प्रैस एसोसिएशन के महामंत्री इंद्र पाल सिंह सेठी के निधन पर शोक



देवबंद ।  गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सचिव तथा पंजाब केसरी के संवाददाता प्रेस एसोसिएशन के महासचिव सरदार इन्द्रपाल सिंह सेठी की अकस्मात मृत्यु पर पत्रकारों, समाजिक व राजनीतिक लोगों मे शोक छा गया है । 

    ब्रह्सपतिवार प्रातः जैसे ही पत्रकार सरदार इन्द्रपाल सिंह सेठी की अकस्मात मृत्यु का समाचार लोगों को मिला तो सभी अचम्भित थे, कि ऐसा कैसे हो गया है । सीधे साधे स्वभाव के मिलनसार सरदार इन्द्रपाल सिंह सेठी जालन्धर से प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक से जुडे होने के साथ प्रेस एसोसिएशन देवबंद के महासचिव भी थे । सेठी जी धार्मिक व समाजिक कार्यों मे विशेष रुचि रखते थे । मोहल्ला नेचलगढ का मन्दिर जिसका जीर्णोद्धार कराने मे इनका बडा योगदान रहा वही सेठी जी के द्वारा श्री गुरूद्वारा कमैटी मे भी मुख्य भूमिका निभाई जाती रही है ।

     सरदार इन्द्रपाल सिंह सेठी को याद करते हुए वरिष्ठ पत्रकार गोविन्द शर्मा ने कहा कि वर्ष 1980 के दशक मे शिक्षण काल से सेठी जी को पत्रकारिता मे रुचि थी । उस समय से आज तक उनकी पत्रकारिता का कार्यकाल  साफ सुथरा रहा है । गोविन्द शर्मा ने स्वर्गीय सेठी को याद करते हुए कहां कि वह सान्त स्वभाव के पत्रकार थे ।

      ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के जिला पदाधिकारी राजकुमार जाटव ने श्री सेठी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए उनको नमन किया । ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के ही नन्दीश भारद्वाज, सम्पादक ओमवीर सिंह, ने भी सरदार इन्द्रपाल सिंह सेठी के निधन पर निहायत रंजोगम का इजहार किया । श्री सेठी के निधन पर शोक व्यक्त करने वालों मे मानव कल्याण मंच के संस्थापक अरुण अग्रवाल, भाजपा के पूर्व नगर अध्यक्ष गजराज सिंह राणा, पूर्व महामंत्री बिजेंद्र गुप्ता, डा० अशोक चौधरी, डा० सुखपाल सिंह आदि प्रमुख थे ।

भारतीय जनता पार्टी देवबंद के कार्यकर्ताओ की बैठक में उत्तर प्रदेश प्रैस एसोसिएशन के महामंत्री इंद्र पाल सिंह सेठी जी के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त करते हुए सभासद गजराज राणा पूर्व नगर अध्यक्ष व श्रीमती शुभलेश शर्मा पूर्व नगर उपाध्यक्ष ने कहा कि माननीय इंद्रपाल जी ने अपना पुरा जीवन सामाजिक कार्यो में व्यतीत किया। वह बहुत ही दयालु और सामाजिक थे। सजजनता और शहनशीलता उनका स्वभाव था। अपनी बेबाक पत्रकारिता से वह समाज और जन हित में खुलकर लिखते थे। उनके निधन से पत्रकारिता जगत का एक सतमभ खतम हो गया है जिसकी भरपाई मुश्किल है।   उपस्थित सभी साथियों ने दो मिनट का मौन धारण कर वाहे गुरू जी/ईश्वर से प्रार्थना कि वह दिवंगत आत्मा को अपने चरणों में स्थान दें और उनके परिवार को इस दुख को सहन करने की शक्ति करे। शोक व्यक्त करने वालों में बिजेंद्र गुप्ता, राखी बहोत्रा, आनंद वर्मा, अभिषेक मित्तल,  श्याम चौहान, विजेंदर जोहरी, विजय सैनी, परवीन गोयल, अमरीश त्यागी, लचछीराम कश्यप, लककी वर्मा, सुनील धीमान, विशाल पुंडीर, योगेश, मनोज सैनी आदि रहे।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा