मोदी ने पहले देश बेचा अब किसानों को बेच रहे हैंः प्रियंका गांधी


 मुजफ्फरनगर।  कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने अपने दो-तीन मित्रों को पूरा देश बेच दिया अब वह किसानों और खेतों को भी बेचना चाहते हैं।


बघरा के कल्याणकारी इंटर काॅलेज के मैदान में किसान महापंचायत में वक्ताओं ने तीन कृषि कानूनों और बढ़ती महंगाई को लेकर  केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा जैसे पुरानी कहानियों में राजा-महाराजा होते थे, ऐसे ही हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हो गए हैं। दो बार प्रधानमंत्री बनने के बाद उन्हें अहंकार हो गया है। प्रियंका ने कहा सरकार को किसानों का सम्मान करना चाहिए। जिन किसानों ने मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाया है, वे उनसे बात क्यों नहीं कर रहे हैं। किसानों से बात करनी चाहिए और उनकी समस्या का समाधान करना चाहिए।  प्रियंका ने कहा माना आपने भलाई के लिए कानून बनाए हैं, पर जब वो नहीं चाहते तो कानूनों को वापस लो। उन्होंने कहा, क्या मोदी सरकार जबरदस्ती किसानों की भलाई करेगी। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि मोदी सरकार जो नए कानून लाई हैं, उससे उद्योगपति जमाखोरी कर सकते हैं।  प्रियंका गांधी ने यहां सवाल किया कि 2017 से यहां गन्ने का मूल्य ही नहीं बढ़ा है। किसानों को  प्रियंका गांधी ने कहा कि मोदी सरकार जो नए कानून लाई हैं, उससे उद्योगपति जमाखोरी कर सकते हैं। पीएम मोदी अमेरिका, चीन और पाकिस्तान जा सकते हैं, लेकिन दिल्ली में बैठे किसानों से नहीं मिल सकते हैं। जिस किसान का आप अपमान कर रहे हैं उसका बेटा सीमा पर आपकी सुरक्षा कर रहा है, आपको उनका अपमान करने का हक नहीं है। प्रियंका वाड्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा था गन्‍ने का भुगतान किया जाएगा। प्रियंका ने किसानों से गन्‍ने का भुगता के बारे में पूछा। कहा कि गन्‍ने के भुगतान से ज्‍यादा दो हवाई जहाज खरीदा। वादा किया था कि गन्‍ना भुगतान किया जाएगा पर नहीं किया। 20 हजार करोड़ की संसद बनाने की स्‍कीम बन गई, लेकिन गन्‍ने का भुगतान नहीं किया गया है। कहा कि बिजली का बिल बढ़ती जा रही है। कहा कि भाजपा सरकार ने डीजल टैक्‍स से 21 लाख 50 करोड कमाएं, लेकिन उसका कोई हिसाब नहीं मिला। यह पैसा किसानों को क्‍यो नहीं मिला। 

 खरबपतियों ने हजारों करोड़ कमाया है और किसान सड़क पर बैठकर परेशान है। कहा कि सरकारी मंडियों में टैक्‍स लिया जा रहा है वह प्राइवेट मंडियों में नहीं दी जाएंगी। इससे आगे चलकर सरकारी म‍ंडियां समाप्‍त हो जाएंगी। दूसरे कानून में कांट्रेक्‍ट फार्मिंग होगी। इससे खरबपति आगे चलकर किसानों की फसल मनमानी तरीके से खरीदेगा। इसके तहत आप अदालत भी नहीं जा सकते। समर्थन मुल्‍य खत्‍म हो जाएगा। किसानों की जमीन को अपने खरबपति मित्रों को दे देंगे। 

 इस दौरान दीपेंद्र हुड्डा, आचार्य प्रमोद कृष्णम, पूर्व मंत्री दीपक कुमार, सईदुज्जमा, जिलाध्यक्ष सुबोध शर्मा, शहर अध्यक्ष, जुनैद रऊफ, पूर्व सांसद संजय कपूर, राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने पंचायत में कांग्रेस सरकार की उपलब्धियों को गिनाया। वहीं पंचायत में रागिनी का भी कार्यक्रम रखा गया है। यंका गांधी की रैली को लेकर जिले में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थें।   बड़ी संख्या में किसान ट्रैक्टर-ट्राॅली लेकर महासभा में पहुंचे। उधर, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भी शुक्रवार से ही रैली स्थल पर डेरा जमा रखा।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा