Thursday, May 13, 2021

शहर के बीचो बीच स्थित कोविड-19 सेंटर पर मरीज़ की मौत के बाद परिजनों का हंगामा

 मुजफ्फरनगर । शहर के बीचोबीच बाला जी चौक पर बने कोविड सेंटर में मरीज की मौत के बाद परिजनों ने जमकर हंगामा किया। बताया जा रहा है कि विवाद इतना बढ़ गया कि तीमारदारों में डॉक्टर के बीच हाथापाई के साथ-साथ अस्पताल के बाहर गोली भी चली। जिसकी सूचना पुलिस को दी गई सूचना पर शहर कोतवाली प्रभारी योगेश शर्मा भारी पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे इसके बाद उन्होंने आला अधिकारियों को इसकी सूचना दी। 


मामला शहर कोतवाली क्षेत्र के आर्यपुरी स्थित डॉ. देवेन्द्र सैनी हार्ट केयर सेंटर को बनाए गए कॉविड सेंटर का है जहां कोरोना ग्रस्त एक व्यक्ति की इलाज के दौरान मौत हो गई। युवक की मौत के बाद युवक के परिजनों ने अस्पताल पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए वहां जम कर हंगामा किया। हंगामे को देखते हुए अस्पताल से डॉक्टर और वहां कार्यरत स्टाफ बहार आया जिसके बाद परिजनों एवं डॉक्टरों के बीच हाथापाई हुई। विवाद इतना बढ़ गया कि मरीज के परिजनों ने गुस्से में आकर अस्पताल पर लापरवाही का आरोप लगाया। अस्पताल के बाहर ही कई राउंड फायरिंग किए जाने से दहशत फैल गई। बताया जाता है कि अस्पताल की ओर से गोली चलाई गई। अस्पताल में झगड़े की सूचना शहर कोतवाली को दी गई जहां से इस्पेक्टर योगेश शर्मा मय फोर्स के मौके पर मौके पर पहुंचे। मामले को संभालने की कोशिश की। मामला संभलता ना देख स्पेक्टर योगेश शर्मा ने आला अधिकारियों को इसकी सूचना दी सूचना पर एसपी सिटी अर्पित विजयवर्गीय, सिटी मजिस्ट्रेट अभिषेक कुमार व सीओ सिटी कुलदीप कुमार मौके पर पहुंचे जिसके बाद से अभी तक परिजनों को समझाने की भरसक कोशिश की जा रही है। दूसरी ओर डाक्टर ने हंगामा करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। इस अस्पताल का संचालन आईएमए के अध्यक्ष डॉ एम एल गर्ग एवं डा सैनी कर रहे हैं। यहां 11 हजार रुपये प्रतिदिन में इलाज का दावा किया गया था लेकिन आरोप है कि मरीजों से लाखों रुपये वसूल किए जा रहे हैं। इस मामले में भी दो दिन में दो लाख वसूली का आरोप है। 

No comments: