मुनव्वर राणा ने फिर किया भडकाऊ ट्वीट


 नई दिल्ली। सीएए विरोधी प्रदर्शन के खलनायक और सपा नेता के अब्बाजान मुनव्वर राणा ने रविवार को भी फिर एक भडकाऊ ट्वीट किया, जिसपर बवाल मच गया। हालांकि बाद में यह शायर सफाई देता घूम रहा है। 

अनेक बार फजीहत करा चुके राणा ने अपने ट्वीट में लिखा, ''इस मुल्क के लोगों को रोटी तो मिलेगी, संसद को गिराकर वहां कुछ खेत बना दो। अब ऐसे ही बदलेगा किसानों का मुकद्दर, सेठों के बनाए हुए गोदाम जला दो। मैं झूठ के दरबार में सच बोल रहा हूं, गर्दन को उड़ाओ, मुझे या जिंदा जला दो।'' हालांकि, बाद में मुनव्वर राणा ने ट्वीट को डिलीट कर दिया, लेकिन तब तक लोग स्क्रीनशॉट ले चुके थे और उसे शेयर कर रहे थे। बाद में शायर ने ट्वीट डिलीट करने के बाद सफाई भी पेश की। उन्होंने कहा कि जब नया संसद भवन बन रहा है तो पुरानी बिल्डिंग को गिरा देना चाहिए। वहां पर कुछ खेतों को बना देना चाहिए, जिससे किसानों को रोटी मिलेगी। इसमें कोई बुरी बात नहीं है। मुनव्वर राणा ने एक निजी चैनल से बात करते हुए आगे कहा, ''इस मुल्क में इमरजेंसी लगी हुई है कि जुबां खोलते ही शायर को गाली पड़ने लगती है। यह बात होने लगी कि डोनाल्ड ट्रंप ने जो किया, वह मुनव्वर राणा कर रहे हैं। लेकिन हमारी हैसियत ट्रंप जितनी नहीं है।'' उन्होंने कहा कि रोजाना किसान खुदकुशी कर रहे हैं। इतने लोग मर गए। किसान अपना फायदा-नुकसान समझता है। सत्ता को इतनी जिद नहीं करनी चाहिए। मुनव्वर राणा ने आगे कहा कि मेरा पीएम मोदी से कोई विरोध नहीं है। मैं व्यक्तिगत तौर पर उन्हें पसंद करता हूं और सम्मान करता हूं। बात उसूलों की है। अगर शायर नहीं लिखेगा तो कौन लिखेगा। मैं बोलता हूं तो उसके बदले में काफी गालियां सुनने को मिलती हैं।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा