नर्स से मारपीट मामले में चर्चित चिकित्सक की मौत


रामपुर । पिछले दिनों एक नर्स से मारपीट के बाद चर्चा में आए सीनियर डॉक्टर बीएम नागर मंगलवार को अपने आवास पर मृत पाए गए। वह जिला अस्पताल में संविदा पर तैनात थे। मारपीट की इस घटना के बाद उनकी सेवा समाप्त कर दी गई थी, जबकि मारपीट करने वाली नर्स को भी सस्पेंड कर दिया गया था। हालांकि बाद में उनकी फिर से ज्वाइनिंग हो गई थी और वह पुन: अपनी सेवाएं देने लगे थे। डॉ. नागर घर में अकेले ही रहते थे।

जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. राकेश मित्तल ने बताया कि डॉक्टर नागर का परिवार लखनऊ में रहता है। वह यहां सरकारी आवास में अकेले रहते थे। अन्य साथी चिकित्सकों ने मंगलवार को उन्हें कई बार फोन मिलाया। फोन रिसीव न होने पर दोपहर एक बजे वार्ड ब्वाय को आवास पर देखने के लिए भेजा। वार्ड ब्वाय ने वहां जाकर देखा कि वह बेहोश पड़े हैं। आवाज देने पर भी नहीं उठ रहे। इस पर अन्य डॉक्टर और स्टाफ वहां पहुंच गए। उन्हें जिला अस्पताल लेकर आए। यहां पल्स, ईसीजी आदि चेक किया। शरीर में कोई हरकत नहीं हुई। उनकी मौत हो चुकी थी। उन्हें शुगर की भी दिक्कत थी। संभावना है कि शुगर के साथ हृदय गति रुकने से उनका निधन हुआ है। परिवार को सूचना दे दी गई है।

Comments

Popular posts from this blog

शाहपुर सौरम की महिला सिपाही ने की आत्महत्या

राज्य कर्मचारियों को भी मिलेगा बढा महंगाई भत्ता

प्रदेश में इन विभागों से खत्म हो जाएंगे 48 कानून