ए एम यू में हो रहा उर्दू का शोषण : कलीम त्यागी


मुजफ्फरनगर: अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में उर्दू भाषा का शोषण लगातार हो रहा है। विश्वविद्यालय के किसी भी कार्यालय में उर्दू में लिखे गए  प्रार्थना पत्र स्वीकार नहीं किए जाते हैं, अफसोस की बात है विश्वविद्यालय के कर्मचारी और प्रोफेसर जो उर्दू की रोज़ी रोटी खाते हैं वो भी  विरोध में अपनी आवाज बुलन्द नहीं करते हैं। वर्तमान में, विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा अपने प्रॉस्पेक्टस से कक्षा 1 और 6 में उर्दू माध्यम शिक्षा को समाप्त कर दिया है। यह उर्दू के साथ एक बड़ी साजिश है। जिससे पूरे देश  के उर्दू प्रेमियों में रोष व्याप्त है।

 ये विचार आज  योगेन्द्रपुरी में स्थित उर्दू घर में एक बैठक के दौरान, उर्दू डेवेलपमेंट  ऑर्गनाइजेशन, मुज़फ्फरनगर के जिलाध्यक्ष कलीम त्यागी ने व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के -2021-2022 के पाठ्यक्रम से पता चलता है कि कक्षा 1 और 6 से उर्दू माध्यम की शिक्षा समाप्त कर दी गई है। यह बहुत चिंताजनक और निंदनीय है। उन्होंने आगे कहा कि हालांकि एएमयू अपने शैक्षिक मानकों के मामले में सबसे आगे है, लेकिन उर्दू भाषा के प्रति इसकी उदासीनता अनुमान से परे है।

यूडीओ के संयोजक तहसीन अली ने कहा कि अगर अलीगढ़ में उर्दू भाषा को खत्म किया जा रहा है तो हम कहां उम्मीद कर सकते हैं कि उर्दू का इस्तेमाल किया जाएगा।

उर्दू बेदारी मुहिम के संयोजक मास्टर शहजाद अली ने कहा कि अब हमारे घरों में उर्दू को जीवित रखने का समय आ गया है अन्यथा इतिहास हमें माफ नहीं करेगा।

यूडीओ के सदस्य औसाफ अहमद ने कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय फासीवादी शक्तियों के चंगुल में आ गया है। इसके लिए राष्ट्र को जागृत रहने की आवश्यकता है।

मास्टर शोएब अहमद ने कहा कि सर सैयद अहमद खान ने संस्था की नींव इसलिए नहीं रखी थी, कि यहां उर्दू को खत्म किया जाएगा। उन्होंने उर्दू के प्रचार के लिए साइंटिफिक सोसाइटी की स्थापना की थी। आज विश्वविद्यालय अपने उद्देश्य से भटक गया है जिससे उसकी लोकप्रियता में कमी आ सकती है।

उर्दू डेवेलपमेंट ऑर्गनाइजेशन मुज़फ्फरनगर ने इस संबंध में कुलपति को विरोध का पत्र भेजा है और उनसे उर्दू माध्यम में शिक्षा फिर से शुरू करने का आग्रह किया है।

बैठक में कलीम त्यागी, तहसीन अली, शहज़ाद अली, शोएब अहमद, ओसफ अहमद, शमीम कस्सार, बदर  खान, मौलाना मूसा कासमी, साद हैदर आदि उपस्थित थे।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा