Saturday, October 2, 2021

पत्रकारिता में आए बदलाव चुनौती : रमेश ठाकुर



मुजफ्फरनगर । पत्रकारिता एवं जनसंसचार विभाग श्री राम कॉलेज एवं योगदान सेवा ट्रस्ट ने संयुक्त रुप से गांधी जयंती के अवसर पर वर्तमान पत्रकारिता में महात्मा गांधी की पत्रकारिता की प्रासंगिकता विषय पर एक राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य वक्ता वरिष्ठ पत्रकार एवं सदस्य महिला एवं बाल विकास मत्रांलय भारत सरकार डॉ0 रमेश ठाकुर रहे। इस कार्यक्रम में हरियाणा सरकार में प्रेस सलाहकार व पत्रकारिता एवं जनसंसचार विभाग श्री राम कॉलेज के पुरातन छात्र और योगदान ट्रस्ट के अध्यक्ष अक्षय शर्मा ने संचालन किया। 

कार् में शामिल मुख्य अतिथि डॉ रमेश ठाकुर ने महात्मा गांधी की पत्रकारिता पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि, आज के दौर में पत्रकारिता के कई तथ्य बदल गये है और ये बदलाव चुनौतियां बन गयी हैं। उन्होंने कहा कि इन चुनौतियों को आज के समाज को स्वीकार करना होगा। डॉ रमेश ठाकुर ने आगे कहा कि आज पत्रकारिता आम लोगों तक पहुँच चुकी हैं। गांव के व्यक्ति भी मीडिया की विचारधारा को अच्छी तरह समझते हैं। महात्मा गांधी के  पत्रकारिता में योगदान का ज़िक्र करते हुएं डॉ रमेश ठाकुर ने कहा कि, महात्मा गांधी ने पत्रकारिता के माध्यम से एक तरफ जहां लोगों को स्वतन्त्रता संग्राम से जोडा तो वही दूसरी ओर उनके द्वारा निकाले गये अखबारों ने सामाजिक बुराइयों के खिलाफ एवं सामाजिक समानता के पक्ष में आम जनमानस में जागरूकता पैदा की।

आज के समय में मीडिया के क्षेत्र में होने वाली कठिनाइयों पर प्रकाश डालतें हुए डॉ रमेश ठाकुुर ने कहां कि, मीडिया और समाज की सोच कितनी भी बदलें, हमें महात्मा गांधी के सिद्धान्तों को नही भूलना चाहिए। अपने पत्रकारिता के अनुभव को साझा करते हुए उन्होंने कहा कि, महात्मा गांधी जी के विचारों और सिद्धान्तों को जितना विदेशों मे प्रचार और ंप्रसार मिला दुर्भाग्य से उतना भारत में नही मिला। उन्होंने कहा कि, सभी भारतीयों को गांधी वादी विचारधारा से जुडना चाहिए और वर्तमान पत्रकारिता में निष्पक्षता को नही भूलना चाहिए।कार्यक्रम में शामिल श्री राम कॉलेज के निदेशक डॉ0 आदित्य गौतम ने कहा कि, पत्रकारिता का सीधा सिद्धान्त है कि, 

ना काहु से दोस्ती,

ना काहु से बैर।

उन्होंने कहा कि, सूचना के अधिकार पर सभी का अधिकार हैं और पत्रकार का सबसे पहला काम यह हैं कि, सभी आवश्यक सूचनाएँ बिना प्रभावित हुए जनता तक समय रहते पहुचें।

श्री राम कॉलेेज की प्राचार्य डॉ0 प्रेरणा मित्तल ने इस अवसर पर कहा कि, गांधी जी के विचार देश और समाज के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं। गांधी जी का दर्शन सत्य एवं अहिंसा पर चलने की प्रेरणा मानवता के लिए संजीवनी हैं अतह उनके व्यक्तित्व से जहां सर्वसमाज को साथ लेकर चलने का विचार सिखते हैं वहीं पूर्व प्रधान मत्री लाल बहादुर शास्त्री जी के जीवन से हमें सादगी एवं राजनैतिक कौशलता सिखने को मिलती है।

कार्यक्रम के अन्त में सभी का धन्यवाद ज्ञापित करतें हुए विभागाध्यक्ष रवि गौतम ने कहा कि, भारतीय लोंकतन्त्र में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के विचार एवं संस्कार भारतीय लोकतन्त्र की जडों मजबूत किये हुए हैं। इस अवसर पर पत्रकारिता एवं जचसंचार विभाग के वरिष्ठ प्रवक्ता वैशाली गर्ग, शिवानी बर्मन, मयंक वर्मा, प्रितिका शर्मा एवं विभाग के विद्यार्थी उपस्थित रहे। 

No comments: