पीएफआई को फंडिंग के मामले को लेकर छापे


नई दिल्ली।  माहौल खराब करने के लिए पीएफआई द्वारा फंडिंग की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय ने यूपी समेत कई राज्यों में छापे मारे हैं। दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हुए प्रदर्शन में पीएफआई के शामिल होने के मामले में दर्ज एफआईआर को लेकर यह कार्रवाई की जा रही है। 

यूपी के लखनऊ और बाराबंकी समेत देश भर में कुल 26 जगहों पर पर प्रवर्तन निदेशालय ने छापे मारे हैं। इसमें केरल, दिल्ली, राजस्थान, तमिलनाडु, कर्नाटक, बिहार और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में छापेमारी चल रही है। बता दें कि सीएए और एनआरसी को लेकर हुई हिंसा में लखनऊ से गिरफ्तार नदीम बाराबंकी के कुर्सी इलाके का रहने वाला था। बाराबंकी के कुर्सी थाना क्षेत्र के आगासड़ गांव में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया से जुड़े एक व्यक्ति के घर बृहस्पतिवार को प्रवर्तन निदेशालय नई दिल्ली की टीम ने अचानक छापेमारी की। इस कार्यवाही से आसपास इलाके में हड़कंप मच गया। बताया जा रहा है कि कुर्सी थाना क्षेत्र के आगासड़ गांव निवासी मुब्सिर पर आरोप है कि वह पीएफआई से जुड़ा है। पता चला है कि विदेशी मुद्रा के लेनदेन को लेकर यह कार्रवाई की है। हालांकि आधिकारिक तौर पर इस बारे में कुछ नहीं बताया गया है।  

पिछले दिनों हाथरस में दुष्कर्म पीड़िता की मौत के बाद बिगड़े माहौल मैं भी पीएफआई का हाथ बताया जा रहा है। मथुरा पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार कर दावा किया था कि यह पी एफ आई के सक्रिय सदस्य हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने इस मामले को अपने हाथ में लिया था। पकड़े गए आरोपी इस समय प्रवर्तन निदेशालय की रिमांड पर हैं। 

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा