Wednesday, June 9, 2021

भोपा रोड पर क्लीनिक पर छापा, नकली दवाइयां बरामद



मुजफ्फरनगर । भोपा रोड के एक मेडिकल स्टोर पर मिली कोरोना की नकली दवाइयां पकडी गई हैं। सिटी मजिस्ट्रेट अभिषेक कुमार सिंह और ड्रग इंस्पेक्टर लव कुश ने छापेमारी कर सात डब्बे नकली दवाई मौके से बरामद की। इसकी कीमत 93000 रुपए बताई गई है। 

प्रशासन और औषधि विभाग द्वारा भोपा रोड पर एक चिकित्सक के क्लीनिक पर बने मेडिकल स्टोर पर की गई छापे की कार्रवाई में बड़ी मात्रा में नकली दवाइयां बरामद की गई हैं। औषधि निरीक्षक के नेतृत्व में यह रेड की कार्रवाई की गई। औषधि निरीक्षक ने यह जानकारी देते हुए बताया कि पिछले दिनों मुंबई में नकली दवाओं की एक खेप पकड़ी गई थी। इसके आधार पर जांच हुई तो पता चला कि मेरठ के निकट खरखौदा क्षेत्र के वीर खेड़ा में एक फैक्ट्री में नकली दवाइयां तैयार की जा रही थी। वहां से तैयार इन दवाओं को बाद में गौतम बुध नगर भेजा जाता था तथा वहां की पैकिंग कर देश के विभिन्न हिस्सों में इनकी सप्लाई की जाती थी। मुंबई में यह मामला पकड़ में आने के बाद मुंबई पुलिस पिछले दिनों मेरठ आई थी तथा यह फैक्ट्री सील कर दी गई थी। इसी क्रम में जांच के दौरान पता चला कि एवीमैक्स 400 और 200 एमजी के नाम से यह दवाइयां पैकिंग की जा रही थी। यह भी जानकारी में आया कि मैक्स रिलीफ केयर के नाम से सोलन हिमाचल प्रदेश में एक एक फैक्ट्री के नाम पर भी दवाएं तैयार की जा रही थी। बाद में जांच की गई तो पता चला कि इस नाम की कोई फैक्ट्री सोलन हिमाचल प्रदेश में है ही नहीं। इसी मामले की जांच करते करते जब आज टीम भोपा रोड पर पंजाबी बरात घर के पास स्थित डॉ पीयूष के क्लीनिक पर पहुंची और वहां स्थित न्यू विजय लक्ष्मी मेडिकल स्टोर पर छापे की कार्रवाई की तो वहां बड़ी संख्या में यह दवाइयां मिली। औषधि निरीक्षक ने बताया कि दवाओं के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं तथा आगे की कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में आज मेरठ तथा नोएडा में भी रेड की कार्रवाई की चल रही हैं।

No comments:

Featured Post

ग्राहकों को मिलेगी अब हाल मार्क मानक के अनुसार ज्वैलरी

मुजफ्फरनगर। ज्वेलरी को हॉल मार्क में शामिल करने के लिए वर्षों से सरकार से की जा रही अपील पर सर्राफा बाजार एसोसिएशन द्वारा ज्वेलरी की शुद्धता...