Sunday, March 7, 2021

खापों में खींचतान, चौधरी लखनऊ तो ट्रैक्टर पहुंचे गाजीपुर



गाजियाबाद। भाजपा विधायक उमेश मलिक कुछ खाप चौधरियों को अपने साथ लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दरबार में पहुंचे थे। मीडिया के माध्यम से यह खबर मिली तो खापों में हलचल शुरू हो गई। खाप चौधरियों ने रविवार को गाजीपुर बार्डर पर आकर ताल ठोंक दी। मंच से अपने संबोधन में बाबा श्याम सिंह मलिक बहाबड़ी ने गर्जना भरी। सरकार खापों में घुसने का प्रयास न करे। हमारा यह सामाजिक ताना-बाना अपने लोगों की समस्याओं  का निस्तारण करता है, लोगों को जोड़ता है, और पूरी तरह से किसान आंदोलन के साथ है। उन्होंने मंच से ऐलान किया कि लखनऊ में जो हुआ उसका जबाब हम गाजीपुर बार्डर से देने आए हैं। शाम को गठवाला और बत्तीसा खाप के 50 से अधिक ट्रैक्टर आंदोलन स्थल पर पहुंच गए। राकेश टिकैत के बाहर चलने जाने के चलते भारतीय किसान यूनियन (युवा) के अध्यक्ष गौरव टिकैत ने गाजीपुर बार्डर पर इन ट्रैक्टरों का स्वागत किया।

बत्तीसा खाप के बाबा सूरजमल ने अपने प्रतिनिधि के रूप में कंवरपाल मालैंडी को गाजीपुर बार्डर भेजा है। इसके अलावा गाजीपुर बार्डर पहुंचने वालों में बाबा रविंद्र मलिक लाख, बाबा आजाद मलिक पुरामहादेव, थांबेदार वीरसेन मलिक लिसाड़ और निर्वाल खाप से सतपाल पहलवान रविवार को संयुक्त किसान मोर्चा के दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर चल मंच पर मौजूद रहे। सभी ने एक सुर में कहा कि खाप पूरी तरह से किसान आंदोलन के साथ हैं। बाबा श्याम सिंह ने मंच से सरकार को चेताया कि हम घर में राजनीति करने से बाज आए। मुख्यमंत्री के दरबार में पहुंचे धर्मवीर सिंह निर्वाल ने सोशल मीडिया पर एक सवाल के जबाब में खुद कहा है कि निर्वाल खाप के बाबा चौधरी भलेराम निर्वाल हैं।  

धर्मेन्द्र मलिक मीडिया प्रभारी भाकियू ने यह जानकारी दी।

No comments:

Featured Post

कोतवाल को नौकरी खाने की धमकी देने का पूर्व प्रधान का आडियो वायरल होने से हडकंप

  मुजफ्फरनगर। तेजतर्रार एसएसपी के जिले में एक पूर्व प्रधान द्वारा कोतवाल को खुलेआम फोन पर धमकी दिए जाने के बाद प्रधान पर शिकंजा कसने की तैया...