Tuesday, August 31, 2021

राजस्व लेखपाल के लिए कब शुरू होगी आवेदन प्रक्रिया


लखनउ।  उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर होने वाली लेखपाल भर्ती को लेकर छात्रों को इस भर्ती की आवेदन प्रक्रिया के शुरू किए जाने का इंतजार है।  

उत्तर प्रदेश में जल्द ही राजस्व लेखपाल के पदों पर हजारों भर्तियां आयोजित की जानी हैं। यूपी अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अनुसार अभी राजस्व लेखपाल के 7,882 पदों को भरा जाना है, अनुमान है कि जल्द ही चकबंदी लेखपाल के पदों की प्रक्रिया को भी अमलीजामा पहनाया जा सकता है। इसलिए आज हम इस आर्टिकल में राजस्व लेखपाल की भर्ती प्रक्रिया से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी साझा करने जा रहे हैं। बीते करीब 2 सालों से यूपी में राजस्व और चकबंदी लेखपाल के हजारों पद खाली चल रहे हैं, जिसके बाद हाल ही में सरकार की मंजूरी मिलते ही राजस्व लेखपाल पदों को भरे जाने की प्रक्रिया में तेजी लाई जा चुकी है। 

उत्तर प्रदेश में आयोजित की जाने वाली राजस्व लेखपाल भर्ती का इंतजार कर रहे युवाओं को बता दें कि जल्द ही इस भर्ती के लिए आयोग की ओर से ऑफिशियल नोटिफिकेशन जारी किया जा सकता है, जिसके बाद लेखपाल भर्ती में आवेदन की शुरुआत की जा सकती है। अनुमान लगाया जा रहा है कि इस भर्ती के लिए सितंबर माह के पहले या दूसरे सप्ताह तक आवेदन प्रक्रिया की शुरुआत की जा सकती है। अनुमान लगाया जा रहा है कि सितंबर महीने में के अंत तक इस भर्ती के लिए आधिकारिक नोटिफिकेशन जारी कर भर्ती प्रक्रिया की शुरुआत कर दी जाएगी। लेकिन भर्ती से पहले इन दिनों लेखपाल भर्ती की लिखित परीक्षा को लेकर अभ्यर्थियों के मन में कई तरह के सवाल भी देखने को मिल रहे हैं। इसलिए आज हम आपको इस आर्टिकल में उन्हीं सवालों को लेकर कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां साझा करने जा रहे हैं जो प्रतियोगी युवाओं के लिए काफी मददगार साबित हो सकती है। ऐसे में उम्मीदवारों के बीच इस भर्ती की तैयारियां जोरों पर है। लेकिन अभ्यर्थियों के मन में सवाल यह भी देखा जा रहा है कि क्या लेखपाल भर्ती के साक्षात्कार समाप्त क्या जाने के बाद परीक्षा में इंग्लिश विषय को जोड़ा जाएगा। इस बात को लेकर संशय तब और बढ़ गया जब आयोग द्वारा लागू की गई पात्रता परीक्षा में अंग्रेजी को शामिल कर दिया गया। ऐसे में युवाओं के बीच इस बात को लेकर काफी लंबे समय से ऊहापोह मचा हुआ है। लेकिन इस संबंध में अभी तक आयोग की ओर से कोई भी आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है। इस बारे में आयोग के जरिए ऑफिशियल नोटिफिकेशन जारी होने के बाद ही जानकारी सत्य होने की पुष्टि की जा सकती है।  

No comments: