी हो सकता है, इसलिए अपनी वाणी पर संयम रखें। सायंकाल के समय अतिथि आगमन हो सकता है, जिससे कुछ धन भी खर्च होगा, लेकिन आप अपनी आय और व्यय दोनों में संतुलन बनाकर रखें, तो भविष्य में आपको इसका लाभ होगा। दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा। जीवन साथी आपके हर फैसले में आपके साथ खड़े नजर आएंगे। आज आप अपनी सभी योजनाओं की पूर्ति करेंगे, जिसमें परिवार के सभी सदस्य खुश नजर आएंगे।

वृष

आज का दिन आपके लिए निश्चित परिणाम लेकर आएगा। आज आप अपने कार्य क्षेत्र में शत्रुओं पर विजय प्राप्त करने में कामयाब रहेंगे। आज आपका समाजिक क्षेत्र भी बढा हुआ दिखेगा, इससे आपके मित्रों की संख्या में इजाफा होगा। आज आप अपने घर गृहस्थी की कोई वस्तु खरीदने पर धन व्यय करेंगे। आज आपको अपने पारिवारिक बिजनेस के लिए अपने भाई की सलाह की आवश्यकता होगी। सायंकाल के समय परिवार में कोई विवाद हो सकता है, जिसमें आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना होगा, नहीं तो रिश्तों में दरार पड़ सकती है

मिथुन 

आज का दिन आपके लिए व्यापार में नए-नए उन्नति के मार्ग खुलेगा, जिससे आप सारा दिन हंसी खुशी बिताएंगे। राजनीति से जुड़े जातकों के कार्यों में आज कुछ अवरोध आ सकता है। रात्रि का समय आप अपने परिवार के साथ किसी मंगलमय समारोह में सम्मिलित हो सकते हैं। संतान की ओर से आज कोई शुभ समाचार सुनने को मिल सकता है। विवाह योग्य जातकों के लिए विवाह के नए नए प्रस्ताव आएंगे। यदि जीवन साथी से कोई अनबन चल रही थी, तो वह आज समाप्त होगी। सायंकाल के समय परिवार में किसी अतिथि का आगमन हो सकता है।

कर्क 

आज का दिन आपके लिए उन्नति भरा रहेगा। यदि साझेदारी में कोई व्यापार चल रहा है, तो आज आपको उसमें भरपुर लाभ होगा। जीवनसाथी की सलाह आपके व्यवसाय के लिए कारगर साबित होगी। यदि लंबे समय से आपके कुछ कार्य रुके हुए थे, तो आज वह पूरे हो सकते हैं, लेकिन आपको अपने आलस्य को त्यागना होगा। सायंकाल के समय अत्यधिक श्रम के कारण आपको कुछ थकान महसूस हो सकती है। इसलिए सावधान रहें। नौकरी से जुड़े जातकों को आज पदोन्नति मिलने की संभावना है। विद्यार्थियों के उच्च शिक्षा के मार्ग प्रशस्त होंगे।

सिंह 

आज का दिन आपके लिए आनंददायक रहेगा। आज आप आपने चारों के वातावरण का आनंद लेते नजर आएंगे। आज आप अपने ऊपर कुछ धन खर्च कर सकते हैं। अपने लिए कोई मोबाइल, लैपटॉप खरीद सकते हैं। आर्थिक स्थिति मजबूत होगी, लेकिन आज आपकी माताजी के स्वास्थ में कमी हो सकती है, इसलिए सतर्क रहें और उन बाहर के खान-पीन से परहेज रखें। भाई-बहन की शादी में यदि कोई बाधा रही थी, तो वह आज समाप्त होगी। सायंकाल का समय आप अपने मित्रों के साथ मौज मस्ती में व्यतीत करेंगे। ससुराल पक्ष के आजाद होने का दिख रहा है।

कन्या

आज का दिन आपके लिए उत्तम फलदायक रहेगा। यदि आज आप कोई संपत्ति खरीदने का मन बना रहे, तो उसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। आज आपकी पद व प्रतिष्ठा में निश्चित रूप से वृद्धि होगी, इसे देखकर आपके मन में प्रसन्नता होगी। संतान को यदि किसी कोर्स में दाखिला दिलाना चाहते हैं, तो उसके लिए दिन उत्तम रहेगा। कुछ भागदौड़ भी करनी पड़ेगी। यदि आप सरकारी नौकरी से जुड़े हैं, तो आपके ऊपर आज उच्च अधिकारियों की कृपा बरसेगी, जो आपको प्रमोशन दिलवा सकती हैं और आपकी सैलरी भी बढ़ सकती हैं।

तुला 

आज का दिन आपके लिए मिलाजुला रहेगा। आपको जीवन साथी का सहयोग व सानिध्य भरपूर मात्रा में प्राप्त होगा। सांसारिक सुख के साधनों में आज वृद्धि होगी। राजनीतिक क्षेत्र में आपकी पद व प्रतिष्ठा में भी वृद्धि के योग बनते दिख रहे हैं, सायंकाल के समय यदि किसी यात्रा पर जाना पड़े, तो सावधानी से जाएं क्योंकि आपकी कोई प्रिय वस्तु के चोरी होने का भय बना हुआ है। व्यापार में कुछ नई तरकीब आज आपके काम आएंगी, जो आपके व्यापार को गति देंगी। आज आप अपने किसी मित्र की मदद के लिए भी आगे आएंगे।

वृश्चिक

आज का दिन आपके लिए मिलाजुला रहेगा। आज दान पुण्य के कार्यों में धन व्यय करेंगे और दूसरों की सहायता करेंगे, जिससे आपको आत्म संतुष्टि प्राप्त होगी और उसकी तुलना किसी अन्य सांसारिक सुख से नहीं की जा सकती है। सायंकाल के समय आप अपने मित्रों के साथ कहीं घूमने फिरने जाने का प्लान बना सकते हैं। ऑफिस में आपके अधिकारों में वृद्धि होने से आपके साथियों का मूड खराब हो सकता है, इससे आपके शत्रुओं की संख्या भी बढ़ सकती है। आज दिन का दिन आप परोपकार के कार्य में व्यतीत करेंगे। यदि साझेदारी में कोई व्यापार करने का सोच रहे हैं, तो उसके लिए भी दिन उत्तम रहेगा।

धनु 

आज का दिन आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। आज आपके आसपास का वातावरण विपरीत हो सकता हैं किंतु अपने धैर्य और मधुर व्यवहार से वातावरण को हल्का बनाने में कामयाब रहेंगे। आज आपको अपने प्रिय व्यक्ति की मदद के कारण कुछ परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। नौकरी कर रहे जातकों को आज कुछ शत्रु परेशान करेंगे, लेकिन वह आपका कुछ नहीं बिगाड़ पाएंगे, लेकिन आपको अपनी वाणी और व्यवहार दोनों में संयम रखना होगा, तभी सफलता मिलती दिख रही है।

मकर 

आज का दिन आपके लिए मिलाजुला रहेगा। आज आपको अपने व्यापार में किसी नई डील के फाइनल होने से अचानक से लाभ हो सकता है, लेकिन घर के किसी सदस्य या संतान की अचानक तबीयत खराब होने से टेंशन हो सकती है। व्यापार में यदि आज आप को जोखिम उठाना पड़े, तो सोच समझकर ही उठाएं, नहीं तो भविष्य में आपको से नुकसान हो सकता है। दोस्ती के साथ आप किसी निवेश को करने की ना सोचें। यदि ऐसा किया, तो वह आपको परेशानी दे सकता है। आज आप अपने सभी महत्वाकांक्षाओं की पूर्ति होने से खुश नजर आएंगे।

कुंभ 

आज का दिन आपके लिए उन्नति भरा रह सकता है। आज बड़ी मात्रा में आपके हाथ धन लग सकता है, जिससे आपको संतोष होगा और अपनी आर्थिक स्थिति की चिंता कम होगी, लेकिन फिर भी आपको अपनी आय और व्यय दोनों में संतुलन बनाकर चलना होगा, तभी आप अपने भविष्य के लिए धन को बचा पाएंगे। व्यापार की धीमी गति के लिए आज आपको किसी अनुभवी व्यक्ति की सलाह की आवश्यकता होगी। माता-पिता का आशीर्वाद प्राप्त होगा। परिवार के छोटे बच्चे आज आपसे कुछ फरमाइशें कर सकते हैं

मीन 

आज का दिन आपके लिए उत्तम फलदायक रहेगा। संतान पक्ष से संतुष्टि और कोई शुभ समाचार सुनने को मिलेगा, इससे मन में प्रसन्नता रहेगी। रोजगार की दिशा में कार्यरत लोगों को आज रोजगार के नए अवसर प्राप्त होंगे। कार्यक्षेत्र में पद और प्रतिष्ठा भी बढ़ेगी। सायंकाल से लेकर रात्रि तक का समय आप अपने मित्रों के साथ मेल मिलाप में व्यतीत करेंगे। ससुराल पक्ष के किसी व्यक्ति को आज धन उधार देना पड़े, तो सोच समझ कर दें, नहीं तो रिश्तों में दरार पड़ सकती है। दांपत्य जीवन आनंद दायक रहेगा


जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं


अंक ज्योतिष के अनुसार आपका मूलांक तीन आता है। यह बृहस्पति का प्रतिनिधि अंक है। आप दार्शनिक स्वभाव के होने के बावजूद एक विशेष प्रकार की स्फूर्ति रखते हैं। आपकी शिक्षा के क्षेत्र में पकड़ मजबूत होगी। आप एक सामाजिक प्राणी हैं। ऐसे व्यक्ति निष्कपट, दयालु एवं उच्च तार्किक क्षमता वाले होते हैं। आप सदैव परिपूर्णता या कहें कि परफेक्शन की तलाश में रहते हैं यही वजह है कि अकसर अव्यवस्थाओं के कारण तनाव में रहते हैं। अनुशासनप्रिय होने के कारण कभी-कभी आप तानाशाह भी बन जाते हैं। 

 

शुभ दिनांक : 3, 12, 21, 30

 

शुभ अंक : 1, 3, 6, 7, 9, 



 

शुभ वर्ष : 2028, 2030, 2031, 2034, 2043, 2049, 2052,    

 


ईष्टदेव : देवी सरस्वती, देवगुरु बृहस्पति, भगवान विष्णु 

 

शुभ रंग : पीला, सुनहरा और गुलाबी 

 

कैसा रहेगा यह वर्ष

नवीन व्यापार की योजना भी बन सकती है। दांपत्य जीवन में सुखद स्थिति रहेगी। घर या परिवार में शुभ कार्य होंगे। आपके लिए यह वर्ष सुखद है। किसी विशेष परीक्षा में सफलता मिल सकती है। नौकरीपेशा के लिए प्रतिभा के बल पर उत्तम सफलता का है। महत्वपूर्ण कार्य से यात्रा के योग भी है। मित्र वर्ग का सहयोग सुखद रहेगा। शत्रु वर्ग प्रभावहीन होंगे

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा