पडौस के गांव में दावत खाने गये किशोर का शव खेत में मिला


मुजफ्फरनगर । अपने घर से समीपवर्ती एक गांव में अकेले ही रात के समय दावत खाने गए एक किशोर की आज ईंख के एक खेत में लाश मिली। परिजनों ने जब यह बात सुनी तो परिवार में जबरदस्त तरीके से कोहराम मच गया। एसएसपी भी मौके पर आये और परिजनों को सांत्वना देने के बाद बुढ़ाना सीओ और कोतवाल को हत्या का खुलासा करने के निर्देश दे गये। इस घटना को लेकर गांव में भारी शोक है क्योंकि मृतक हंसमुख स्वभाव का था। 

मिली जानकारी के अनुसार लगभग 19 वर्षीय शादाब पुत्र मुनसब अली निवासी मोहल्ला रावल गांव जौला कोतवाली बुढ़ाना बीते दो दिन पूर्व रात लगभग 9 बजे अपने परिजनों से यह कहकर गया था कि वह पास के जोगियाखेडा गांव में दावत खाने जा रहा है। तब अगले दिन शाम तक भी घर ना लौटने पर परिजनों ने जब उसको फोन किया तो उसका नंबर स्विच ऑफ मिला। परिजनों को चिंता हुई तो परिजनों ने उसको अपने स्तर से तलाश‌ करना शुरू कर दिया। परिजनों को जब शादाब की कोई खबर नहीं लगी तो उन्होंने इसकी सूचना गढ़ी सखावतपुर पुलिस चौकी पर जाकर पुलिस को दी। तब पुलिस ने सूचना के आधार पर परिजनों से शादाब का हुलिया लेकर उसकी तलाश शुरू कर दी। उधर आज बुधवार की सुबह परिजनों ने एक बार फिर शादाब को फोन लगाया तो उसके मोबाइल पर घंटी जाती रही लेकिन उधर से फोन‌ रिसीव नहीं हुआ। बताया जाता है कि आज बुधवार की सुबह एक किशोर का शव गांव जौला के पूर्व प्रधान मुन्ना के ईंट के भट्टे के सामने स्थित ईंख के खेत में पडा मिला। यह जानकारी गांव के एक व्यक्ति ने गांव के लोगों को दी तो मौके पर सैंकड़ों लोग इकट्ठा हो गए। तब किसी ने शव की पहचान शादाब के रुप में की। यह खबर गांव में आग की तरह फ़ैल गई। परिजनों को पता लगा तो वे भी रोते पीटते मौके पर आ गए। खबर बुढ़ाना कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक मगनवीर सिंह गिल और सीओ विनय गौतम को मिली तो वे भी जरा सी ही देर में पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच गये। कुछ देर बाद जनपद मुजफ्फरनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव भी मौके पर आये और परिजनों को सांत्वना दी। पुलिस ने जैसे ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजना चाहा तो ग्रामीण आरोपी की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। तब एसएसपी अभिषेक यादव और भाजपा के वरिष्ठ नेता हुसैन अहमद ने आक्रोशित ग्रामीणों को समझा बुझाकर शांत कर शव‌ को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बताया जाता है कि गांव में ही मेन रोड पर बैंक के पास मृृतक की वेल्डिंग की दुकान है। मृतक 10 भाई बहन हैैं। घर में मृतक शादाब सबसे छोटा बताया गया है। सभी बहनों की शादी हो चुकी है। एसएसपी अभिषेक यादव ने मौके का मुआयना कर सीओ विनय गौतम व कोतवाली प्रभारी मगनवीर सिंह गिल को उक्त घटना का खुलासा जल्द से जल्द करने के निर्देश दिए। घटना को लेकर पूरे गांव में भारी शोक व्याप्त है। मृतक के परिवार की किसी से भी रंजिश नहीं बताई जा रही। हत्या का मकसद क्या है ये पता नहीं लग पा रहा है। पुलिस ने भी पड़ोसियों और गांव के जिम्मेदार लोगों से भी इस मामले में बात की। पुलिस ने तहरीर के आधार पर जांच शुरू कर दी है।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा