Friday, September 17, 2021

कचहरी में खड़े पेड़ से 500-500 के नोटों की बरसात



रामपुर। कचहरी में एक पेड़ से अचानक 500-500 के नोट बरसने शुरू हो गए। यह देखकर कचहरी में मौजूद वकील और फरियादी पेड़ के नीचे आ धमके। सभी नोट बीनने में लग गए, लेकिन कुछ देर बाद कुछ ऐसा हुआ कि सभी को नोट वापस भी करने पड़ गए।

रामपुर जिले की शाहाबाद तहसील में बंदर वकील के बिस्तर से पचास हजार रुपये की गड्डी लेकर भाग गया और पेड़ पर चढ़ गया। जानकारी के अनुसार जिस वकील के बिस्तर से बंदरों ने रुपयों की गड्डी उठाई तो उसके आसपास किसी ने खाने-पीने वाली चीजों को डालकर रखा था, जिसके कारण बंदर इकट्ठा हुए। पेड़ से बंदरों ने नोटों की गड्डियों को खोलकर बिखेरना शुरू कर दिया। पेड़ से गिर रहे नोटों को देखकर सभी लोग दौड़ पड़े और नोटों को बटोरा। इसके बाद उन्होंने वकील को पैसे वापस दे दिए। बंदरों की इस हरकत के चलते वकील को 17 नोट कम मिले। हालांकि फिर वकील ने सभी का शुक्रिया अदा किया।   

नगर निवासी विनोद शर्मा नोटरी वकील हैं। गुरुवार को वह निजी काम के लिए रकम लेकर तहसील गए थे। बताया जा रहा है कि पांच-पांच सौ के नोटों की पचास हजार की एक गड्डी बंदर उठाकर ले गया, जिससे अधिवक्ता के होश फाख्ता हो गए। वह बंदर के पीछे भागे तो उन्हें देख अन्य वकील भी आ गए लेकिन बंदर गड्डी लेकर पेड़ पर चढ़ गया। वकीलों को पता लगा तो अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया। बंदर ने गड्डी खोलकर नोट बिखेरना शुरू कर दिए। खाने-पीने की चीजों का लालच देकर किसी तरह बंदर से गड्डी छुड़ाई। अधिवक्ता ने बताया कि कुछ नोट बंदर ने फाड़ दिए। जबकि सत्तरह नोट उन्हें कम मिले।

No comments: