मुजफ्फरनगर समेत यूपी के जिलों में भी बाढ को लेकर अलर्ट



 मुजफ्फरनगर। उत्तराखंड के जोशीमठ के चमोली जिले में ग्लेशियर के टूटने के बाद डैम टूटने टूट जाने से पानी का प्रभाव काफी तेज हो गया है जिसके अगले 3 घंटे में हरिद्वार ऋषिकेश सहित मुजफ्फरनगर स्थित समस्त नदियों में बहाव के तेज हो जाने की संभावना जताई जा रही है जिसको देखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने मुजफ्फरनगर के जिला प्रशासन से अलर्ट रहने के आदेश जारी किए हैं। हरिद्वार जिले को हाईअलर्ट पर किया गया , गंगा किनारे रह रहे लोगो को तुरंत हटने के लिए भी कहा गया हे , केंद्र सरकार से सीएम रावत ने वार्ता करके NDRF को तत्काल भेजने की मांग की हे , NDRF की टीम मौके के लिए रवाना हो गयी हे , भारी तबाही की आशंका , केदारनाथ आपदा से ये बड़ी आपदा बताई जा रही हे , बिजनौर जिले में भी हाईअलर्ट पर रखा गया , गंगा किनारे बसे लोगो को हटाया जा रहा है। 

विश्वस्त सूत्रों के हवाले से  प्राप्त जानकारी से मिली है की जिला चमोली स्थित  रेणी - तपोवन (जोशीमठ)   ऋषि गंगा में ग्लेशियर फटने से पानी बढ़ गया है तथा  बाढ़ का खतरा बढ़ गया है  एवं जनहानि संभव है। जोशीमठ, कर्णप्रयाग, रूद्रप्रयाग, श्रीनगर से ऋषिकेश हरिद्वार  तक अलकनंदा तथा गंगा नदी के किनारें न जाये । जन हानि संभव है जिला पुलिस एंव प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा  सावधानी रखने की सलाह दी गयी है।

कंट्रोल के माध्यम से ग्लेशियर टूटने की सूचना पर, समस्त क्षेत्रीय प्रभारी अपने अपने क्षेत्रों में व्यापक बन्दोबस्त करा रहें हैं । वहीं कोतवाली ऋषिकेश पुलिस द्वारा त्रिवेणी घाट परिसर को लाउडस्पीकर के माध्यम से सचेत कर तत्काल खाली कराया जा रहा है सावधान रहें तथा गंगा किनारे न जाएँ।

Comments

Popular posts from this blog

राज्य कर्मचारियों को भी मिलेगा बढा महंगाई भत्ता

डीएम सेल्वा कुमारी जे का तबादला, मनीष बंसल होंगे नये डीएम!

शाहपुर सौरम की महिला सिपाही ने की आत्महत्या