Wednesday, August 4, 2021

मुर्दाबाद के नारों के साथ व्यापारियों ने किया नगरपालिका के खिलाफ प्रदर्शन

 


मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश उधोग व्यापार मंडल के प्रदेश उपाध्यक्ष कृष्ण गोपाल मित्तल के नेतृत्व में व्यापारियों ने डीएम कार्यालय पर पालिका मुर्दाबाद के नारों के साथ प्रदर्शन करते हुए डीएम से मिलकर नगरपालिका में भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की।

डीएम कार्यालय पर नगरपालिका के खिलाफ नारेबाजी ओर मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए व्यापारियों ने प्रदर्शन किया। इस मौके पर व्यापारी नेता कृष्ण गोपाल मित्तल ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि तत्कालीन जिलाधिकारी द्वारा पत्र संख्या 2170/मिस/2019-20 एल बी सी दिनांक 14-8-2019 के पत्र अनुसार अध्यक्षा नगर पालिका परिषद मुजफ्फरनगर द्वारा अपने पदीय दायित्वों का दुरुपयोग करते हुए मनमाने तरीके से कार्य किए गए जिसमें गंभीर वित्तीय व प्रशासनिक अनियमितताएं संचालित हुई उक्त पत्र में आरोप स्पष्ट किए गए हैं। नगर पालिका परिषद मुजफ्फरनगर द्वारा विश्वसनीय सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि वर्ष 2018 में कांवड़ यात्रा के दौरान नगर क्षेत्र में सुरक्षा की दृष्टि से कैमरे लगाए गए थे जिसका कंट्रोल रूम पुलिस लाइन में बनाया गया था उन कैमरों की लाइनो पर आप्टिकल फाइबर से नेट चलाया जा रहा है। अगस्त 2020 में नगर पालिका परिषद द्वारा संबंधित ठेकेदारों को अग्रिम वर्षों तक कैमरो की लाईने बेच दी गई उक्त कृत्य से नगर की सुरक्षा व पुलिस प्रशासन की गोपनीयता भंग की गई जो अंडरग्राउंड डस्टबिन नगर में विभिन्न स्थानों पर बनाए गए थे सभी कूड़े से अटे पड़े हैं तथा कूड़ा डस्टबिन के बाहर सड़कों पर फैला रहता है जिससे आज कल बरसात के मौसम में संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है।

उनका कहना है कि स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत वाहन खरीदने में 82.49 लाख का घोटाला साबित हुआ है इस संबंध में गोल्डन ट्रायंगल कंपनी संबंधित अधिकारियो व नगर पालिका अध्यक्षा पर कोई कार्रवाई अमल में नहीं लाई गयी हाउस टैक्स वाटर टैक्स में बेतहाशा वृद्धि के बाद भी आम जनता को कोई लाभ नहीं मिल पा रहा है आबादी के अनुसार सफाई कर्मियो की संख्या बेहद कम है जिसको आवश्यकता अनुसार बढ़ाया जाना चाहिए। नगर पालिका के बड़े-बड़े दावों के बावजूद नगर क्षेत्र की सड़कों का हाल बहुत खराब है गहरे गहरे गड्ढे दुर्घटनाओं को आमंत्रण दे रहे हैं जिसमें पैच वर्क का कार्य होना बेहद जरूरी है नगर की प्रथम नागरिक होने के बावजूद भी नगर पालिका परिषद अध्यक्षा का गलत व्यवहार नगर की जनता के साथ लगातार देखने को मिलता है। इसी को लेकर पूर्व में एक आडियो भी पालिका अध्यक्ष का वायरल हो चुका है नगर पालिका परिषद के ई ओ सही तरीके से कार्य करना चाहते हैं लेकिन नगर पालिका अध्यक्षा के दबाव के कारण विघ्न उत्पन्न होता है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन नगर पालिका किरायेदारों की समस्या प्रशासनिक स्थल से हल कराने का प्रयास करें क्योंकि दुकानदार राजस्व सही माध्यम से सरकार तक पहुंचाना चाहते हैं भ्रष्टाचारियों के माध्यम से नहीं देना चाहते।

प्रदेश उपाध्यक्ष कृष्ण गोपाल मित्तल के साथ नगर अध्यक्ष राकेश त्यागी, पवन वर्मा, सरदार बलविंदर सिंह, प्रवीण जैन, अखिलेश शर्मा, तरुण मित्तल, सुनील वर्मा, भूरा कुरेशी, सुनील तायल (नमकीन वाले), शिव कुमार सिंघल, संजीव कुमार, उदित किंगर, विजय कुछल, इम्तियाज खान, कार्तिक गोयल, देवेंद्रसिंह, शहजाद व अमन आदि सैकड़ो व्यापारी उपस्थित रहे।

No comments:

Featured Post

कपिलदेव अग्रवाल व उमेश मलिक ने किया सडक सुरक्षा सप्ताह का उद्घाटन

मुज़फ्फरनगर। आज एआरटीओ कार्यालय पर एआरटीओ विनीत मिश्रा के निर्देशन में सड़क सुरक्षा सप्ताह का आयोजन किया गया है जिसमें उन्होंने सड़क सुरक्षा के...