Sunday, January 31, 2021

आम बजट से व्यापारी वर्ग को बडी उम्मीदें


 पश्चिमी उत्तर प्रदेश संयुक्त उद्योग व्यापार मंडल के व्यापारियों की निगाहें कल केंद्रीय बजट पर टिकी हुई हैं। 

पश्चिमी उत्तर प्रदेश संयुक्त उद्योग व्यापार मंडल के अनिल कंसल (प्रदेश वरिष्ठ प्रचार मंत्री)ने कहा कि,कोरोना काल में लॉक डाउन के दौरान देश भर में आवश्यक सामानों की आपूर्ति को बनाये रखने में देश के व्यापारियों ने कोई कसर नहीं छोड़ी लेकिन उसके बावजूद भी विभिन्न आर्थिक पैकजों में व्यापारियों को कोई भी आवंटन न होने से निराश देश भर के व्यापारियों ने कल संसद में प्रस्तुत होने वाले केंद्रीय बजट पर भारी उमीदें बाँधी हुई हैं, सरकार अपनी आय के स्त्रोत बढ़ाने के लिए संभवत कुछ कर लगाने की घोषणा कर सकती है लेकिन सरकार को 60 साल से ऊपर के व्यापारियों का भी विशेष धयान रखते हुए उनके द्वारा बैंक व पोस्ट ऑफिस में जमा धन पर ब्याज दर बढ़ा कर उप्लब्ध कराये व उनके जीवन को सुगम बनाने में सहयोग करे।सरकार को यह देखना होगा कि, कर कहाँ लगेगा और उसका व्यापार एवं उद्योग पर क्या प्रभाव पड़ेगा की बजट में एक नेशनल ट्रेड पालिसी फॉर रिटेल ट्रेड, ई कॉमर्स पालिसी एवं एक ई कॉमर्स रेगुलेटरी अथॉरिटी का गठन तथा एक वोलंटरी डिस्क्लोज़र स्कीम (वीडीएस) भी घोषित होनी जरूरी है। हर्षवर्धन जैन (प्रदेश संगठन मंत्री) ने बताया कि वीडीएस स्कीम के अंतर्गत घोषित करने वालों से कोई पूछ ताछ न होने का आश्वासन भी दिया जाना आवश्यक है*

  *अमित गर्ग (प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष) ने कहा की देश में कथित रूप से छिपे हुए कारोबार को मुख्य धारा से जोड़ा जा सके,व्यापारी वित्तीय संकट से जूझ रहे हैं और उन्हें उम्मीद है की बजट में व्यापारियों को बैंकों एवं वित्तीय संस्थानों से कम ब्याज पर तथा आसान शर्तों पर कारोबार के लिए धन मिले, इसकी नीति बजट में अवश्य घोषित होगी वहीँ कॉर्पोरेट सेक्टर पर जिस प्रकार से आय कर की उच्चतम सीमा 25 % है, व्यापारियों पर भी यह लागू होने का एलान भी बजट में होना चाहिए। जयवीर सिंह प्रदेश महामंत्री युवा ने कहा कि, प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के लोकल पर वोकल तथा आत्मनिर्भर भारत अभियान को सफल बनाने के लिए देश के व्यापारियों, कारीगरों,हस्तशिल्पी एवं देश की प्राचीन कला का काम करने वाले लोगों को इस अभियान से जुड़ने के लिए प्रोत्साहित करने हेतु भी एक व्यापक योजना बजट में घोषित होनी चाहिए। देश में महिला उद्यमियों के बढ़ावा देने के लिए भी बजट में एक विशेष प्रावधान की उम्मीद व्यापारी लगाए बैठें।*

   *राधेश्याम विश्वकर्मा प्रदेश संगठन मंत्री ने कहा की जीएसटी कर प्रणाली जो बेहद जटिल हो गई है उसके सरलीकरण की नीति भी बजट में घोषित हो वहीँ दूसरी ओर व्यापारियों पर लगे सभी प्रकार के कानूनों की समीक्षा के लिए एक टास्क फाॅर्स के गठन की घोषणा भी बजट का हिस्सा हो सकती है ! देश में घरेलू व्यापार पर लगे लगभग 28 तरह के लाइसेंस के स्थान पर आधार की तरह केवल एक लाइसेंस लागू करने की घोषणा भी बजट में होनी चाहिए, राकेश अग्रवाल (प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य) ने कहा कि,वहीँ इज ऑफ़ ड्यूइंग बिजनिस को बढ़ावा देने के लिए भी एक व्यापक योजना बजट का हिस्सा हो सकती है ! उन्होंने यह भी कहा की देश की सीमाओं की रक्षा कर रहे वीर जवानों तथा देश के सभी राज्यों की पुलिस के लिए एक विशेष कोष की स्थापना की घोषणा भी बजट में हो जिसमें देश के नागरिक स्वेच्छा से धन दे और वो दिया हुआ धन आयकर से मुक्त होना चाहिए।*

   *विपुल भटनागर व जितेन्द्र कुच्छल प्रदेश मंत्री ने कहा की सरकार द्वारा सभी विभागों को ई सिस्टम से जोड़ चुकी है , इस दृष्टि से सभी कर एवं अन्य कानूनों की समय पर पालना के लिए जरूरी है की व्यापारियों को भी कम्प्यूटरीकृत प्रणाली से जोड़ा जाए।नरेन्द्र मित्तल नगर अध्यक्ष व नगर महामंत्री सुमित गर्ग ने कहा कि,इस दृष्टि से व्यापारियों को कंप्यूटर एवं उससे सम्बंधित सामन खरीदने पर सरकार की और से सहायता देने का प्रावधान भी बजट की एक उम्मीद है। वहीँ कमलकिशोर गोयल व प्रमोद गोयल व शिवम सिंघल ने कहा की देश के रिटेल व्यापार के वर्तमान स्वरुप के आधुनिकीकरण के लिए भी सरकार की कोई सहायता योजना समय की मांँग है।*

*नई मंडी अध्यक्ष प्रवीण जैन व कोषाध्यक्ष विमल गुप्ता ने कहा की डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिए बैंकों द्वारा लगाए जाने वाले चार्ज को एक सब्सिडी के माध्यम से सरकार सीधे बैंकों को देने की नीतिगत घोषणा को भी बजट का हिस्सा बनाया जाना चाहिए, राजीव गुप्ता अंसारी रोड़ अध्यक्ष व नगर ऑडिटर अजय गर्ग व मुकेश गुप्ता ने देश के निर्यात व्यापार को ज्यादा से ज्यादा आगे बढ़ाने के लिए व्यापारियों एवं अन्य लोगों को प्रोत्साहित करने की योजना भी बजट में घोषित होना भी आज की जरूरत है।*


   *विनोद अग्रवाल व सोहनलाल गर्ग मीडिया प्रभारी ने कहा की देश में लगभग 8.5 करोड़ व्यापारी हैं जो सालाना 80 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का कारोबार करते हैं, और लगभग 40 करोड़ लोगों को रोजगार देते हैं सरकार इस पर भी ध्यान देते हुए व्यापारियों की हित की नितियाँ बनाये व्यापारी इस देश का भाग्यविधाता व कर दाता है, इसके कर के बिना देश का विकास संभव नहीं है।*

दूध के कैंटर ने ट्रैफिक पुलिस कर्मी समेत तीन की जान ली


 गाजियाबाद । विजय नगर इलाके में एक दूध के कैंटर ने सड़क पर खड़े राहगीरों को टक्कर मार दी। इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई है जबकि 5 लोग घायल हैं। मृतकों में एक ट्रैफिक पुलिस का जवान भी शामिल है।

मिली जानकारी के मुताबिक, रविवार की शाम एनएच-9 पर विजय नगर इलाके में सड़क पर कुछ लोग खड़े थे। तभी एक दूध का कैंटर आया और सड़क पर खड़े लोगों को टक्कर मार दी। इस हादसे में दो पुरुष और एक महिला की मौत हो गई। मृतकों में शामिल ट्रैफिक पुलिस के कॉन्स्टेबल मनोज सिह (32) पुत्र शिवराज सिंह निवासी बरौला अलीगढ़ के रहने वाले थे।

हादसे के वक्त मनोज सिंह विजय नगर तिराहे पर ट्रैफिक संचालित कर रहे थे। मनोज के परिवार में अब पत्नी के अलावा दो माह की बेटी है। बेटी के पैदा होने के बाद अवकाश नहीं होने की वजह से मनोज केवल एक बार उसका चेहरा देख पाए थे। हालांकि अब वह जल्दी ही अवकाश लेकर पत्नी और बेटी के पास जाने वाले थे।

अब मंत्री कपिल देव अग्रवाल को मिली धमकी वाली कॉल

 


मुजफ्फरनगर । राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार कपिल देव अग्रवाल को भी उसी फोन नंबर से धमकी भरी कॉल आई है जिससे विधायक उमेश मलिक को धमकी दी गई थी। 

बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक के बाद यूपी सरकार में राज्य मंत्री कपिल देव अग्रवाल को भी उसी नंबर से कॉल पर धमकी दी गई है। सूचना पर नई मंडी कोतवाल अनिल कपरवान मंत्री के घर पहुंचे और उनसे मामले की जानकारी ली।

मुजफ्फरनगर की महिला पुलिसकर्मी को गोली मार सिपाही ने खुद को भी मार ली गोली



अमरोहा । गजरौला थाना क्षेत्र में सिपाही ने महिला सिपाही को गोली मारकर खुद को गोली मार ली। जिसके बाद दोनों को गंभीर हालत में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया जहां से गंभीर हालत देखते हुए दोनों को ही हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। पूरा मामला प्रेम प्रसंग से जोड़कर देखा जा रहा है।

सूत्रों के अनुसार  मुजफ्फरनगर के तितावी थाना क्षेत्र के गांव सालाखेड़ी निवासी महिला कांस्टेबल मेघा चौधरी पुत्री सर्वेंद्र बीते करीब दस माह से गजरौला थाने में तैनात हैं। वह शहर के मोहल्ला अंवतिका नगर निवासी हेड कांस्टेबल नरेंद्र कुमार के मकान में किराए पर रहती है। पास ही में अमरोहा जनपद के सैद नगली कस्बे में डायल 112 पर तैनात सिपाही मनोज शर्मा भी किराये पर रहता था जो फिलहाल सैदनगली थाना क्षेत्र में रह रहा है। रविवार देर शाम सिपाही मनोज शर्मा तमंचा लेकर सिपाही मेघा के कमरे पर पहुंचा और मेघा को गोली मार दी और खुद को भी गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। जिसके बाद मामले की जानकारी होने पर पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया।

घटना की जानकारी मिलते ही ग़जरौला थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों घायल सिपाहियों को नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया जहां से दोनों की हालत नाजुक देखते हुए मुरादाबाद रेफर कर दिया गया। मौके की नजाकत को देखते हुए पुलिस अधीक्षक अमरोहा सुनीति ने घटनास्थल का मुआयना किया ओर पूरी जानकारी हासिल की।

घटना की जानकारी देते हुए एसपी ने बताया कि महिला सिपाही गजरौला थाना में जबकि आरोपी सिपाही मनोज डायल 112 में सैदनगली कस्बे में तैनात है। किसी बात को लेकर सिपाही ने तमंचे से महिला सिपाही को गोली मार दी और खुद को भी गोली मारकर घायल कर दिया है। दोनों की हालत चिंताजनक बनी हुई है और दोनों ही मुरादाबाद में भर्ती है।

अब 5 फरवरी को शामली में किसान महापंचायत की हुंकार

शामली l केन्द्र सरकार द्वारा बनाये गए नये कृषि कानून के विरोध में आगामी 5 फरवरी को रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी गढीपुख्ता क्षेत्र के गांव भैंसवाल पहुंचकर महापंचायत को सम्बोधित करेंगे। इसकी तैयारियों को लेकर रालोद नेताओं की बैठक हुई जिसमें उक्त महापंचायत को सफल बनाये जाने का आहवान किया गया।
गत दिवस जनपद मुजफ्फरनगर में किसानों की महापंचायत में पहुंचने के बाद रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी अब आगामी 5 फरवारी को शामली जिले के गढीपुख्ता थाना क्षेत्र के गांव भैंसवाल में होने वाली महापंचायत में भी भाग लेगे। जिसके चलते पुलिस प्रशासन भी सतर्क हों गया है। रविवार को शहर के रालोद कार्यालय पर कार्यकर्ताओं की एक बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें जिलेभर के रालोद कार्यकर्ता पहुंचे। बैठक को संबोधित करते हुए पूर्व सांसद अमीर आलम ने कहा कि केन्द्र सरकार जबरन किसानों पर नये-नये कानून बनाकर थोपने का काम कर रही है। जिससे किसान परेशान है। कहा कि आगामी 5 फरवरी को रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी गांव भैंसवाल में एक महापंचायत करेगे, जिसमें सभी लोग अधिक से अधिक संख्या में पहुंचे। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष योगेन्द्र सिंह चैयरमैन, पूर्व विधायक नवाजिश आलम, पूर्व विधायक राजेश्वर बंसल, अशरफ अली खान, चैयरमैन अब्दुल गफ्फार, वाजिद अली प्रमुख, तरसपाल मलिक, अनवार चौधरी, सतबीर पंवार, फिरोज खान, सुनील मलिक, रजनीश कुमार, देशराज भनेडा, मुबारक अली, देवराज पहलवाल, विकास धीमान आदि मौजूद रहे।

पुलिस चौकी से निकलते छात्र की निर्मम हत्या


मुज़फ्फरनगर । तितावी थाना क्षेत्र के बघरा में एक छात्र की निर्मम हत्या कर दी गई। आरोप है कि पुलिस की  लापरवाही से छात्र की हत्या हुई। 

बताया गया है कि मृतक युवक के साथ कुछ युवक मारपीट कर रहे थे। मामला पुलिस तक पहुंचा लेकिन मारपीट  कर रहे युवकों को पुलिस ने चौकी से ही छोड़ दिया। बताया जाता है कि पुलिस चौकी से छूटने के बाद  चंद कदमो की दूरी पर युवकों ने छात्र की हत्या कर दी।  हत्या से पहले भी चौकी से चंद कदमों की दूरी पर ही छात्र के दोस्त छात्र के साथ मारपीट कर रहे थे। इसके बाद छात्र ने  पुलिस चौकी पर भाग कर जान बचाई थी। बाद में पिटाई करने वाले युवकों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था। वहां से चंद मिनटों के बाद ही चौकी से ही आरोपियों को पुलिस ने रिहा कर दिया। इसके बाद पुलिस चौकी से निकलते ही आरोपियों ने छात्र को मारपीट कर चलते ट्रक के नीचे डाल कर मार डाला। 

 तितावी थाने क्षेत्र के बघरा पुलिस  चौकी के पास की इस घटना से परिजनों में रोष है।

श्री राम मंदिर निर्माण के लिए उद्योगपतियों ने दिया चंदा

मुजफ्फरनगर l बिंदल पेपर्स ग्रुप ऑफ इंडस्ट्रीज से जुड़े डायरेक्टरों के परिवार के सदस्यों ने श्रीराम मंदिर निर्माण को कुल मिलाकर 23.94 लाख रुपए की सहयोग निधि दी है। एक समारोह में आरएसएस के विभाग प्रचारक कुलदीप कुमार प्रदेश के राज्यमंत्री कपिलदेव अग्रवाल व अन्य संघ पदाधिकारियों ने सहयोग निधि के चेक ग्रहण किए।
उद्यमी समाजसेवी राकेश बिंदल के पचैंडा रोड स्थित आवास पर सायं के समय आयोजित कार्यक्रम में ग्रुप के चेयरमैन सुरेश बिंदल, अशोक बिंदल, राकेश बिंदल, अनिल बिंदल, पंकज अग्रवाल, अभिषेक अग्रवाल, अर्जुन अग्रवाल, अंबरीश कुमार, गोपाल बंसल, अंकित बिंदल, विनोद सिंघल, गौरव सिंघल, अंजी बिंदल, अभिनव अग्रवाल आदि ने अपने परिवार सहित अलग अलग सहयोग कर 23.94 लाख रुपए सहयोग निधि का स्वैच्छिक योगदान किया। इस अवसर पर सहयोग राशि के चेक ग्रहण करने को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के विभाग प्रचारक कुलदीप कुमार, जिला कार्यवाह ब्रजेश कुमार, जिला संपर्क प्रमुख कुलदीप जी, संघ के नगर कार्यवाह नितिन कुमार, प्रदेश के स्वतंत्र प्रभार राज्यमंत्री कपिलदेव अग्रवाल, श्रीराम मंदिर निर्माण संग्रह समिति के जिला संयोजक कुशपुरी आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे। बिंदल परिवार के बच्चों और परिवार की महिलाओं ने भी अलग अलग अपनी ओर से सहयोग निधि दी।

विक्रम सैनी की भाकियू पर फेसबुक पोस्ट से मचा घमासान


मुजफ्फरनगर । भाकियू पर खतौली के भाजपा विधायक विक्रम सैनी की फेसबुक पोस्ट से घमासान मच गया है। विधायक की भाकियू प्रवक्ता पर की गई पोस्ट से भाकियू कार्यकर्ताओं में आक्रोश बन गया है। कार्यकर्ताओं ने विधायक की पोस्ट पर माफी न मांगने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। उधर इस पोस्ट में विपक्षी दलों के सीधे तौर पर भाकियू के मंच पर दिखने के बाद की गई टिप्पणी को भाजपा की ओर से जवाबी कार्रवाई मानी जा रही है।

कृषि कानूनों को लेकर आंदोलन कर रहे भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत पर भाजपा विधायक ने फेस बुक पर विवादित पोस्ट की है। फेसबुक पर तेजी से वायरल हो रही पोस्ट से भाकियू कार्यकर्ताओं ने आक्रोश बना हुआ है।

अखिलेश यादव से मिला सपा का प्रतिनिधिमंडल

नई दिल्ली/मुजफ्फरनगर। समाजवादी पार्टी नेताओं ने सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से दिल्ली में मुलाकात की सपा जिलाध्यक्ष प्रमोद त्यागी एडवोकेट,सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के बुलावे पर दिल्ली पहुंचे थे। सपा मुखिया ने प्रमोद त्यागी एडवोकेट वे उनके साथ गए पार्टी के प्रतिनिधिमंडल से किसान आंदोलन पर पूरी जानकारी लेते हुए किसान महापंचायत व विगत दिनों सपा द्वारा मुजफ्फरनगर में किसानों के समर्थन में किए गए आंदोलन की समस्त जानकारी लेते हुए प्रमोद त्यागी एडवोकेट के नेतृत्व में किए जा रहे पार्टी के प्रोग्रामों की प्रशंसा की,तथा सपा प्रतिनिधिमंडल को किसान आंदोलन व किसानों पर भाजपा सरकार  द्वारा किए जा रहे अत्याचार पर खुलकर बोलने के लिए कहा। सपा प्रतिनिधि मंडल में सपा के पूर्व प्रत्याशी चरथावल मुकेश चौधरी,पूर्व सपा प्रत्याशी मीरापुर हाजी लियाक़त अली,सपा के पूर्व महानगर अध्यक्ष अंसार आढ़ती विगत दिनों सपा में शामिल हुए सैयद अली अब्बास काजमी सपा कोषाध्यक्ष सचिन अग्रवाल, अंजुम कमाल जोली प्रधान शाह रजा नकवी सपा के छात्र नेता युसूफ गौर हनी डॉ नूर हसन सलमानी आदि मौजूद रहे।

एम एल सी दिनेश गोयल का स्वागत किया


मुजफ्फरनगर । अंतर्राष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन इकाई मुजफ्फरनगर के द्वारा दिनेश गोयल विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) का के•संस भगत सिंह रोड मार्केट पर पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया गया वैश्य समाज के व्यापारी बंधुओं द्वारा वह अंतर्राष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन के पदाधिकारी राहुल गोयल अध्यक्ष, शिशु कांत गर्ग एडवोकेट महासचिव, श्रवण गुप्ता सचिव ने मैं श्री दिनेश गोयल जी को पगड़ी पहनाकर सम्मानित किया, राकेश गोयल के•संस,सतीश गोयल सर्राफ, श्रवण कुमार सर्राफ,  अशोक अग्रवाल, अमित गोयल बोबी सभासद,सुनील सिंघल वरिष्ठ भाजपा नेता ने दिनेश गोयल जी को फूलों का गुलदस्ता व आईवीएफ का फटका पहना कर अभिनंदन किया भगत सिंह रोड के व्यापारियों ने फूलों की माला पहनाकर जोरदार तरीके से स्वागत किया माननीय दिनेश गोयल एमएलसी ने कहा कि मेरा समाज मेरे साथ था इस कारण से  मेरी इतनी बड़ी जीत हुई है मैं सदैव वैश्य अग्रवाल समाज का ऋणी रहूंगा और अंतर्राष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन सम्मेलन के राहुल गोयल अध्यक्ष, श्रवण गुप्ता,शिशु कांत गर्ग,  रोहित गोयल, अंकुर जैन,सुरेश गोयल, नवीन गुप्ता वह अन्य सभी पदाधिकारी का दिल से आभारी रहूंगा इस अवसर पर एडीजी क्रिमिनल के पद पर मनोनीत हुए श्री जोगेन्दर गोयल एडवोकेट को श्री दिनेश गोयल एमएलसी द्वारा पगड़ी पहनाकर सम्मान किया इस भव्य कार्यक्रम में राहुल गोयल,श्रवण गुप्ता,  संजय जिंदल काका, अरुण लाला, अश्वनी संगल, संजीव जैन, प्रमोद जैन, हिमांशु गोयल, सुनील तायल, नितिन जैन, जगत लाल जी, विकास ग्रोवर, सरदार मंजीत, आनंद अग्रवाल, राजीव मित्तल, संजय मुद्गल, नवीन गुप्ता ठेकेदार वह भारी संख्या में व्यापारी उपस्थित रहे। 

छात्रा से छेड़छाड़ को लेकर भिड़े दो गुट


 मुजफ्फरनगर । बुढ़ाना के कालेज में एक छात्रा के साथ छेड़छाड़ को लेकर छात्रों के दो गुटों में मारपीट हो गई। मामला पुलिस में पहुंचा तो पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी। मिली जानकारी के अनुसार आज रविवार के दिन कस्बा बुढ़ाना के बड़ौत रोड के समीप स्थित एक कालेज के कुछ छात्रों के दो गुटों में जमकर मारपीट हो गई। बताया जाता है कि छात्रों के दो गुटों में हुई लड़ाई की लाइव मारपीट वायरल हो गई। बताया जाता है कि ये मारपीट कालेज की एक छात्रा से छेड़खानी को लेकर हुई है। आरोप है कि एक पक्ष छात्रा से छेड़छाड़ कर रहा था। जब दूसरे ग्रुप ने इस बात का विरोध किया तो फिर दोनों गुटों में आपस में मारपीट हो गई। आरोपी फरार हो गए। जिसमें एक गुट के छात्र की जमकर पिटाई की गई। घायल छात्र ने अपने साथियों के साथ बुढ़ाना कोतवाली पहुंचकर तहरीर देकर पुलिस से आरोपी छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। बुढ़ाना पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक को मिली हत्या की धमकी

मुजफ्फरनगर l बुढ़ाना विधानसभा सीट से भाजपा विधायक उमेश मलिक को देर रात व्हाट्सएप कॉल पर आई पाकिस्तान से जान से मारने की धमकी दी गई है सूत्रों ने बताया कि कल देर रात पाकिस्तान से आई एक कॉल पर विधायक उमेश मलिक को जान से मारने की धमकी दी गई है

विधायक  उमेश मलिक को भी रात पाकिस्तान से 9412211911 पर whatsapp +923156267120से जान से मारने की धमकी मिली है

रात ही थाना सिविल लाइन पर रिपोर्ट करवा दी है

बिजली विभाग के चीफ इंजीनियर आरडी सिंह को दी भावपूर्ण विदाई


मुजफ्फरनगर । विद्युत विभाग के सुपरिटेंडेंट चीफ ई०आर० डी०सिंह के सेवानिवृत्त होने पर आज तमाम लोगों, अधिकारियों व कर्मचारियों ने उन्हें भावपूर्ण विदाई देते हुए उनकी उत्कृष्ट सेवाओं को याद किया। 

विश्व हिंदू परिषद के जिला प्रचार प्रमुख सचिन त्यागी एवं ठा० कुलदीप सिंह ने उनको फूलों का गुलदस्ता भेंट कर हार्दिक शुभकामनाएं दी। इस बीच आर डी सिंह ने अपनी विदाई के मौके पर एक मार्मिक पत्र लिखा है - 

 आदरणीय अध्यक्ष महोदय उत्तर प्रदेश पावर कार्पोरेशन लिo, प्रबंध निदेशकगण/मुख्य अभियंतागण पश्चिमांचल एवं साथियों

उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत परिषद/ उत्तर प्रदेश पावर कार्पोरेशन में आपके मार्गदर्शन एवं सहयोग से 33 वर्ष 11 महीने 3 दिन की सेवा के पश्चात आज दिनांक 31 जनवरी 2021 को सेवानिवृत्त हो रहा हूँ। 

पश्चिमांचल के अंतर्गत नगरीय विद्युत वितरण  मुजफ्फरनगर के कार्य अवधि में मंडल की  राजस्व बढ़ाने , लाइन लॉस तथा ATC लॉस कम करने   एवं थ्रू रेट बढ़ाने के लिए प्रयास किया जिसमें बहुत हद तक सफलता मिली, जिसका श्रेय मेरी टीम को जाता है। 

यहां के औद्योगिक उपभोक्ताओं को अनवरत  विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित किए जाने के लिए भी विशेष प्रयास किया। 

जिला प्रशासन का सहयोग मेरे लिए अविस्मरणीय होगा,  जिनके सहयोग के बिना कार्य करना सम्भव नहीं हो पाता है। यहां के प्रिंट  व सोशल मीडियाका भी आभार प्रकट करना चाहूँगा जिन्होंने समय समय पर विभाग में चल रही योजनाओं के प्रचार प्रसार में पूरा सहयोग प्रदान किया। 

कोविड अवधि में अनवरत विद्युत आपूर्ति बनाए रखने के लिए अपनी टीम  का  आभार व्यक्त करता हूँ।

अन्त में आशा करते हैं कि यदि किसी को भी मेरी वजह से किसी की  भावना को ठेस पहुंची हो तो क्षमा करेंगे 

धन्यवाद 

आर डी सिंह 

निवर्तमान अधीक्षण अभियंता 

नगरीय विद्युत वितरण मंडल मुजफ्फरनगर 

7007141982

भाजपा को खत्म करने के लिए दंगों को भूल जाओ, भाकियू से हाथ मिलाओ: गुलाम मौहम्मद जौला


मुजफ्फरनगर । बुढ़ाना ब्लाक के गांव जौला स्थित हयातुल इस्लाम मदरसे के भव्य मैदान में गांव के सैंकड़ों किसानों की पंचायत आयोजित की गई। जिसकी अध्यक्षता बाबा गुलाम मोहम्मद और संचालन मौलवी जलील ने किया। इस पंचायत को संबोधित करते हुए बाबा गुलाम मोहम्मद ने कहा कि मुजफ्फरनगर में 8 साल पहले जो दंगा हुआ था उसको भूल जाओ। अब हम सभी को मिल जुलकर रहना है और केन्द्र प्रदेश में बैठी भाजपा की सरकारों को खत्म करना है। उन्होंने कहा कि अगर हम सभी एक हो जाएं तो मोदी व योगी कुछ और ही काम करते मिलेंगे। पंचायत में ये तय किया गया कि जब तक मोदी सरकार किसान बिल कानून वापस नही लेगी तब तक हम दिल्ली को छोडकर जाने वाले नहीं हैं। ब्लाक के गांव रियावली, नंगला, गढ़ी सखावतपुर, मंदवाडा, परासौली, रसूलपुर दभेडी, भनवाडा, भसाना, बुढ़ाना और जौला सहित अन्य आसपास गांवों के हजारों किसान अपने अपने वाहनों से एक फरवरी को सुबह 10 बजे दिल्ली गाजीपुर बार्डर के लिए कूच करेंगे। सभी गाजीपुर बार्डर से तब तक नहीं आयेंगे जब तक सरकार बिल वापस नही ले लेगी। यहां पर काफी वक्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। इस मौके पर पूर्व मंत्री फारुख हसन, साजिद मुन्ना, मास्टर फारुख, ताहिर ठेकेदार, इरशाद राणा, आरिफ राणा, अब्दुल जब्बार, तैमूर राणा, पूर्व प्रधान आस मौहम्मद, डॉक्टर भूरा, मुफ्ती आजाद, डॉक्टर जुल्फिकार, इकबाल एडवोकेट, तलाह, अख्तर व इसराइल आदि मौजूद थे। पंचायत में जौला यूथ क्लब का भी खूब सहयोग रहा।

जाटलैंड के शक्ति केंद्र में किसानों ने भरी हुंकार


बडौत। बड़ी महापंचायत के जरिए आज फिर किसान शक्ति का बड़ा प्रदर्शन जाटलैंड के बड़े शक्ति केंद्र में किया गया।महापंचायत में पहुंचे किसानों में बीजेपी के खिलाफ आक्रोश दिखा। 

बड़ौत में  किसानों पर लाठीचार्ज और गाजीपुर के घटनाक्रम के बाद बड़ौत तहसील की पंचायत में किसान जमा हुए। किसानों का कहना है कि सरकार को कृषि कानून हर हाल में वापस लेने होंगे। किसानों पर दर्ज किए गए मुकदमे भी वापस होंगे। किसानों पर लाठीचार्ज करने वाले पुलिस कर्मियों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए। पंचायत में देशखाप के चौधरी सुरेंद्र सिंह पहुंचे। देशखाप के थांबेदार बृजपाल चौधरी ने एलान किया कि लड़ाई किसानों के सम्मान की है। पुलिस-प्रशासन दमनकारी नीति अपना रहा है।किसानों को लाठियां से डराकर घरों में रहने की बात कही जा रही है, लेकिन कृषि कानून वापस होने तक आंदोलन जारी रहेगा। थांबेदार बृजपाल सिंह ने कहा कि पुलिस ने हाईवे पर धरना दे रहे किसानों को लाठीचार्ज कर खदेड़ा। लड़ाई किसानों के हकों की है। पुलिस-प्रशासन दमनकारी नीति अपना रहा है।किसानों को लाठियां से डराकर घरों में रहने की बात कही जा रही है, लेकिन कृषि कानून वापस होने तक आंदोलन जारी रहेगा।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष का जोरदार स्वागत


मुजफ्फरनगर । सहारनपुर जाते समय मुजफ्फरनगर के गुप्ता रिसोर्ट पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू का कांग्रेसियों द्वारा भव्य स्वागत किया गया। 

फूल मालाएं पहनाकर, जोरदार नारों के साथ ,ढोल नगाड़े बजाकर प्रदेश अध्यक्ष का कांग्रेसियों ने अभिनंदन किया।

पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक, पूर्व विधायक पंकज मलिक, जिला अध्यक्ष सुबोध शर्मा, नगर अध्यक्ष जुनेद रऊफ, पूर्व प्रदेश सचिव गुफरान काजमी सहित सैकड़ों कांग्रेसी मौजूद रहे।

किसानों और सरकार के बीच दो फरवरी को फिर वार्ता, राकेश टिकैत ने पूछा सवाल


 नई दिल्ली। टकराव के हालात जारी रहने के बावजूद किसानों और सरकार की बैठक 2 फरवरी को फिर होगी।

केंद्र सरकार और किसान संगठनों के बीच वार्ता पटरी पर लौटती दिख रही है। दिल्ली में गणतंत्र दिवस के दिन किसान ट्रैक्टर रैली के दौरान भड़की हिंसा के बाद वार्ता में गतिरोध पैदा गया था, लेकिन सर्वदलीय बैठक के दौरान प्रधानमंत्री मोदी के आश्वासन के बाद अगली बैठक अब 2 फरवरी को तय की गई है।

इस बीच भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत ने सवाल किया कि सरकार बताए वह कानून वापस क्यों नहीं ले सकती, हम सिर नहीं झुकने देंगे। राकेश टिकैत ने सरकार से कहा कि वह खुद किसानों को बताये कि वह कृषि कानूनों को वापस क्यों नहीं लेना चाहती और 'हम वादा करते हैं कि सरकार का सिर दुनिया के सामने झुकने नहीं देंगे.' ट्रैक्टर परेड में हिंसा के कारण किसान आंदोलन के कमजोर पड़ने के बाद एक बार फिर जोर पकड़ने के बीच टिकैत ने सरकार से कहा, 'सरकार की ऐसी क्या मजबूरी है कि वह नये कृषि कानूनों को निरस्त नहीं करने पर अड़ी हुई है?'

राकेश टिकैत ने कहा कि हमारे जो लोग जेल में बंद हैं वो रिहा हो जाएं फिर बातचीत होगी। प्रधानमंत्री ने पहल की है और सरकार और हमारे बीच की एक कड़ी बने हैं। किसान की पगड़ी का भी सम्मान रहेगा और देश के प्रधानमंत्री का भी सम्मान रखा जाएगा।

समाजसेवी मनीष चौधरी तिरंगे का अपमान पर तीन दिवसीय भूख हड़ताल पर बैठे

मुजफ्फरनगर l किसान आंदोलन की आड़ में दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान लाल किले पर तिरंगे के अपमान के मामले में दोषियों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर जिले के प्रसिद्ध समाजसेवी अपने साथियों संग तीन दिवसीय भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं l
आपको बता दें कि 26 जनवरी के दिन किसान आंदोलन के चलते दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान लाल किले पर तिरंगे के अपमान के विरोध में समाजसेवी मनीष चौधरी द्वारा तीन दिवसीय भूख हड़ताल का ऐलान किया गया l जिसको आज क्रियान्वित करते हुए मनीष चौधरी अपने साथियों सहित तीन दिवसीय भूख हड़ताल पर बैठ गए l साथ ही उन्होंने सरकार से लाल किले पर तिरंगे का अपमान करने वाले देशद्रोहियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग की है l

छत्तीसगढ़ में एक गांव में 22 बच्चो के कोरोना पॉजिटिव मिलने से हड़कंप

छत्तीसगढ़ l देश में यूं तो कोरोना के मामले लगातार घट रहे हैं, लेकिन छत्तीसगढ़ को कोंडागांव में एक क्लास में 22 बच्चों को कोरोना पॉजिटिव होने से हड़कंप मच गया। आपको बता दें कि जिले के बडेराजपुर विकाखंड में संचालित हो रही मोहल्ला क्लास में एक साथ 22 बच्चे कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। 
सीएचएमओ डॉ. टीआर. कुवर ने बताया कि बड़ेराजपुर में संचालित मोहल्ला क्लास में एक बच्चे की तबीयत खराब होने पर उसे उपचार के लिए अस्पताल लाया गया था, जहां उसकी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव मिली। इसके बाद प्रकरण की जानकारी शिक्षक को दी गयी और सभी बच्चों एवं शिक्षकों की कोरोना जांच की गई। कल मिली इस जांच में 22 बच्चे कोरोना पॉजिटिव पाए गए।
उन्होंने बताया कि इन बच्चों की उम्र 11 से 14 साल के बीच है। ग्रामीणों द्वारा बच्चों को बाहर ले जाने का विरोध करने पर छात्रावास को ही आइसोलेशन सेंटर बना कर उसमें बच्चों को रखा गया है। सीएचएमओ ने बताया कि बच्चों के साथ ही कुछ बच्चों के परिवार वाले भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जिन्हें स्थानीय स्तर पर आईसोलेट किया गया है। 
बीते साल 30 जनवरी को देश में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था। यह मामला केरल राज्य में सामने आया था। एक साल बीत जाने के बाद भारत में कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान शुरू हो गया है। देशभर में रोजाना आने वाले कोरोना संक्रमितों की संख्या भी घट रही है लेकिन दो राज्य अभी भी चिंता का कारण बने हुए हैं। ये राज्य केरल और महाराष्ट्र हैं, जहां अभी भी कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा सक्रिम मामले हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण के मुताबिक, केरल और महाराष्ट्र की देश के कुल सक्रिय मामलों में 67 फीसदी हिस्सेदारी है। सिर्फ यही दो ऐसे राज्य हैं जहां कोरोना के सक्रिय मामले 40 हजार के पार हैं।

ख़तौली में रेल से कटकर युवक की मौत, शिनाख्त नहीं

 मुज़फ्फरनगर l रेलवे फाटक पर रेल से कटकर एक युवक की मौत हो गई l

 मिली जानकारी के अनुसार ख़तौली थानाक्षेत्र के रेलवे फाटक पर ट्रेन के कटकर युवक की मौत हो गई l जिसकी सूचना ख़तौली पुलिस को दी l पुलिस ने मौके पर शव को कब्जे में लेकर परीक्षण हेतू भेज दिया l पुलिस आगे की जांच में जुट गई l मृतक की शिनाख्त नहीं हो सकीं l

पीएमओ ने पूछा राकेश टिकैत का हाल, मोदी से वार्ता के संकेत


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा स्वयं वार्ता के संकेत दिए जाने और पीएमओ द्वारा फोन पर राकेश टिकैत का हाल चाल पूछे जाने के बाद फिर सकारात्मक माहौल बनने के आसार हैं। 

 संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि केंद्र सरकार से बातचीत के दरवाजे खुले हुए हैं, उनके बंद होने का सवाल ही पैदा नहीं होता है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिए गए बयान को ध्यान में रखकर उऩ्होंने ये कहा जिसमें पीएम ने कहा था कि सरकार अपने प्रस्ताव पर कायम है। किसान नेता दर्शन पाल के हस्ताक्षर किए एक बयान में कहा गया है कि वह तीन कृषि कानूनों की पूर्ण निरस्तीकरण की मांग करता रहेगा। मोर्चा ने अपने प्रस्ताव के साथ केंद्र के बारे में प्रधान मंत्री द्वारा दिए गए बयान पर ध्यान दिया ... किसान अपनी चुनी हुई सरकार के पास दिल्ली के दरवाजे पर आ गए हैं और ऐसा सवाल ही पैदा ही नहीं होता कि किसान संगठन सरकार के साथ बातचीत का कोई दरवाजा बंद करें। उन्होंने कहा कि देश भर में एक दिन उपवास मनाकर किसानों ने महात्मा गांधी को  श्रद्धांजलि दी। बयान में कहा गया कि किसानों ने गांधीजी के जीवन से प्रेरित होकर शांतिपूर्वक तरीके से इस आंदोलन को जारी रखने का संकल्प लिया। बयान में कहा गया है कि महाराष्ट्र, तमिलनाडु, कर्नाटक,बिहार, मध्य प्रदेश गुजरात, हयाना सहित पूरे देश से सदभावना दिवस मनाने की खबरें आ रही थीं। 

बयान में कहा गया कि पुलिस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के गुंडों द्वारा लगातार की जा रही हिंसा सरकार के अंदर का डर साफ दिखाती है। पुलिस प्रदर्शनकारियों और पत्रकारों बेतरतीब ढंग से गिरफ्तार कर रही है।

किसानों के संगठन ने सभी शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों की तत्काल रिहाई की मांग की और विरोध प्रदर्शन को कवर करने वाले पत्रकारों पर हो रहे हमलों की निंदा की।

आज का पंचांग एवँ राशिफल 31 जनवरी 2021

 विज्ञापन 



🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 

⛅ *दिनांक 31 जनवरी 2021*

⛅ *दिन - रविवार*

⛅ *विक्रम संवत - 2077*

⛅ *शक संवत - 1942*

⛅ *अयन - उत्तरायण*

⛅ *ऋतु - शिशिर*

⛅ *मास - माघ (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - पौष)*

⛅ *पक्ष - कृष्ण* 

⛅ *तिथि - तृतीया रात्रि 08:24 तक तत्पश्चात चतुर्थी*

⛅ *नक्षत्र - पूर्वाफाल्गुनी 01 फरवरी रात्रि 01:18 तक तत्पश्चात उत्तराफाल्गुनी*

⛅ *योग - शोभन दोपहर 12:33 तक तत्पश्चात अतिगण्ड*

⛅ *राहुकाल - शाम 05:04 से शाम 06:28 तक*

⛅ *सूर्योदय - 07:17* 

⛅ *सूर्यास्त - 18:27* 

⛅ *दिशाशूल - पश्चिम दिशा में*

⛅ *व्रत पर्व विवरण - संकष्ट चतुर्थी (चन्द्रोदय रात्रि 09:05)*

 💥 *विशेष - तृतीया को पर्वल खाना शत्रुओं की वृद्धि करने वाला है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞



🌷 *विघ्नों और मुसीबते दूर करने के लिए* 🌷

👉 *31 जनवरी 2021 रविवार को संकष्ट चतुर्थी (चन्द्रोदय रात्रि 09:05)*

🙏🏻 *शिव पुराण में आता हैं कि हर महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी ( पूनम के बाद की ) के दिन सुबह में गणपतिजी का पूजन करें और रात को चन्द्रमा में गणपतिजी की भावना करके अर्घ्य दें और ये मंत्र बोलें :*

🌷 *ॐ गं गणपते नमः ।*

🌷 *ॐ सोमाय नमः ।*

           🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


‪🌷 *चतुर्थी‬ तिथि विशेष* 🌷

🙏🏻 *चतुर्थी तिथि के स्वामी ‪भगवान गणेश‬जी हैं।*

📆 *हिन्दू कैलेण्डर में प्रत्येक मास में दो चतुर्थी होती हैं।* 

🙏🏻 *पूर्णिमा के बाद आने वाली कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को संकष्ट चतुर्थी कहते हैं।अमावस्या के बाद आने वाली शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को विनायक चतुर्थी कहते हैं।*

🙏🏻 *शिवपुराण के अनुसार “महागणपतेः पूजा चतुर्थ्यां कृष्णपक्षके। पक्षपापक्षयकरी पक्षभोगफलप्रदा ॥*

➡ *“ अर्थात प्रत्येक मास के कृष्णपक्ष की चतुर्थी तिथि को की हुई महागणपति की पूजा एक पक्ष के पापों का नाश करनेवाली और एक पक्षतक उत्तम भोगरूपी फल देनेवाली होती है ।*

           🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


🌷 *कोई कष्ट हो तो* 🌷

🙏🏻 *हमारे जीवन में बहुत समस्याएँ आती रहती हैं, मिटती नहीं हैं ।, कभी कोई कष्ट, कभी कोई समस्या | ऐसे लोग शिवपुराण में बताया हुआ एक प्रयोग कर सकते हैं कि, कृष्ण पक्ष की चतुर्थी (मतलब पुर्णिमा के बाद की चतुर्थी ) आती है | उस दिन सुबह छः मंत्र बोलते हुये गणपतिजी को प्रणाम करें कि हमारे घर में ये बार-बार कष्ट और समस्याएं आ रही हैं वो नष्ट हों |*

👉🏻 *छः मंत्र इस प्रकार हैं –*

🌷 *ॐ सुमुखाय नम: : सुंदर मुख वाले; हमारे मुख पर भी सच्ची भक्ति प्रदान सुंदरता रहे ।*

🌷 *ॐ दुर्मुखाय नम: : मतलब भक्त को जब कोई आसुरी प्रवृत्ति वाला सताता है तो… भैरव देख दुष्ट घबराये ।*

🌷 *ॐ मोदाय नम: : मुदित रहने वाले, प्रसन्न रहने वाले । उनका सुमिरन करने वाले भी प्रसन्न हो जायें ।*

🌷 *ॐ प्रमोदाय नम: : प्रमोदाय; दूसरों को भी आनंदित करते हैं । भक्त भी प्रमोदी होता है और अभक्त प्रमादी होता है, आलसी । आलसी आदमी को लक्ष्मी छोड़ कर चली जाती है । और जो प्रमादी न हो, लक्ष्मी स्थायी होती है ।*

🌷 *ॐ अविघ्नाय नम:*

🌷 *ॐ विघ्नकरत्र्येय नम:* 

पंचक आरम्भ

फरवरी 12, 2021, शुक्रवार को 02:11 am


पंचक अंत

फरवरी 16, 2021, मंगलवार को 08:57 pm


षटतिला एकादशी रविवार, 07 फरवरी 2021

जया एकादशी मंगलवार, 23 फरवरी 2021


09 फरवरी- भौम प्रदोष व्रत

24 फरवरी- प्रदोष व्रत


माघ पूर्णिमा 27 फरवरी, शनिवार

माघ अमावस्या 11 फरवरी 2021, गुरुवार


मेष 

आज का दिन आपके लिए कोई शुभ समाचार लेकर आएगा। आपको आज कुछ अजनबी लोगों का सहयोग मिल सकता है। परिश्रम अधिक करना पड़ेगा लेकिन आपके कुछ विरोधी भी आज परास्त होंगे। यदि बिना कारण के कुछ व्यवधान आपके मार्ग में आ रहे हैं, तो आज आपको उनसे लाभ हो सकता है। आपको कोई नया निर्माण कार्य की आवश्यकता भी महसूस होगी।

वृष 

आज आप अपने धन को गलत तरीके से बढ़ाने की बिल्कुल कोशिश ना करें अन्यथा आज आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है। आज आपको कोई शुभ समाचार मिल सकता है और आपके पुराने मित्र मित्रों से भी आज आपकी मुलाकात होगी। आपके कुछ आर्थिक और पारिवारिक संकोच हैं। जो अभी भी दबाव में रहेंगे यदि आज आप अधिक उत्साह और तत्परता दिखाएंगे तो आपका कार्य बिगड़ सकता है इसलिए सावधानी बरतें

मिथुन 

आज आपको अपने परिवार के समस्याओं को देखते हुए कोई भी गलत निर्णय लेना कठिन होगा आपके द्वारा किए गए कार्यों का विरोध होगा परिवार में जो भी विषय बताएं चल रही हैं वह आज सर उठा सकते हैं हालांकि आपका मान सम्मान फिर भी बढ़ेगा अप्रत्याशित लाभ आपको मिल सकता है आज के दिन आप आर्थिक तौर पर करने वाले लेनदेन से सावधानी बरतें।

कर्क 

आज आपको कुछ दूर की यात्रा करनी पड़ सकती है लेकिन मन में चल रही परेशानी के कारण आज आपका मन कंठा ग्रस्त रहेगा। कुछ अधूरे कार्य हैं जिनको आप जो आप को निपटाने होंगे और सुख वैद्य को बराबर समझ कर अपने भाग्य पर छोड़ना होगा। आप आज जो परिश्रम करेंगे उससे आपको लाभ होगा परिवार में खुशहाली रहेगी।

सिंह

आज का दिन आपके लिए मिलाजुला रहेगा व्यापार और व्यवसाय से जुड़े जातकों के लिए आज अनेक क्षेत्रों में साख बढ़ी हुई दिखेगी। भाग्य आपका साथ देगा। आज आपके सभी काम समय पर पूरे होते नजर आएंगे। आपको लगेगा क्या आपके अच्छे दिन आ गए जिससे आपका मन प्रफुल्लित हो उठेगा, लेकिन आपको खर्चों पर नियंत्रण रखना जरूरी होगा।

कन्या 

आज आप संतान को लेकर कुछ चिंतित हो सकते हैं, लेकिन समझदारी से काम ले आपको आपको अपने परिवार में हो रहे उत्साह और त्योहारों में सम्मिलित होने का अवसर प्राप्त होगा। अच्छा भोजन करने से आपका स्वास्थ्य अच्छा होगा और आपको शुभ समाचार मिलना लगातार जारी रहेगा जिससे आपका मन प्रसन्न होगा इसलिए वही कार्य करने की सोची जिनकी आपको पूरे होने की उम्मीद है।

तुला 

आज का दिन आपके लिए मिलाजुला रहेगा। कार्य के क्षेत्र में आपके धाक जमी रहेगी। वह आपके सभी मामले एक के बाद एक सदस्य चले जाएंगे लेकिन आप को आंख के कष्ट के कारण स्वास्थ्य प्रभावित लगेगा जिससे आपके कार्यक्षेत्र में अस्थिरता रहेगी। आपको समय के अनुसार चलना होगा तभी उन्नति करेंगे वरना समय आप को पीछे छोड़ देगा।

वृश्चिक

आपके मन में आज कुछ उलझन ने होंगी जिनके कारण सिर में दर्द की समस्या रहेगी। फिर संतान के लिए भी आज थोड़ी चिंता रहेगी। दांपत्य जीवन किस सुख में वृद्धि होगी। पड़ोसियों के कारण आज आपको कुछ परेशानी हो सकती है। आपको जतिन कार्यों का निष्पादन होगा और लाभदायक उपकर्म का का संचालन भी होगा। आज अपने स्वास्थ्य का थोड़ा ज्यादा ध्यान रखें।

धनु 

आपकी आज घर और वाहन से संबंधित समस्याएं चल रही हैं। आज वह एक बार फिर से सर उठा शक्ति है। शुभ संदेश आपके मन का उत्साह बढ़ेगा। आपके हाथ में धन संपदा सब कुछ होने के बावजूद भी कुछ पारिवारिक अशांति रहेगी इसलिए यदि आप कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेने वाले हैं तो सबसे पहले ही ना ले सोच विचार कर लें। आज आपको अपने स्वजनों का भी सहयोग मिलेगा जिससे मन प्रसन्न होगा।

मकर 

आपको आज अपनी किसी चल या अचल संपत्ति का पारिवारिक विवाद नेपाल निपटाना अवश्य हो जाएगा और आप आज अपनी पारिवारिक व्यवस्था को बनाने में व्यस्त रहेंगे। आपने जो सोचा है आज है सभी कार्य सफल होंगे और यदि आपके मित्र आपके कार्य में विरोध कर रहे हैं तो उन में कमी आएगी। पराक्रम भाव और पुरुषार्थ की योजनाएं बनती नजर आ रही है।

कुंभ 

आज आपको अपने पितरों से लाभ की आशा होगी पुराने दोस्तों के आने से परिवार के सभी लोग व्यस्त रहेंगे। यदि आप किसी पर भी अर्थ में संदेह और तर्क वितर्क में रहेंगे तो धन की हानि हो सकती है। अपने नियोजित कार्यक्रमों पर ध्यान दें जो सफल होंगे और आज आपको आर्थिक लाभ के शुभ अवसर मिलेंगे। इससे आपकी आर्थिक स्थिति सुधरेगी।

मीन 

आज के दिन आपको अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा। जीवन साथी से आर्थिक कारणों से दूरी रहेगी लेकिन प्रेम भरपूर रहेगा। आपका समय लाभकारी है आप अपने कुशल व्यवहार से सब कुछ पा सकते हैं। जटिलताएं खत्म होंगी और आज के दिन आपके विरोधी आपसे परास्त होंगे।


जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं


दिनांक 31 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 4 होगा। आपका जीवन संघर्षशील होता है। इनमें अभिमान भी होता है। ये लोग दिल के कोमल होते हैं किन्तु बाहर से कठोर दिखाई पड़ते हैं। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति जिद्दी, कुशाग्र बुद्धि वाले, साहसी होते हैं। ऐसे व्यक्ति को जीवन में अनेक परिवर्तनों का सामना करना पड़ता है। इनकी नेतृत्व क्षमता के लोग कायल होते हैं। जैसे तेज स्पीड से आती गाड़ी को अचानक ब्रेक लग जाए ऐसा उनका भाग्य होगा। लेकिन यह भी निश्चित है कि इस अंक वाले अधिकांश लोग कुलदीपक होते हैं। 

 

शुभ दिनांक : 4, 8, 13, 22, 26, 31, 

 

शुभ अंक : 4, 8,18, 22, 45, 57, 




  

शुभ वर्ष : 2031, 2040 2060,   

 

ईष्टदेव : श्री गणेश, श्री हनुमान, 


 

शुभ रंग : नीला, काला, भूरा, 

 

जन्मतिथि के अनुसार भविष्यफल : 

परिवारिक मामलों में सहयोग के द्वारा सफलता मिलेगी। नवीन व्यापार की योजना प्रभावी होने तक गुप्त ही रखें। मान-सम्मान में वृद्धि होगी, वहीं मित्र वर्ग का सहयोग मिलेगा। यह वर्ष पिछले वर्ष के दुष्प्रभावों को दूर करने में सक्षम है। आपको सजग रहकर कार्य करना होगा। विवाह के मामलों में आश्चर्यजनक परिणाम आ सकते हैं। नौकरीपेशा प्रयास करें तो उन्नति के चांस भी है। शत्रु पक्ष पर प्रभावपूर्ण सफलता मिलेगी

Saturday, January 30, 2021

सकट चतुर्थी व्रत पूजा का मुहूर्त

 *सकट चौथ व्रत कथा और शुभ पूजा मुहूर्त*

हिंदू शास्त्र के अनुसार माघ माह में आने वाली सकट चौथ का विशेष महत्व है। इस दिन मां अपनी संतान की लंबी उम्र के लिए कामना कर भगवान गणेश की उपासना करती हैं, और दिन भर निर्जला उपवास करती हैं। सकट चौथ का यह पर्व भगवान गणेश को समर्पित है, क्योंकि हिन्दू मान्यताओं के अनुसार सकट के दिन ही भगवान गणेश के जीवन पर बहुत बड़ा संकट आया था। इस साल सकट चौथ रविवार के दिन 31 जनवरी को है।  ऐसी मान्यता है कि, इस दिन जो भी माता भगवान गणेश को स्मरण कर पूरे विधि-विधान के साथ व्रत करती है, उसकी संतान हमेशा निरोग रहती है। भगवान गणेश की उसपर विशेष कृपा होती है। 


सकट चौथ का पूजा मुहूर्त

सकट चौथ-  31 जनवरी, दिन – रविवार (2021)


चंद्रोदय का समय- 8 बज-कर, 41 मिनट


पूजा विधि

प्रात:काल उठकर स्नान करके लाल वस्त्र धारण करें। 

भगवान गणेश की पूजा करें।

पूजा के वक्त माता लक्ष्मी की भी मूर्ति ज़रुर रखें।

दिनभर निर्जला उपवास करें।

रात में चाँद को अर्घ्य दें, गणेश जी की पूजा कर फिर फलहार करें।

संभव हो तो फलहार में केवल मीठा व्यजंन ही खाए, सेंधा नमक का भी सेवन ना करें।

इस दिन की पूजा में गणेश मंत्र का जाप करना बेहद फलदाई बताया गया है। गणेश मंत्र का जाप करते हुए 21 दुर्वा भगवान गणेश को अर्पित करना भी बेहद शुभ होता है। 

इसके अलावा भगवान गणेश को लड्डू बेहद पसंद होते हैं। ऐसे में इस दिन की पूजा में अन्य भागों के साथ आप बूंदी के लड्डू का भोग लगा सकते हैं। लड्डू के अलावा इस दिन गन्ना, शकरकंद, गुड़, तिल से बनी वस्तुएं, गुड़ से बने हुए लड्डू और घी अर्पित करना बेहद ही शुभ माना जाता है।

सकट चौथ का महत्व और भगवान गणेश की पूजा का विधान

हिंदू धर्म में किए जाने वाले सभी व्रत और त्योहार किसी ना किसी देवी देवता से संबंधित होते हैं। ठीक उसी तरह सकट चौथ का यह व्रत भगवान गणेश से संबंधित माना गया है। इस दिन भगवान गणेश की पूजा का विधान बताया जाता है। मान्यता है कि, जो कोई भी व्यक्ति सकट चौथ का व्रत करता है उनके जीवन में भगवान गणेश सुख, समृद्धि का वरदान देते हैं। इसके अलावा यह व्रत  संतान की लंबी उम्र की कामना के लिए सबसे उत्तम माना गया है। 

सिर्फ इतना ही नहीं यदि किसी बच्चे के जीवन में पढ़ाई से संबंधित कोई विघ्न, बाधा या परेशानी आ रही हो तो माताओं द्वारा किया जाने वाला यह व्रत बच्चे की उस तकलीफ़ को या परेशानी को भी दूर करता है।  ऐसे संतान पर भगवान गणेश जी की कृपा और आशीर्वाद ताउम्र बना रहता है। इस दिन चंद्रमा की पूजा से पहले तक माताएं अपने बच्चों के लिए निर्जला उपवास रखती हैं और इस दिन के भोग में भगवान गणेश को तिल, गुड़, गन्ना इत्यादि चढ़ाया जाता है।

सकट चौथ पहली व्रत कथा

पौराणिक कथा के अनुसार सकट चौथ के दिन भगवान गणेश पर सबसे बड़ा संकट आकर टला था, इसलिए इस दिन का नाम सकट चौथ पड़ा है। कथा के अनुसार एक दिन मां पार्वती स्नान करने के लिए जा रही थी। तभी उन्होंने अपने पुत्र गणेश को दरवाज़े के बाहर पहरा देने का आदेश दिया और बोली, ‘जबतक मैं स्नान करके ना लौटी किसी को भी अंदर आने की इजाज़त मत देना।’ भगवान गणेश भी मां की आज्ञा का पालन करने लगे और बाहर खड़े होकर पहरा देने लगे। 

ठीक उसी वक्त भगवान शिव माता पार्वती से मिलने पहुंचे।  परंतु गणेश जी ने भगवान शिव को दरवाज़े के बाहर ही रोक दिया । ऐसा देख शिव जी को गुस्सा आ गया और उन्होंने अपने त्रिशूल से वार कर गणेश जी की गर्दन धड़ से अलग कर दी। इधर पार्वती जी ने बाहर से आ रही आवाज़ सुनी तो वह भागती हुई बाहर आईं, पुत्र गणेश की कटी हुई गर्दन देख अत्यंत घबरा गई, और शिव जी से अपने बेटे के प्राण वापस लाने की गुहार लगाने लगी। शिव जी ने माता पार्वती की आज्ञा मानते हुए, गणेश जी पर एक हाथी के बच्चे का सिर लगाकर उन्हें पुनः जीवन दान दे दिया और उसी दिन से सभी महिलाएं अपने बच्चों की सलामती के लिए गणेश चतुर्थी का व्रत करने लगी। 

सकट चौथ की दूसरी कथा

एक समय की बात है, एक नगर में एक कुम्हार रहता था, पर एक दिन जब उसने बर्तन बनाने के बाद आवा लगाया तो वह नहीं पका। कुम्हार परेशान होकर राजा के पास गया और पूरी बात बताई। राजा ने राज्य के राज पंडित को बुलाकर कुछ उपाय सुझाने को बोला, तब राज पंडित ने कहा कि, यदि हर दिन गांव के एक-एक घर से एक-एक बच्चे की बलि दी जाए तो रोज आवा पकेगा। राजा ने आज्ञा दी की पूरे नगर से हर दिन एक बच्चे की बलि दी जाए। 

कई दिनों तक ऐसा चलता रहा और फिर एक बुढ़िया के घर की बारी आई, लेकिन उसके बुढ़ापे का एकमात्र सहारा उसका एकलौता बेटा अगर बलि चढ़ जाएगा तो बुढ़िया का क्या होगा, ये सोच-सोच वह परेशान हो गई। और उसने सकट की सुपारी और दूब देकर बेटे से बोला, ‘जा बेटा, सकट माता तुम्हारी रक्षा करेगी, और खुद सकट माता का स्मरण कर उनसे अपने बेटे की सलामती की दुआ मांगने लगी। अगली सुबह कुम्हार ने देखा की आवा भी पक गया और बालक भी पूरी तरह से सुरक्षित है और फिर सकट माता की कृपा से नगर के अन्य बालक जिनकी बलि दी गई थी, वह सभी भी जी उठें, पौराणिक मान्यताओं के अनुसार उसी दिन से सकट चौथ के दिन मां अपने बेटे की लंबी उम्र के लिए भगवान गणेश की पूजा कर व्रत करने लगी ।

भाजपा ने जिला प्रभारी घोषित किये


लखनऊ । यूपी भाजपा ने जिला प्रभारी घोषित किए, पंकज सिंह, सुरेंद्र नागर, श्रीचंद शर्मा और सतेंद्र शिशौदिया को मिले ये जिले, देखिए पूरी लिस्ट। 

उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी ने शुक्रवार की देर शाम जिला और महानगर प्रभारियों की घोषणा कर दी है। राज्य के लगभग सभी वरिष्ठ नेताओं को जिम्मेदारी सौंपी है। आने वाला वर्ष चुनावी साल होगा, इसे ध्यान में रखते हुए यह घोषणा की गई है। उत्तर प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष, महामंत्री, मंत्री, मोर्चा के अध्यक्ष, विधायक, विधान परिषद सदस्य और सांसदों को जिला प्रभारी नियुक्त किया गया है। पहली बार भारतीय जनता पार्टी ने बड़े पदों पर आसीन और अनुभवी नेताओं को जिला प्रभारी बनाया है। यूपी भाजपा के उपाध्यक्ष और नोएडा के विधायक पंकज सिंह को मेरठ महानगर और मेरठ जिले की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के उपाध्यक्ष और राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर को मुरादाबाद जिले का प्रभारी नियुक्त किया गया है। हाल ही में मेरठ सहारनपुर शिक्षक स्नातक सीट से एमएलसी चुने गए श्रीचंद शर्मा को अलीगढ़ का जिला प्रभारी घोषित किया गया है। पश्चिम क्षेत्र के पूर्व उपाध्यक्ष और गौतमबुद्ध नगर के जिला अध्यक्ष रह चुके सतेंद्र सिसोदिया को गाजियाबाद जिले की जिम्मेदारी दी गई है। इस तरह गौतमबुद्ध नगर जिले के तीन वरिष्ठ नेताओं को जिला प्रभारी घोषित किया गया है। नोएडा महानगर का प्रभारी पूर्व विधायक और पूर्व क्षेत्रीय महामंत्री मुंशीलाल गौतम को बनाया गया है। गौतमबुद्ध नगर जिले की जिम्मेदारी भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष सतपाल सैनी को दी गई है।

उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के मुख्यालय से शुक्रवार की देर रात मिली जानकारी के मुताबिक पश्चिम क्षेत्र, ब्रज क्षेत्र, कानपुर, अवध, काशी और गोरखपुर क्षेत्रों में सभी जिला और महानगर इकाइयों के प्रभारी घोषित कर दिए गए हैं। पश्चिम क्षेत्र में सबसे ज्यादा 19 नेताओं की भारी-भरकम फौज तैनात की गई है। ब्रज क्षेत्र में भी 19 नेता जिला प्रभारी बनाकर भेजे गए हैं। कानपुर क्षेत्र में 17, अवध में 15, काशी में 16 और गोरखपुर क्षेत्र में 12 नेताओं को जिला प्रभारी बनाया गया है।

*पश्चिम क्षेत्र में घोषित किए गए प्रभारी*

मेरठ महानगर, पंकज सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष 

मेरठ जिला, पंकज सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष 

बागपत, विजेंद्र कश्यप, पूर्व जिला अध्यक्ष 

सहारनपुर महानगर, कांता कर्दम, प्रदेश उपाध्यक्ष व राज्यसभा सांसद

सहारनपुर जिला, सत्यपाल, पूर्व जिला अध्यक्ष व कॉपरेटिव बैंक के चेयरमैन

शामली, जसवंत सैनी, पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष 

मुजफ्फरनगर, चंद्र मोहन सिंह, प्रदेश मंत्री 

गाजियाबाद महानगर, महेंद्र धनौरिया, पूर्व क्षेत्रीय उपाध्यक्ष 

गाजियाबाद जिला, सतेंद्र सिसोदिया, पूर्व क्षेत्रीय उपाध्यक्ष 

नोएडा महानगर, मुंशीलाल गौतम, पूर्व क्षेत्रीय महामंत्री 

गौतमबुद्ध नगर, सत्यपाल सैनी, प्रदेश उपाध्यक्ष 

बुलंदशहर, सूर्य प्रकाश पाल, पूर्व क्षेत्रीय महामंत्री 

हापुड़, सुनीता दयाल, प्रदेश उपाध्यक्ष

अमरोहा, विमल शर्मा, पूर्व क्षेत्रीय उपाध्यक्ष 

मुरादाबाद महानगर, वाईपी सिंह, पूर्व प्रदेश मंत्री 

मुरादाबाद जिला, सुरेंद्र नागर, प्रदेश उपाध्यक्ष व राज्यसभा सांसद 

बिजनौर, विजय पाल सिंह, राज्यसभा सांसद 

रामपुर, राजीव सिसोदिया, पूर्व जिला अध्यक्ष

संभल, देवेंद्र सिंह चौधरी, प्रदेश उपाध्यक्ष

ब्रज क्षेत्र में घोषित किए गए प्रभारी

आगरा महानगर, बीएल वर्मा, राज्यसभा सांसद 

आगरा जिला, पूनम बजाज, प्रदेश मंत्री 

मथुरा जिला, विजय शिवहरे, प्रदेश मंत्री 

मथुरा महानगर, अंजुला माहौर, प्रदेश मंत्री 

फिरोजाबाद महानगर, दयाशंकर सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष 

फिरोजाबाद जिला, दयाशंकर सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष 

एटा, धर्मवीर प्रजापति, विधान परिषद सदस्य 

अलीगढ़ जिला, श्रीचंद शर्मा, विधान परिषद सदस्य 

अलीगढ़ महानगर, प्रमोद गुप्ता, पूर्व क्षेत्रीय उपाध्यक्ष 

हाथरस, राजा वर्मा, प्रदेश अध्यक्ष किसान मोर्चा 

मैनपुरी, दिनेश वशिष्ठ, पूर्व जिला अध्यक्ष 

कासगंज, अनिल चौधरी, पूर्व क्षेत्रीय महामंत्री 

बरेली महानगर, गोपाल अंजान, उपाध्यक्ष खादी ग्राम उद्योग 

बरेली जिला, संतोष सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष 

आवला, संतोष सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष

शाहजहांपुर जिला, ब्रज बहादुर भारद्वाज, प्रदेश उपाध्यक्ष 

शाहजहांपुर महानगर, ब्रज बहादुर भारद्वाज, प्रदेश उपाध्यक्ष 

पीलीभीत, पूरन लाल लोधी, प्रदेश महामंत्री पिछड़ा मोर्चा 

बदायूं, महाराज सिंह, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य


*कानपुर क्षेत्र में घोषित किए गए प्रभारी*


कानपुर महानगर उत्तर, विजय बहादुर पाठक, प्रदेश उपाध्यक्ष व एमएलसी

कानपुर महानगर दक्षिण, विजय बहादुर पाठक, प्रदेश उपाध्यक्ष व एमएलसी 

कानपुर देहात, रंजना उपाध्याय, पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष 

कानपुर ग्रामीण, रामनरेश तिवारी, प्रदेश महामंत्री किसान मोर्चा

इटावा, राम लखन रावत, पूर्व क्षेत्रीय मंत्री 

कन्नौज, उदयन पालीवाल, पूर्व जिला अध्यक्ष 

फर्रुखाबाद, बाबूराम निषाद, पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष 

फतेहपुर, प्रकाश शर्मा, पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष 

औरैया, प्रमोद बार्डर, पूर्व क्षेत्रीय मीडिया प्रभारी 

झांसी महानगर, कमलावती सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष 

झांसी जिला, कमलावती सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष 

बांदा, सत्यपाल सिंह, पूर्व क्षेत्रीय महामंत्री 

महोबा, अशोक जाटव, प्रदेश मंत्री

चित्रकूट, प्रांशु दत्त द्विवेदी, प्रदेश मंत्री

हमीरपुर, देवेश कोरी, प्रदेश मंत्री

जालौन, संजीव श्रृंगीऋषि, पूर्व जिला अध्यक्ष 

ललितपुर, नागेंद्र गुप्ता, पूर्व क्षेत्रीय मंत्री

*अवध क्षेत्र में घोषित किए गए प्रभारी*

लखनऊ महानगर, गोविंद नारायण शुक्ला, प्रदेश महामंत्री व एमएलसी

लखनऊ जिला, गोविंद नारायण शुक्ला, प्रदेश महामंत्री व एमएलसी

रायबरेली, विद्यासागर सोनकर, पूर्व प्रदेश महामंत्री व एमएलसी 

सीतापुर, हरिद्वार दुबे, पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष व राज्यसभा सांसद

लखीमपुर, दिनेश तिवारी, पूर्व क्षेत्रीय महामंत्री 

हरदोई, प्रकाश पाल, प्रदेश उपाध्यक्ष

अंबेडकरनगर, दद्दन मिश्रा, पूर्व सांसद

बाराबंकी, रामचंद्र कनौजिया, प्रदेश मंत्री 

बलरामपुर, सुधीर हलवासिया, पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष 

बहराइच, नीरज सिंह, पूर्व क्षेत्रीय महामंत्री 

गोंडा, अवनीश सिंह, एमएलसी

श्रावस्ती, अवधेश पांडे बादल, पूर्व जिला अध्यक्ष 

अयोध्या जिला, पदमसेन चौधरी, प्रदेश उपाध्यक्ष 

अयोध्या महानगर, पदमसेन चौधरी प्रदेश उपाध्यक्ष 

उन्नाव, शंकर लोधी, प्रदेश मंत्री

काशी क्षेत्र में घोषित किए गए प्रभारी

वाराणसी महानगर, सलिल विश्नोई प्रदेश उपाध्यक्ष व एमएलसी 

वाराणसी जिला, सलिल विश्नोई, प्रदेश उपाध्यक्ष व एमएलसी 

गाजीपुर, कौशलेंद्र सिंह पटेल, पूर्व प्रदेश मंत्री 

प्रतापगढ़, नागेंद्र रघुवंशी, पूर्व क्षेत्रीय उपाध्यक्ष 

भदोही, रमेश मिश्रा, पूर्व क्षेत्रीय उपाध्यक्ष 

जौनपुर, डॉ राकेश त्रिवेदी, पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष 

मछली शहर, काशीनाथ तिवारी, पूर्व क्षेत्रीय महामंत्री 

सुल्तानपुर, शंकर गिरी, प्रदेश मंत्री

अमेठी, संजय राय, प्रदेश मंत्री

प्रयागराज महानगर, लक्ष्मण आचार्य, प्रदेश उपाध्यक्ष व एमएलसी 

प्रयागराज गंगा पार, लक्ष्मण आचार्य, प्रदेश उपाध्यक्ष व एमएलसी 

प्रयागराज यमुना पार, ओंकार केसरी, पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष 

चंदौली, मीना चौबे, प्रदेश मंत्री

कौशांबी, अनिल सिंह, पूर्व क्षेत्रीय उपाध्यक्ष

मिर्जापुर, अनामिका चौधरी, प्रदेश मंत्री 

सोनभद्र, केके सिंह, पूर्व जिला अध्यक्ष


*गोरखपुर क्षेत्र में घोषित किए गए प्रभारी*


गोरखपुर महानगर, नीलम सोनकर प्रदेश उपाध्यक्ष 

गोरखपुर जिला, नीलम सोनकर, प्रदेश उपाध्यक्ष 

संतकबीरनगर, समीर सिंह, पूर्व प्रदेश मंत्री 

बस्ती, चिरंजीव चौरसिया, प्रदेश महामंत्री पिछड़ा मोर्चा 

सिद्धार्थनगर, जयप्रकाश निषाद, राज्यसभा सांसद 

महाराजगंज, सुभाष यदुवंश, प्रदेश मंत्री 

देवरिया, त्रिंबक त्रिपाठी, प्रदेश मंत्री

कुशीनगर, संतराज यादव, अध्यक्ष भूमि विकास बैंक 

आजमगढ़, देवेंद्र यादव, पूर्व क्षेत्रीय मंत्री 

लालगंज, डॉ शकुंतला चौहान, प्रदेश मंत्री 

मऊ, कामेश्वर सिंह, पूर्व प्रदेश मंत्री

बलिया, विनोद राय, पूर्व क्षेत्रीय उपाध्यक्ष

छह साल का बच्चा पानी और परांठे लेकर पहुंचा गाजीपुर


गाजियाबाद । एक 6 साल का बच्चा पानी, अचार और परांठे लेकर पहुंचा राकेश टिकैत के पास, बोला दादू तुम संघर्ष करो हम तुम्हारे साथ हैं। 

गाजीपुर बॉर्डर पर किसान अपनी मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन दे रहे हैं। राकेश टिकैत के नेतृत्व में हजारों की संख्या में किसान गाजीपुर बॉर्डर पर उमड़ रहा है। गाजियाबाद का एक 6 साल के बच्चा राकेश टिकैत के लिए अपने घर से पानी, अचार और परांठे लेकर गाजीपुर बॉर्डर पर पहुंचा है। बच्चे ने राकेश टिकैत से कहा है कि "दादू तुम संघर्ष करो हम तुम्हारे साथ हैं।" बच्चे की यह फोटो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रही है। बच्चे की जज्बे को देखकर राकेश टिकैत ने बच्चे को जीवन में हमेशा सफलता प्राप्त करने का आशीर्वाद दिया है।

गाजियाबाद के बमेटा गांव में रहने वाला 6 साल का बच्चा गोविंद सिंह अपनी बहन और पिता के साथ राकेश टिकैत के पास गिलास में पानी, पराठे, गुड, अचार और संतरा लेकर राकेश टिकैत के पास गाजीपुर बॉर्डर पर पहुंचा। आंदोलन में शामिल हुआ 6 साल का बच्चा गोविंद ने कहा है कि दादू तुम संघर्ष करो हम तुम्हारे साथ हैं। 

बच्चे के पिता विकास ने बताया कि गोविंद लगातार राकेश टिकैत को मोबाइल और टीवी पर देखता रहता है। बच्चा देश के किसानों को कभी भी परेशान होते हुए नहीं देख सकता। जब राकेश टिकैत के आंसू बच्चे ने देखे तो उसने अपनी मम्मी से बोला कि वह राकेश टिकैत दादू को अपने हाथ से खाना खिलाएगा। अपनी मम्मी से खाना बनवा कर गोविंद अपनी बहन के साथ गाजीपुर बॉर्डर पहुंचा है।

बिजनौर से बलिया तक गंगा आरती के लिए बनेंगे 1138 चबूतरे


लखनऊ । बिजनौर से लेकर बलिया तक पावन सलिला मां गंगा की आरती उतारने के लिए सरकार 1038 नए आरती स्थलों (चबूतरों) का निर्माण कराने जा रही है। इन स्थलों का निर्माण होने के बाद काशी व प्रयागराज समेत प्रदेश के करीब 1100 स्‍थानों पर गंगा आरती होगी। नमामि गंगे विभाग की अगुआई में गंगा के दोनों किनारों पर बसे 1038 गांवों व कस्बों को नए आरती स्‍थल के तौर पर चुना गया है ।

योजना के तहत बिजनौर से लेकर बलिया तक गंगा के पांच किलोमीटर के दायरे में दोनों किनारों पर बसे गांवों में नए आरती स्‍थलों के निर्माण की प्रक्रिया पर्यटन विभाग के सहयोग से शुरू की जाएगी। नए आरती स्‍थलों को जन सहभागिता के आधार पर संचालित किया जाएगा। आरती चबूतरों पर रोज तय समय पर गंगा आरती का आयोजन किया जाएगा। चयनित 1038 गांवों में गंगा घाट का निर्माण कर उन्‍हें धार्मिक स्‍थल के रूप में विकसित किया जाएगा। इन गांवों में धर्मार्थ भवन का निर्माण करने के भी निर्देश दिए गए हैं।

भाजपा जिलाध्यक्ष विजय शुक्ला ने की संगठन को मजबूत बनाने की अपील


मुजफ्फरनगर । जसोई गांव एवं चरथावल के बिरालसी मंडल में बैठक लेते हुए जिला अध्यक्ष विजय शुक्ला ने कार्यकर्ताओं से पार्टी को मजबूत बनाने का आह्वान किया। 

जिलाध्यक्ष विजय शुक्ला द्वारा बघरा मंडल  के गांव जसोई और चरथावल के बिरालसी मंडल में बैठक ली गई। बैठक में मंडल अध्यक्ष , मंडल प्रभारी , ब्लॉक संयोजक , सेक्टर संयोजक , सेक्टर प्रभारी बुलाए गए। 

बूथ स्तर की मजबूती पर चर्चा की गई। साथ में जिला सह मीडिया प्रभारी अचिंत मित्तल, रजनीश बालियान सिसौली , सनातन नरेश उपस्थित रहे। 

बघरा मंडल अध्यक्ष डॉ वीरेंद्र शर्मा बघरा मंडल प्रभारी गौरव चौधरी एवं बिरालसी मंडल के अध्यक्ष विकास आर्य आदि मौजूद रहे।

पचास से ज्यादा है उम्र तो जानिए कब लगेगा कोविड का टीका


मुजफ्फरनगर । कोरोना वैक्सीनेशन के सबसे बड़े चरण की तैयारी शुरू हो गई है। वैक्सीनेशन का तीसरा चरण अब तक का सबसे बड़ा चरण होगा। इस चरण में बुजुर्ग, 50 वर्ष से अधिक उम्र के अधेड़ व बीमार शामिल होंगे।

इस चरण के लिए तैयारियां तेज कर दी गई है। आगामी 20 फरवरी के बाद कोविड पोर्टल पर वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन हो सकेगा। शासन ने इसके संकेत स्वास्थ्य विभाग को दे दिए हैं। इसके लिए पोर्टल में कुछ बदलाव किया जा रहा है।

पांच फरवरी से दूसरे चरण का वैक्सीनेशन शुरू होगा। दूसरे चरण के लिए पंजीकरण की अंतिम तिथि रविवार(31 जनवरी) को है। इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग तीसरे चरण के लिए तैयारी में लग गया है। एक अनुमान के मुताबिक तीसरे चरण में करीब साढ़े चार से पांच लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके लिए शासन पोर्टल में तब्दीली कर उसे एप जैसा बना रहा है। इस एप को लाभार्थी मोबाइल में डाउनलोड कर सकेंगे।

फोटोयुक्त पहचान पत्र है जरूरी

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक तीसरे चरण में पंजीकरण के लिए फोटो युक्त पहचानपत्र जरूरी होगा। इच्छुक लाभार्थी मोबाइल में एप को डाउनलोड कर उसमें फोटो युक्त पहचान पत्र को अपलोड कर आवेदन कर सकेंगे। अधेड़ व बुजुर्गों को पहचान पत्र के साथ उम्र से जुड़ा एक पत्र अटैच करना होगा। बीमारों को आवेदन करते समय मेडिकल रिकार्ड भी अटैच करना होगा।

तीसरे चरण के टीकाकरण के लिए तैयारियां शुरू हो गई हैं। इसमें रजिस्ट्रेशन के तरीकों को लेकर अभी कोई दिशा-निर्देश नहीं मिला है। तीसरे चरण में बूथ बढ़ेंगे।

आलोक स्वरूप और अनिल स्वरूप ने एसडीएम के आदेश को बताया एक पक्षीय और नियम विरुद्ध


मुजफ्फरनगर । निजी स्वामित्व भूमि को शत्रु संपत्ति मानते हुए उक्त भूमि को राज्य सरकार में दर्ज किये जाने से सम्बंधित प्रकरण में पिछले कुछ दिनों कुछ समाचार पत्रों तथा वाट्सअप न्यूज़ ग्रुप में प्रकाशित समाचार/लेख की वस्तु स्थिति से अवगत कराते हुए प्रमुख समाजसेवी आलोक स्वरूप और अनिल स्वरूप ने आज एसडीएम सदर के आदेश को नियम विरुद्ध और एक पक्षीय बताया। 

उन्होंने कहा कि एक आदेश उप जिलाधिकारी सदर मुज़फ्फरनगर द्वारा दिनांक 31/12/2020 को पारित हुआ है जिसमे उन्होंने आदेश किया है कि “ग्राम-युसुफपुर बाहर हदूद के खाता स. 3 खसरा न. 37, 39, 43, 44, एवं 45 हे०, ग्राम-युसुफपुर अन्दर हदूद के खाता स. 7 खसरा न. 182, 202, 361, 363, 364, 370, 374, 375, 376, 378 हे०, ग्राम-युसुफपुर नॉन जेड०ए० के खाता स. 5 खसरा न. 365, 366, खाता सं. 7 के खसरा न. 371, 372, 373, 377, 379, 382, 383, व 384 हे० तथा खाता स. 12 खसरा न. 203 व 204 हे० से वर्तमान प्रविष्टि को धारा-38(5) उ०प्र० राजस्व संहिता, 2006 के अन्तर्गत निरस्त कर भूमि को राज्य सरकार में दर्ज किया जाता है”। ये आदेश निराधार है, न्यायहित में नहीं है तथा नियम विरूद्ध है। 

सर्वप्रथम उप जिलाधिकारी सदर के आदेश में उल्लेखित है कि “नोटिस सं. 22 दिनांक 15/06/2020 विपक्षी/प्रतिवादी संख्या 1-आलोक स्वरुप अनिल स्वरुप पुत्रगण विनोद कुमार सिंह के द्वारा नोटिस की प्रति प्राप्त न करने के कारण उक्त नोटिस की प्रति उनके दक्षिण मुहाने पर चस्पा की गयी व प्रतिवादीगणों को जवाब व साक्ष्य प्रस्तुत करने हेतु प्रयाप्त अवसर प्रदान किया गया लेकिन उनके द्वारा कोई  जवाब या साक्ष्य प्रस्तुत नहीं किया गया”  जबकि वास्तविकता यह है कि आलोक स्वरुप जी ने नोटिस की तामील करते हुए उप जिलाधिकारी सदर को एप्लीकेशन दिनांक 27/06/2020 प्रेषित करते हुए अवगत कराया था “कि कोरोना महामारी के मद्देनजर तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने टीवी न्यूज़ के माध्यम से विशेष रूप से वरिष्ठ नागरिकों को LOCKDOWN 1.0 के मद्देनजर आवागमन सूक्ष्म रूप में करने के लिए सचेत किया है I इसलिए कोरोना महामारी को देखते हुए तथा LOCKDOWN 1.0 को दृष्टिगत लेते हुए मैं घर से कही भी बाहर नहीं जा रहा हूँ अत: जुलाई-अगस्त कि तिथि नियुक्त करने कि कृपा करे” किन्तु आजतक भी सुनवाई कि नियत तिथि से अवगत नहीं कराया गया है। ये एप्लीकेशन / पत्र रजिस्टर्ड डाक द्वारा भेजी गयी थी तथा उप जिलाधिकारी कार्यालय को प्राप्त हो गयी थी I अत: यह कहना कि नोटिस पर आलोक स्वरुप आदि ने जानबूझकर नोटिस प्राप्त नहीं किया और अपना पक्ष नहीं रखा, बिलकुल बेबुनियाद और निराधार है I ये आदेश एक पक्षीय आदेश है तथा कोरोना महामारी में एक पक्षीय आदेश पारित करना, वो भी समुचित सुनवाई किये बिना किसी भी दशा में न्यायोचित नहीं है I उच्च न्यायालय इलाहाबाद ने भी समय-समय पर दिशा निर्देश दिए है कि “ADVERSE ORDER” कोरोना काल में अपेक्षित नहीं है I यह आश्चर्य का बिंदु है कि इस कोरोना महामारी में जहाँ पूरा देश की जनता एकजुट होकर आवागमन कम से कम करके (विशेष रूप से वरिष्ठ व बीमार नागरिक) महामारी से लड़ते हुए जीवन यापन कर रहे है ऐसी स्थिति में कोरोना काल में नोटिस निर्गत करना और कोरोना काल में ही मात्र 6 महीने के अन्दर एक पक्षीय आदेश पारित करना बड़ा ही विचारणीय विषय है I इस न्यायालय में कोरोना काल से भी पहले के वर्षों पुराने वाद लम्बित चले आ रहे हैं जिनका निस्तारण नहीं हो पा रहा है तथा प्रश्नगत वाद का निस्तारण मात्र 6 महीने में एक पक्षीय आदेश द्वारा करना एक सामान्य प्रक्रिया प्रतीत नहीं होती है I इससे पूर्व भी एक नोटिस न. 178 दिनांकित 27/01/18 को तहसीलदार सदर द्वारा, अज्ञात शिकायतकर्ता के आधार पर केवल हमको निर्गत किया गया था तथा 3 साल व्यतीत होने के बाद भी उक्त नोटिस न. 178 का आदेश आज तक पारित नहीं हुआ है जिसमे हमने प्रत्यावेदन दे दिया था परन्तु सुनवाई की तिथि आज तक नहीं लगी है I शत्रु सम्पत्ति अधिनियम में एक और नोटिस न. 371 दिनांकित 13/04/18 प्रभारी शत्रु सम्पत्ति से भी अज्ञात शिकायतकर्ता के आधार पर केवल हमको प्रेषित हुआ था जिस पर हमने अपना प्रत्यावेदन 3 साल पहले ही दाखिल कर दिया था परन्तु इस नोटिस में भी कोई सुनवाई की तिथि आज तक नियुक्त नहीं हुई है I 

तहसीलदार सदर द्वारा प्रेषित नोटिस न. 178 व प्रभारी शत्रु सम्पत्ति द्वारा प्रेषित नोटिस न. 371 आज तक लंबित चले आ जबकि यह जगजाहिर है कि नोटिस निर्गत होने के बाद अधिकारी के पास दो ही विकल्प होते है या तो नोटिस को CONFIRM किया जाये या नोटिस को WITHDRAW किया जाये । नोटिस को लंबित रखने का कोई भी प्रावधान किसी भी नियम में नहीं है I सम्बंधित अधिकारी भी भली-भांति जानते है कि विवादित भूमि शत्रु सम्पत्ति नहीं है तथा माननीय सर्वोच्च न्यायालय दिल्ली ने विवादित भूमि का स्वामित्व सरकार का नहीं माना है निजी स्वामित्व माना है I मैंने 40-50 रिमाइंडर भी भेजे है तथा 2 वर्ष पूर्व आपके माध्यम से प्रेस कांफ्रेंस भी की थी जिसमे मैंने अपेक्षा की थी कि शत्रुसम्पत्ति सम्बंधित नोटिसों की सुनवाई की जाये व शीघ्र-अतिशीघ्र उनका निस्तारण किया जाये जो आज तक नहीं हुआ है। 

इसके विपरीत अब वर्तमान में एक नया नोटिस राजस्व अधिनियम के अंतर्गत प्रेषित कर दिया जिसका एक पक्षीय आदेश भी पारित कर दिया व विवादित भूमि जो अब तक 570 बीघे पर केन्द्रित थी अब इस नए नोटिस सं. 32 से मात्र 51 बीघे लगभग रह गयी है I यदि ये शत्रु सम्पत्ति है तो पूरी सम्पत्ति अर्थात 570 बीघा शत्रु सम्पत्ति घोषित होनी चाहिये न कि मात्र 51 बीघे I यह तो तर्क है कि पूरी विवादित भूमि नवाब साहब की शत्रु सम्पत्ति है या पूरी नहीं है मात्र 10% का छोटा भाग शत्रु सम्पत्ति होना सम्भव नहीं है I मैंने स्वयं अधिकारियों को लिखित में अवगत कराया था कि यदि माननीय सर्वोच्च न्यायालय दिल्ली के आदेश दिनांक 18/11/1953 से वो संतुष्ट नहीं है तो माननीय सर्वोच्च न्यायालय दिल्ली में रिव्यु पेटीशन दायर कर सकते है किन्तु मेरे लिखित सुझाव के बावजूद आज तक माननीय सर्वोच्च न्यायालय दिल्ली में रिव्यु पेटीशन सरकार के द्वारा दायर नहीं की गयी। 

नोटिस न. 32 में मूल बिंदु CUTTING, OVERWRITING खतौनी के खसरा नम्बरों में किया जाना दर्शाया गया है I यह तो जगजाहिर है कि खसरा अधिकारी के पास / विभाग की कस्टडी में रहता है तथा आम जनमानस खसरो में स्वयं CUTTING, OVERWRITING नहीं कर सकता है I अत: सर्वप्रथम जिस अधिकारी / कर्मचारी ने संभवत: CUTTING, OVERWRITING की है उससे स्पष्टीकरण मांगना चाहिये कि उसने किस आधार पर CUTTING, OVERWRITING की थी I CUTTING, OVERWRITING किया जाना एक गंभीर विषय है तथा किसी भी सरकारी दस्तावेज में यदि करोड़ो रूपये की सम्पत्ति की हेरा-फेरी हुई है तो नियमानुसार सर्वप्रथम FIR दायर की जानी चाहिये जिससे इस षड्यंत्र का पर्दाफाश हो सके। यह भी उल्लेखनीय है कि मात्र खसरो में प्रविष्टि से कोई सम्पत्ति मालिक नहीं बनता है बैनामा आदि होने के बाद खसरो में प्रविष्टि सामान्य दाखिल ख़ारिज की प्रविष्टि होती है अहम् दस्तावेज बैनामा इत्यादि होता है जो रजिस्ट्रार कार्यालय में रिकॉर्ड में रहता है अत: मूल बैनामा आदि का अध्यन करना जरुरी है न कि केवल खसरो का। नोटिस न. 32 में केवल खसरो का जिक्र किया गया है और कोई भी उल्लेख नहीं है कि मूल दस्तावेज जैसे कि बैनामा आदि में भी CUTTING/OVERWRITING की गयी है अथवा नहीं I जब मूल दस्तावेजो में कोई CUTTING/OVERWRITING नहीं है जो कि अहम् सरकारी दस्तावेज है तो मात्र खसरो में CUTTING/OVERWRITING होने से ऐसा आदेश पारित करना नियम विरूद्ध है। यह भी उल्लेखनीय है कि नोटिस न. 32 केवल मुझे तथा मेरी काबिज सम्पत्ति पर ही दिया है। वर्तमान में मैं मात्र 12-13 बीघे पर ही काबिज हूँ जबकि आदेश में जो अन्य भूमि दर्शायी है उसमे कई कॉलोनियां विकसित है तथा सैकडों परिवार काबिज है तथा सम्पत्ति स्वामी है। जब नोटिस में खसरा न. -37,39,43,44,45, 182, 202, 361, 363, 364, 370, 374,375, 376, 378, 365,366, 371, 372, 373, 377, 379, 382,383, 384,203,204 उल्लेखित है तो न्यायहित में वर्तमान में सभी कब्जाधारियो / सम्पत्ति मालिको को चिन्हित कर सबको नोटिस निर्गत किया जाना चाहिये था जिससे वो सभी अपना पक्ष आपके समक्ष अपनी सम्पत्ति के बारे में रखते। केवल मेरे विरूद्ध EX-PARTY ORDER बिना किसी और को पक्षदार बनाये नोटिस देना न्यायहित में नहीं है ऐसे में न्यायहित में या तो सभी उपरोक्त खसरो के सभी कबिजो को नोटिस निर्गत हो या सार्वजानिक सूचना समाचार पत्रों के माध्यम से प्रकाशित करानी चाहिए। 

यह भी उल्लेखनीय है कि यदि CUTTING, OVERWRITING हुई भी है जो एक विवाद का बिंदु है तो भी CUTTING, OVERWRITING से पूर्व सरकार का नाम भूमि में इन्द्राज नहीं था तथा प्राइवेट पार्टियो कि प्रविष्टियाँ है अत: CUTTING, OVERWRITING से किसी के अधिकार प्रभावित होंगे वो निजी व्यक्ति है जिसमे सरकार हस्तक्षेप नहीं कर सकती तथा प्राइवेट पार्टियो के विवाद के लिए सिविल कोर्ट का प्रावधान है। माननीय उच्च न्यायालय ने अपने आदेश Jitendra Bahadur Singh VS State of U.P and 5 Others दिनांकित 04/09/2015 में इसका उल्लेख किया है जिसके बाद मुख्य सचिव ने एक G.O न. 650(1)/एक-9-15-रा-9 दिनांक 16/09/2015 को जारी किया था जिसमे स्पष्ट रूप से उप जिलाधिकारी / अन्य अधिकारियों को प्रतिबंधित किया था कि निजी वाद में सरकार का कोई हस्तक्षेप नहीं होना चाहिये। 

यदि CUTTING, OVERWRITING हुई है तो भी जिस निजी व्यक्ति का नाम प्रभावित हुआ है तो उसके नाम से पुन: प्रविष्टि होने से भी सरकार में सम्पत्ति किसी भी दशा में दर्ज नहीं हो सकती। सर्वप्रथम विवादित भूमि शत्रु सम्पत्ति घोषित होनी चाहिये तब सरकार का हस्तक्षेप करना न्यायोचित  होगा। सरकार ने स्वयं विवादित भूमि को कभी नवाब साहब की या शत्रु सम्पत्ति नहीं माना है। और ये भी अहम् है कि सरकार ने स्वयं इस विवादित भूमि के कुछ भाग का अधिग्रहण किया था और उसकी अधिग्रहण राशी लाला दीपचंद को अदा की थी। अधिग्रहण राशी भी माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने ही तय की थी I माननीय सर्वोच्च न्यायालय दिल्ली का आदेश स्टेट ऑफ़ यूपी VS लाला दीप चन्द व अन्य दिनांकित 16/1/1980 का है। 

अश्लील वीडियो वायरल होने के बाद भाजपा जिलाध्यक्ष की छुट्टी


अमरोहा। भाजपा जि‍लाध्‍यक्ष बृजेश चौधरी का अश्‍लील वीडि‍यो वायरल होने के बाद हो रही पार्टी की कि‍रकि‍री पर प्रदेश नेतृत्व ने कड़ा कदम उठाया है।

प्रदेश अध्‍यक्ष स्‍वतंत्र देव सि‍ंह ने भाजपा जि‍लाध्‍यक्ष को हटा दि‍या है। अब उनके स्‍थान पर ऋषि‍पाल नागर को जि‍लाध्‍यक्ष बनाया है। बता दें कि‍ भाजपा जि‍लाध्‍यक्ष बृजेश चौधरी का अश्‍लील वीडि‍यो वायरल हो रहा था। प्रदेश ही नहीं देशभर में पार्टी की छवि‍ को नुकसान हो रहा था।

इस विवाद के चलते प्रदेश अध्‍यक्ष स्‍वतंत्र देव सि‍ंह ने उन्‍हें जि‍लाध्‍यक्ष पद से हटा दि‍या है। सूत्रों की माने तो कई और नेता भी रडार पर हैं, इन पर भी कभी भी गाज गि‍र सकती है।

मां और बेटे ने अपना खून देकर महिला की जान बचाई



मुजफ्फरनगर । मां बेटे ने रक्त देकर एक महिला की जान बचाई। 

 आमतौर पर मां बच्चे का रक्त बहता नहीं देख सकती बच्चे के रक्त की कुछ बूंदें ही मां को विचलित कर सकती हैं परंतु कुछ माँ ऐसी भी हैं जो स्वयं रक्तदान करके लोगों की जान बचाती हैं व आप अपने बच्चों को प्रेरित करके उनका भी रक्तदान करवा रही है मुजफ्फरनगर के एक निजी अस्पताल में भर्ती महिला के लिए बी नेगेटिव रक्त की 2 यूनिट की आवश्यकता थी बी नेगेटिव एक रेयर ग्रुप है जिसके रक्तदाता मिलने में कठिनाई होती है मरीज के परिवार को किसी ने समर्पित युवा समिति से संपर्क करने को कहा, संपर्क करने पर समर्पित युवा समिति की रक्त वीरांगना श्रीमती पूनम  नारंग ने तुरंत हामी भरते हुए न केवल स्वयं का अपितु अपने पुत्र गौरव का रक्तदान करा कर मरीज की प्राण रक्षा की, गौरतलब है कि समर्पित युवा समिति इस समय रक्तदान के क्षेत्र में सेवा के नित नए आयाम स्थापित कर रही है। समर्पित युवा समिति के सदस्य अमित पटपटिया ने दोनों रक्तवीरों को साधुवाद देते हुए अन्य महिलाओं को भी प्रेरणा लेने  का आव्हान किया

इंटरनेट बंद करने से नहीं रुकेगी किसानों की आवाज


गाजीपुर । धरनास्थल पर इंटरनेट सेवा बंद करने से खफा भाकियू के प्रवक्ता और गाजीपुर सीमा पर किसान आंदोलन की कमान संभाले हुए राकेश टिकैत ने अपने ट्विटर  हैंडल से ट्वीट किया कि गाजीपुर बॉर्डर पर इंटरनेट बंद कर दिया गया है। सरकार किसानों की आवाज नहीं रोक सकती है। इसके अलावा भाकियू के प्रवक्ता धर्मेंद्र मलिक ने कहा कि केंद्र अभिव्यक्ति की आजादी को छीनने का काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने अपने कार्यकाल में सबसे ज्यादा इंटरनेट सर्विस पर रोक लगाई है। सरकार के पास केवल यहीं एक हथियार है। मगर जनता तक किसानों की बात पहुंच चुकी है। बता दें कि दिल्ली से सटी सीमाओं पर किसान भारी संख्या में मौजूद हैं। वहीं, किसानों के प्रदर्शन के दौरान किसी अनहोनी को टालने के लिए भारी संख्या में पुलिस बल भी तैनात किए गए हैं।

जिले में मिले 12 कोरोना पॉजिटिव, एक महिला की मौत

 मुजफ्फरनगर l जिले में आज 12 नए कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं l वहीँ साकेत कॉलोनी निवासी भावना पत्नी मनोज 56 वर्षीय की मुजफ्फरनगर मेडिकल कॉलेज में उपचार के दौरान मौत हो गई l

खट्टर के बॉडीगार्ड ने की आत्महत्या


यमुनानगर। मुख्यमंत्री के सुरक्षागार्ड ने अपने पिस्टल से खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली। मृतक बॉडीगार्ड हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्‌टर की सुरक्षा में तैनात था। इस घटना के बाद हड़कंप मच गया। 

बताया जा रहा है कि मृतक बॉडीगार्ड जितेंद्र ने खुद को अपनी सर्विस रिवॉल्वर से कनपटी पर गोली मारी हैं। गोली की आवाज सुन लोग कमरे में पहुंचे तो देखा की वह जमीन पर गिरा हुआ है। सुसाइड से पहले वह परिजनों के साथ घर में खाना खाया था। जिसके बाद वह होने के लिए अपने कमरे में गया था। इस दौरान ही इस घटना को अंजाम दिया है।

घटना की सूचना मिलने के बाद एसपी कमलदीप गोयल घटनास्थल पर पहुंचे, परिजनों से पूछताछ की तो कई जानकारी सामने आई है। परिजनों ने बताया कि जितेंद्र ने गांव की ही एक युवती से साल 2012 में लव मैरिज किया था। एक बेटा और उसकी एक बेटी है। घटना के दौरान पत्नी बच्चों लेकर मायके गई थी, फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है।

गाजीपुर बॉर्डर पर इंटरनेट और यातायात बंद


मुजफ्फरनगर । गाजीपुर बॉर्डर पर राजमार्ग 24 पर यातायात और इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई हैं। हरियाणा के बाद अब केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राजधानी दिल्ली में सिंघु, गाजीपुर, टीकरी बॉर्डर और उनके आसपास के इलाकों में इंटरनेट सेवाओं को अस्थायी रूप से बंद कर दिया है। यहां 29 जनवरी को रात 11 बजे से 31 जनवरी को रात 11 बजे तक के लिए इंटरनेट सेवा पर रोक लगाई गई है। 

सरकार ने सभी निजी और सरकारी टेलिकॉम कम्पनियों से इन आदेशों का पालन करने को कहा है। माना जा रहा है कि सरकार ने ये आदेश किसान आंदोलन के मद्देनजर क्षेत्र में शांति, सार्वजनिक व्यवस्था तथा कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए जारी किए हैं। बता दें कि राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद धीमा पड़ा किसानों का आंदोलन शुक्रवार से एक बार फिर जोर पकड़ने लगा है और धरनास्थलों पर भीड़ बढ़ने का सिललिसा लगातार जारी है।  

इससे पहले हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर की अगुवाई वाली भाजपा सरकार ने शुक्रवार शाम को राज्य के सभी 22 में से 17 जिलों में तुरंत प्रभाव से इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी थी। हालांकि 5 जिलों में इंटरनेट अब भी चल रहा है। जानकारी के अनुसार, सोनीपत, पलवल व झज्जर में पहले ही इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगी हुई थी। कल जिन 14 और जिलों में इंटरनेट सेवा रोकी गई उनमें - अंबाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, पानीपत, हिसार, जींद, रोहतक, भिवानी, चरखी दादरी, फतेहाबाद, रेवाड़ी और सिरसा जिले शामिल हैं। इन जिलों में वॉयस कॉल को छोड़कर इंटरनेट सेवाओं को 30 जनवरी, 2021 शाम 5 बजे तक के लिए बंद करने का निर्णय लिया गया है। वहीं प्रदेश के जिन 5 जिलों में इंटरनेट सेवा चल रही है उनमें गुरुग्राम, फरीदाबाद, नूंह, पंचकूला और महेंद्रगढ़ शामिल हैं।  

सरकार ने ये आदेश क्षेत्र में शांति और सार्वजनिक व्यवस्था में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी रोकने के लिए जारी किए हैं। सरकार ने सभी टेलिकॉम ऑपरेटरों को इन निर्देशों का पालन करने के लिए कहा है। राज्य सरकार ने एसएमएस, वॉट्सऐप, फेसबुक, ट्विटर आदि विभिन्न सोशल मीडिया माध्यमों से दुष्प्रचार और अफवाहों का प्रसार रोकने के लिए इंटरनेट सेवाएं बंद रखने की अवधि अगले 24 घंटे और बढ़ाने का निर्णय लिया था।

बता दें कि, गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में किसानों के हिंसक प्रदर्शन के बाद हरियाणा सरकार ने शांति एवं व्यवस्था भंग होने से रोकने के लिए सोनीपत, झज्जर और पलवल तीनों जिलों में मंगलवार को ही मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गई थीं। 

हरियाणा के गृह विभाग की ओर से जारी आदेश में कहा गया था कि हरियाणा की सीआईडी के एडीजीपी द्वारा संज्ञान में लाया गया है कि हालात अब भी तनावपूर्ण हैं और हरियाणा से सटे एनसीआर के इलाकों में हिंसा फैल सकती है जो कि 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर परेड के चलते उत्पन्न हुई थी।

दूसरी ओर दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद गुरुवार को सरकार द्वारा किसान आंदोलन को खत्म करने की कोशिशों के दौरान गाजीपुर बॉर्डर के धरनास्थल पर टेंट हटाकर बिजली-पानी तक काट दिए गए थे। इसके बावजूद किसान टस से मस नहीं हुए और उन्होंने इसका तोड़ निकालते हुए धरनास्थल पर बिजली की व्यवस्था करने के लिए सोलर पैनल और सोलर इन्वर्टर लगाने शुरू कर दिए हैं। किसानों ने मोबाइल फोन चार्ज करने लिए कई जगहों पर चार्जिंग प्वॉइंट भी बनाए हैं।

भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत की अपील के बाद यहां पर एक बार फिर से किसानों की संख्या बढ़ने लगी है। 26 जनवरी के बाद ऐसा लग रहा था कि अब आंदोलन लगभग समाप्त हो गया है, लेकिन गुरुवार शाम गाजीपुर बॉर्डर पर डटे भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत के वीडियो टीवी चैनलों पर चलने के बाद माहौल तेजी से बदल गया और किसानों का फिर से धरनास्थलों पर लौटने का सिलसिला शुरू हो गया है। 

गाजीपुर बॉर्डर पर भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के समर्थक किसानों की भीड़ बढ़ने लगी है। मेरठ, बागपत, बिजनौर, मुजफ्फरनगर, मुराबादाबाद एवं बुलंदशहर जैसे पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों से भारी संख्या में किसान इस आंदोलन में शामिल होने के लिए यूपी गेट पहुंचे हैं। राकेश टिकैत के नेतृत्व में बीकेयू सदस्य पिछले साल 28 नवंबर से यहां पर धरने पर बैठे हैं। 

हालांकि, गाजीपुर बॉर्डर पर अब भी काफी संख्या पर पुलिस बल तैनात है और हालात पर नजर बनाए रखने के लिए लगातार ड्रोन कैमरों से निगरानी की जा रही है। पुलिस का कहना है कि कोई आपराधिक तत्व आंदोलन में शामिल होकर माहौल न बिगाड़ दे, इसके लिए ऐसा किया जा रहा है।

बता दें कि किसान हाल ही बनाए गए तीन नए कृषि कानूनों - द प्रोड्यूसर्स ट्रेड एंड कॉमर्स (प्रमोशन एंड फैसिलिटेशन) एक्ट, 2020, द फार्मर्स ( एम्पावरमेंट एंड प्रोटेक्शन) एग्रीमेंट ऑन प्राइस एश्योरेंस एंड फार्म सर्विसेज एक्ट, 2020 और द एसेंशियल कमोडिटीज (एमेंडमेंट) एक्ट, 2020 का विरोध कर रहे हैं। केन्द्र सरकार इन तीनों कानूनों को कृषि क्षेत्र में बड़े सुधार के तौर पर पेश कर रही है, वहीं प्रदर्शन कर रहे किसानों ने आशंका जताई है कि नए कानूनों से एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) और मंडी व्यवस्था खत्म हो जाएगी और वे बड़े कॉरपोरेट पर निर्भर हो जाएंगे।

सुशांत सिंह राजपूत के एक रिश्तेदार को गोली मार कर घायल किया


सहरसा। शनिवार को सनसनीखेज मामले में दिनदहाड़े बाइक सवार हथियारबंद बदमाशों ने यामाहा शोरूम के मालिक पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं। गोलीबारी की घटना में शोरूम मालिक सहित एक कर्मी भी जख्मी हो गए। घटना की जानकारी मिलने पर परिजनों द्वारा दोनों जख्मी को इलाज के लिए गंगजला चौक स्थित निजी क्लिनिक में भर्ती कराया गया। शोरूम मालिक राजकुमार सिंह के पैर में गोली लगी, जबकि दूसरा जख्मी बैजनाथपुर निवासी अमीर हसन के कमर समीप गोली लगी और उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। राजकुमार सिंह बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के रिश्तेदार हैं।

राजकुमार सिंह का सहरसा और मधेपुरा में शोरूम है। शनिवार की सुबह करीब दस बजे वे अपने कर्मी सह मैकेनिक हसन के साथ बाइक से मधेपुरा स्थित शोरूम खोलने जा रहा थे। इसी दौरान बैजनाथपुर से आगे कुछ किलोमीटर आगे बढ़ने पर सबैला व तिरी के पास पहले बाइक सवार तीन बदमाशों ने उन्हें ओवरटेक कर लिया। ओवरटेक करने के बाद बाइक सवार बदमाशों ने सामने से उनके ऊपर कई राउंड गोलीबारी की, जिसमें से एक गोली राजकुमार सिंह और दूसरी गोली आमिर हसन को लगी। 

घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस घटनास्थल को लेकर कभी सहरसा जिला और कभी मधेपुरा जिला में उलझी रही। बाद में बैजनाथपुर पुलिस शिविर प्रभारी संजीव कुमार घटनास्थल पर पहुंचे और जांच पड़ताल शुरू कर दी। वहीं सदर एसडीपीओ संतोष कुमार ने निजी क्लिनिक पहुंचे। दिनदहाड़े हुई गोलीबारी की घटना के बाद हडकंप मच गया।

मुरादाबाद के पास बड़े हादसे में दस लोगों की मृत्यु


मुरादाबाद । मुरादाबाद-आगरा हाइवे पर बड़ा हादसा हुआ है। एक मिनी बस, ट्रक‍ और कैंटर से टकरा गई। इस दुर्घटना में दस लोगों की दर्दनाक मौत हो गई जबकि करीब 12 लोग घायल बताए जा रहे हैं। सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने मृतकों के परिवारीजनों को दो-दो लाख रुपए और घायलों को 50-50 हजार रुपए आर्थिक सहायता का ऐलान किया है। 

घायलों को मुरादाबाद जिला अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। मिली जानकारी के अनुसार शनिवार भोर में यह दुर्घटना हुई। यह निजी बस बिलारी से मुरादाबाद आ रही थी। नानपुर के पास यह एक ट्रक और कैंटर से टकरा गई। प्रत्‍यक्षदर्शियों का कहना है कि यह हादसा ओवरटेकिंग के चक्‍कर में हुआ। दुर्घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास के लोगों की मदद से घायलों को अस्‍पताल पहुंचाया। मौके पर डीएम और एसएसपी ने पहुंचकर राहत कार्य का निरीक्षण किया। 

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने जिला प्रशासन के अधिकारियों को हादसे में घायल लोगों का समुचित उपचार कराने के निर्देश देते हुए उनके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है। उन्‍होंने दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति की प्रार्थना करते हुए मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है।

भारी मात्रा में शराब समेत तस्कर गिरफ्तार


मुजफ्फरनगर । चरथावल पुलिस द्वारा चौकी बिरालसी से 02 शातिर अवैध शराब तस्करों  को गिरफ्तार किया गया।

गिरफ्तार अभियुक्तगण के नाम राजदीप पुत्र जयकिशन निवासी ग्राम रंगरुटी खेडा थाना असान्ध करनाल हरियाणा वअमित पुत्र राजकुमार निवासी ग्राम रंगरुटी खेडा थाना असान्ध करनाल हरियाणा हैं। 

बरामदगी का विवरण

1-  01 तमंचा मय 02 जिन्दा कारतूस 315 बोर।

2-  01 अदद चाकू नाजायज।

3-  10 पेटी देशी शराब हरियाणा मार्का माल्टा 

4-  10 पेटी अंग्रेजी शराब मैकडॉबल नं0 01 हरियाणा मार्का

क्रांति सेना के नेता ललित मोहन शर्मा के पुत्र का निधन

मुजफ्फरनगर । शिवसेना के पूर्व जिलाध्यक्ष फिलहाल क्रांति सेना के नेता ललित मोहन शर्मा के युवा पुत्र का हार्ट अटैक से निधन हो गया l 

जैसे ही इस दुखद समाचार की सूचना राजनीतिक गलियारे में पहुंची तमाम राजनीतिक एवं राजनीतिक पार्टियों में शोक की लहर दौड़ गई l

ईश्वर उनके पुत्र को अपने श्री चरणों में स्थान दे और परिवार को इस पहाड़ जैसे दुःख को सहन करने की क्षमता प्रदान करे l

आज का पंचांग एवँ राशिफल 30 जनवरी 2021

 विज्ञापन

 

🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞

⛅ *दिनांक 30 जनवरी 2021*

⛅ *दिन - शनिवार*

⛅ *विक्रम संवत - 2077*

⛅ *शक संवत - 1942*

⛅ *अयन - उत्तरायण*

⛅ *ऋतु - शिशिर*

⛅ *मास - माघ (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - पौष)*

⛅ *पक्ष - कृष्ण* 

⛅ *तिथि - द्वितीया रात्रि 10:12 तक तत्पश्चात तृतीया*

⛅ *नक्षत्र - मघा 31 जनवरी रात्रि 02:28 तक तत्पश्चात पूर्वाफाल्गुनी*

⛅ *योग - सौभाग्य शाम 03:09 तक तत्पश्चात शोभन*

⛅ *राहुकाल - सुबह 10:04 से सुबह 11:28 तक*

⛅ *सूर्योदय - 07:17* 

⛅ *सूर्यास्त - 18:26* 

⛅ *दिशाशूल - पूर्व दिशा में*

⛅ *व्रत पर्व विवरण - 

 💥 *विशेष - द्वितीया को बृहती (छोटा बैंगन या कटेहरी) खाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞



🌷 *माघ कृष्ण चतुर्थी / संकष्टी चतुर्थी / संकट चौथ* 🌷

➡ *31 जनवरी 2021 रविवार को संकट चौथ, संकष्टी चतुर्थी का त्यौहार है। इस चतुर्थी को 'माघी कृष्ण चतुर्थी', 'तिलचौथ', ‘वक्रतुण्डी चतुर्थी’ भी कहा जाता है।*

🙏🏻 *इस दिन गणेश भगवान तथा संकट माता की पूजा का विधान है। संकष्ट का अर्थ है 'कष्ट या विपत्ति', 'कष्ट' का अर्थ है 'क्लेश', सम् उसके आधिक्य का द्योतक है। आज किसी भी प्रकार के संकट, कष्ट का निवारण संभव है। आज के दिन व्रत रखा जाता है। इस व्रत का आरम्भ ' गणपतिप्रीतये संकष्टचतुर्थीव्रतं करिष्ये ' - इस प्रकार संकल्प करके करें । सायंकालमें गणेशजी का और चंद्रोदय के समय चंद्र का पूजन करके अर्घ्य दें।*

*'गणेशाय नमस्तुभ्यं सर्वसिद्धि प्रदायक।*

*संकष्टहर में देव गृहाणर्धं नमोस्तुते।*

*कृष्णपक्षे चतुर्थ्यां तु सम्पूजित विधूदये।*

*क्षिप्रं प्रसीद देवेश गृहार्धं नमोस्तुते।'*

🙏🏻 *नारदपुराण, पूर्वभाग अध्याय 113 में संकष्टीचतुर्थी व्रत का वर्णन इस प्रकार मिलता है।*

*माघकृष्णचतुर्थ्यां तु संकष्टव्रतमुच्यते । तत्रोपवासं संकल्प्य व्रती नियमपूर्वकम् ।। ११३-७२ ।।*

*चंद्रोदयमभिव्याप्य तिष्ठेत्प्रयतमानसः । ततश्चंद्रोदये प्राप्ते मृन्मयं गणनायकम् ।। ११३-७३ ।।*

*विधाय विन्यसेत्पीठे सायुधं च सवाहनम् । उपचारैः षोडशभिः समभ्यर्च्य विधानतः ।। ११३-७४ ।।*

*मोदकं चापि नैवेद्यं सगुडं तिलकुट्टकम् । ततोऽर्घ्यं ताम्रजे पात्रे रक्तचंदनमिश्रितम् ।। ११३-७५ ।।*

*सकुशं च सदूर्वं च पुष्पाक्षतसमन्वितम् । सशमीपत्रदधि च कृत्वा चंद्राय दापयेत् ।। ११३-७६ ।।*

*गगनार्णवमाणिक्य चंद्र दाक्षायणीपते । गृहाणार्घ्यं मया दत्तं गणेशप्रतिरूपक ।। ११३-७७ ।।*

*एवं दत्त्वा गणेशाय दिव्यार्घ्यं पापनाशनम् । शक्त्या संभोज्य विप्राग्र्यान्स्वयं भुंजीत चाज्ञया ।। ११३-७८ ।।*

*एवं कृत्वा व्रतं विप्र संकष्टाख्यं शूभावहम् । समृद्धो धनधान्यैः स्यान्न च संकष्टमाप्नुयात् ।। ११३-७९ ।।*

🙏🏻 *माघ कृष्ण चतुर्थी को ‘संकष्टवव्रत’ बतलाया जाता है। उसमें उपवास का संकल्प लेकर व्रती सबेरे से चंद्रोदयकाल तक नियमपूर्वक रहे। मन को काबू में रखे। चंद्रोदय होने पर मिट्टी की गणेशमूर्ति बनाकर उसे पीढ़े पर स्थापित करे। गणेशजी के साथ उनके आयुध और वाहन भी होने चाहिए। मिटटी में गणेशजी की स्थापना करके षोडशोपचार से विधिपूर्वक उनका पूजन करें । फिर मोदक तथा गुड़ से बने हुए तिल के लडडू का नैवेद्य अर्पण करें।*

*तत्पश्चात्‌ तांबे के पात्र में लाल चन्दन, कुश, दूर्वा, फूल, अक्षत, शमीपत्र, दधि और जल एकत्र करके निम्नांकित मंत्र का उच्चारण करते हुए उन्हें चन्द्रमा को अर्घ्य दें -*

*गगनार्णवमाणिक्य चन्द्र दाक्षायणीपते।*

*गृहाणार्घ्यं मया दत्तं गणेशप्रतिरूपक॥*

*'गगन रूपी समुद्र के माणिक्य, दक्ष कन्या रोहिणी के प्रियतम और गणेश के प्रतिरूप चन्द्रमा! आप मेरा दिया हुआ यह अर्घ्य स्वीकार कीजिए।’*

*इस प्रकार गणेश जी को यह दिव्य तथा पापनाशन अर्घ्य देकर यथाशक्ति उत्तम ब्राह्मणों को भोजन कराने के पश्च्यात स्वयं भी उनकी आज्ञा लेकर भोजन करें। ब्रह्मन ! इस प्रकार कल्याणकारी ‘संकष्टवव्रत’ का पालन करके मनुष्य धन-धान्य से संपन्न होता है। वह कभी कष्ट में नहीं पड़ता।*

🙏🏻 *लक्ष्मीनारायणसंहिता में भी कुछ इसी प्रकार वर्णन मिलता है ।*

*माघकृष्णचतुर्थ्यां तु संकष्टहारकं व्रतम् ।*

*उपवासं प्रकुर्वीत वीक्ष्य चन्द्रोदयं ततः ।। १२८ ।।*

*मृदा कृत्वा गणेशं सायुधं सवाहनं शुभम् ।*

*पीठे न्यस्य च तं षोडशोपचारैः प्रपूजयेत् ।। १२९ ।।*

*मोदकाँस्तिलचूर्णं च सशर्करं निवेदयेत् ।*

*अर्घ्यं दद्यात्ताम्रपात्रे रक्तचन्दनमिश्रितम् ।। १३० ।।*

*कुशान् दूर्वाः कुसुमान्यक्षतान् शमीदलान् दधि ।*

*दद्यादर्घ्यं ततो विसर्जनं कुर्यादथ व्रती ।। १३१ ।।*

*भोजयेद् भूसुरान् साधून् साध्वीश्च बालबालिकाः ।*

*व्रती च पारणां कुर्याद् दद्याद्दानानि भावतः ।। १३२ ।।*

*एवं कृत्वा व्रतं स्मृद्धः संकटं नैव चाप्नुयात् ।*

*धनधान्यसुतापुत्रप्रपौत्रादियुतो भवेत् ।। १३३ ।।*

➡ *भविष्यपुराण में भी इस व्रत का वर्णन मिलता है ।*

👉🏻 *आज के दिन क्या करें*

➡ *१. गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ अत्यन्त शुभकारी होगा ।*

➡ *२. गणेश भगवान को दूध (कच्चा), पंचामृत, गंगाजल से स्नान कराकर, पुष्प, वस्त्र आदि समर्पित करके तिल तथा गुड़ के लड्डू, दूर्वा का भोग जरूर लगायें। लड्डू की संख्या 11 या 21 रखें। गणेश जी को मोदक (लड्डू), दूर्वा घास तथा लाल रंग के पुष्प अति प्रिय हैं । गणेश अथर्वशीर्ष में कहा गया है "यो दूर्वांकुरैंर्यजति स वैश्रवणोपमो भवति" अर्थात जो दूर्वांकुर के द्वारा भगवान गणपति का पूजन करता है वह कुबेर के समान हो जाता है। "यो मोदकसहस्रेण यजति स वाञ्छित फलमवाप्रोति" अर्थात जो सहस्र (हजार) लड्डुओं (मोदकों) द्वारा पूजन करता है, वह वांछित फल को प्राप्त करता है।*

➡ *३. आज गणपति के 12 नाम या 21 नाम या 101 नाम से पूजा करें ।*

➡ *४. शिवपुराण के अनुसार “महागणपतेः पूजा चतुर्थ्यां कृष्णपक्ष के। पक्षपापक्षयकरी पक्षभोगफलप्रदा ॥ “ अर्थात प्रत्येक मास के कृष्णपक्ष की चतुर्थी तिथि को की हुई महागणपति की पूजा एक पक्ष के पापों का नाश करनेवाली और एक पक्ष तक उत्तम भोगरूपी फल देनेवाली होती है ।*

➡ *५. किसी भी समस्या के समाधान के लिए आज संकट नाशन गणेश स्तोत्र के 11 पाठ करें।*🌺🙏🏻पंचक आरम्भ

फरवरी 12, 2021, शुक्रवार को 02:11 am


पंचक अंत

फरवरी 16, 2021, मंगलवार को 08:57 pm


षटतिला एकादशी रविवार, 07 फरवरी 2021

जया एकादशी मंगलवार, 23 फरवरी 2021


09 फरवरी- भौम प्रदोष व्रत

24 फरवरी- प्रदोष व्रत


माघ पूर्णिमा 27 फरवरी, शनिवार

माघ अमावस्या 11 फरवरी 2021, गुरुवार


मेष 

आज के दिन विदेश से संबंधित कार्य सफलता से पूरे होंगे। परिवार में किसी सदस्य का स्वास्थ चिंता का विषय बन सकता है। लव लाइफ में कुछ तनाव रह सकता है। ससुराल पक्ष से अच्छे संबंध होंगे। यदि आप व्यापार करते हैं, तो उसमें आज कुछ बदलाव देखने को मिलेंगे। छात्रों को आज अपनी मनपसंद जगह पर एडमिशन मिलने की उम्मीद है और दोस्तों के साथ कहीं घूमने भी जा सकते हैं। घर के लिए कुछ जरूरी सामान की खरीदारी भी करनी पड़ सकती है।

वृष 

आप आज अपने पिताजी के स्वास्थ्य का विशेष रुप से ध्यान रखें, उन्हें किसी भी तरह के संक्रमण से दूरी रखने को कहे। परिवार का कोई सदस्य आज आपको खुशी की खबर सुना सकता है। संपत्ति का अच्छा विकास होगा। आपके कार्यक्षेत्र में यदि कोई महिला मित्र हैं, तो आज उनके सहयोग से आप कुछ नए प्रोजेक्ट पर काम करना शुरू कर देंगे और आपका आत्मबल बढ़ेगा। आपके भाई का साथ आज आपके काम आएगी, जिससे आपका व्यापार उन्नति करेगा।

मिथुन 

आज के दिन यदि आप अपने कैरियर में कुछ बदलाव की सोच रहे हैं, तो अभी समय अनुकूल नहीं है, इसलिए कोई भी काम करने से पहले अपने पिता व जीवन साथी से सलाह जरूर ले। आज आपके किसी परिचित व्यक्ति की सहायता से आपका अटका हुआ पैसा आपको मिल जायेगा। लव लाइफ में आप के सम्मान में वृद्धि होगी और छोटे बच्चों के साथ आप अच्छा समय बिताएंगे। यदि पारिवारिक संपत्ति में कोई विवाद चल रहा है, तो वह आज खत्म होगा और व्यापार में लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय सफल होंगे।

कर्क 

आज का दिन विवाह योग्य जातकों लिए शुभ समाचार लेकर आया है और मांगलिक कार्य की रूपरेखा बनेगी। आज के दिन यदि आप किसी नए प्रोजेक्ट पर काम करना चाहते हैं, तो उसमें आपको आपने अधिकारियों का समर्थन प्राप्त होगा और आपके कुछ पुराने मित्र भी समर्थन देंगे। यदि आपकी कुछ पिछली समस्याएं आपको परेशान कर रही थी, तो आज आपको उन से मुक्ति मिलेगी। छात्रों के लिए शिक्षा के मार्ग प्रशस्त होंगे।

सिंह

आज आप अपने कुछ मित्रों के साथ कहीं घूमने का प्लान बना सकते हैं। यदि आज के दिन आपके कुछ कार्य अधूरे पड़े हैं, उनके लिए आज आपको महापौर करनी पड़ सकती है। छात्रों को अधिक मेहनत से काम करने की जरूरत पड़ेगी। जीवन साथी से आपके संबंध मधुर होंगे। परिवार के खर्चे नियंत्रण नियंत्रण में रहेंगे। आपके छोटे भाई को उन्नति मिलेगी, जिससे सबका मन खुश होगा। व्यापार कर रहे लोगों के लिए आज नगद धन की कमी हो सकती है, इसलिए किसी भी तरह के लेनदेन से बचने की कोशिश करें।

कन्या 

आज का दिन आपके रोजगार के क्षेत्र के स्थानों से छुटकारा दिलाएगा। यदि आपको अपने किसी भाई-बहन की चिंता थी, तो आज वह खत्म होगी, जिसमें माता-पिता का आशीर्वाद मिलेगा और आपका मन प्रसन्न चित्त हो जाएगा। यदि आप निवेश करना चाहते हैं, तो आज का दिन सही नहीं है। निवेश करने से बचें। आज आप अपनी लव लाइफ का खुलासा अपने परिवार में कर सकते हैं, जिससे आपके पारिवारिक वातावरण में तनाव हो सकता है।

तुला 

यदि छात्र आज के दिन किसी प्रतियोगिता के परीक्षा की तैयारी में लगे हैं तो उनको कठोर मेहनत की आवश्यकता होगी आपको आज के दिन घर परिवार के हुजूर सदस्यों से टकराव मोल लेना सही नहीं होगा आप के कारोबार में वृद्धि होगी और आपके विचारों से वहां का माहौल सकारात्मक रहेगा आज धर्म-कर्म के कार्य में आपका मन लगेगा आप दोस्तों के साथ तीर्थ यात्रा का कार्यक्रम भी बना सकते हैं।

वृश्चिक 

आज अपनी लव लाइफ में आपको ऊर्जा नजर आएगी आपके व्यापार में उन्नति के साथ-साथ आज आपको आपके पद की गरिमा भी बढ़ जाएगी आप लोगों को छोटा छोटा मोटा लेना-देना चुका देने के बावजूद भी आपके धन कोष में कमी नहीं आएगी आप अपने परिवार के सदस्यों की जरूरतों का ध्यान रखेंगे छात्रों को अपने अध्यापकों का सहयोग मिलेगा और वह अपने सभी कार्य पूरे करेंगे आज के दिन की स्थिति या आपके पक्ष में नजर हो होती आ रही हैं।

धनु 

आज आपको अपनी पारिवारिक संपत्ति से लाभ मिलेगा, लेकिन आज परिवार के किसी खास सदस्य के स्वास्थ्य में कमी आ सकती है, जिससे परिवार का वातावरण तनावपूर्ण सकता है। संतान से कोई खुशी की खबर सुनने को मिल सकती है। आज आपकी आर्थिक लाभ की स्थिति उत्तम बनी हुई है, निवेश के लिए बहुत बढ़िया समय है और नया व्यापार शुरू करना चाहते हैं, तो भाग्य आपका साथ देगा।

मकर 

आज परिवार के सदस्य आपकी बातों से बहुत प्रभावित होंगे और उनको अच्छा मार्गदर्शन मिलेगा। यदि आज आप अपने आलस्य को त्याग देंगे, तो आपको कार्य क्षेत्र में नई ऊर्जा का संचार मिलेगा, जिससे आपके भविष्य की उन्नति होगी। एक्सरसाइज व योग करने का आपको अच्छा परिणाम दिखेगा। छोटे सदस्यों के साथ आपका बहुत मन लगेगा और आप आज उनके लिए कुछ गिफ्ट खरीद कर भी ला सकते हैं।

कुंभ 

आज के दिन राजनीति में काम करने वाले लोगों के लिए आर्थिक लाभ के योग बन रहे हैं। छात्रों को शिक्षा में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है, लेकिन उनके गुरु जन उनकी मदद करेंगे, जिससे वे राहत भरी सांस ले सकेंगे। यदि आपके कुछ शत्रु है, तो आज आपको से राहत मिलेगी।आज आपके अपने पिताजी से संबंध सुधर जाएंगे और आप अपनी लव लाइफ में उत्साह और उमंग महसूस करेंगे।

मीन 

आज का दिन आपके लिए मिलाजुला रहेगा। आज कुछ विपरीत हालातों की वजह से मन निराश हो सकता है। कुछ जरूरी खर्चे भी सामने आएंगे, लेकिन आपके घर के वरिष्ठ सदस्यों का सहयोग घर के माहौल को ठीक रखने में सहायक रहेगा। आपकी आर्थिक स्थिति मध्यम रहेगी। आज किसी भी तरह का निवेश आपको हानि पहुंचा सकता है। आज आपके मित्र व आपकी पर्सनल लाइफ आपको मानसिक शांति प्रदान करेगी


जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं


अंक ज्योतिष के अनुसार आपका मूलांक तीन आता है। यह बृहस्पति का प्रतिनिधि अंक है। आप दार्शनिक स्वभाव के होने के बावजूद एक विशेष प्रकार की स्फूर्ति रखते हैं। आपकी शिक्षा के क्षेत्र में पकड़ मजबूत होगी। आप एक सामाजिक प्राणी हैं। ऐसे व्यक्ति निष्कपट, दयालु एवं उच्च तार्किक क्षमता वाले होते हैं। आप सदैव परिपूर्णता या कहें कि परफेक्शन की तलाश में रहते हैं यही वजह है कि अकसर अव्यवस्थाओं के कारण तनाव में रहते हैं। अनुशासनप्रिय होने के कारण कभी-कभी आप तानाशाह भी बन जाते हैं। 

 

शुभ दिनांक : 3, 12, 21, 30

 

शुभ अंक : 1, 3, 6, 7, 9, 




 

शुभ वर्ष : 2028, 2030, 2031, 2034, 2043, 2049, 2052,    

 


ईष्टदेव : देवी सरस्वती, देवगुरु बृहस्पति, भगवान विष्णु 

 

शुभ रंग : पीला, सुनहरा और गुलाबी 

 

कैसा रहेगा यह वर्ष

नवीन व्यापार की योजना भी बन सकती है। दांपत्य जीवन में सुखद स्थिति रहेगी। घर या परिवार में शुभ कार्य होंगे। आपके लिए यह वर्ष सुखद है। किसी विशेष परीक्षा में सफलता मिल सकती है। नौकरीपेशा के लिए प्रतिभा के बल पर उत्तम सफलता का है। महत्वपूर्ण कार्य से यात्रा के योग भी है। मित्र वर्ग का सहयोग सुखद रहेगा। शत्रु वर्ग प्रभावहीन होंगे

Featured Post

सपा यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिया बूथ जीतने का मंत्र

मुजफ्फरनगर । सपा कार्यालय पर मुलायम सिंह यादव यूथ ब्रिगेड राष्ट्रीय अध्यक्ष सिद्धार्थ सिंह ने कार्यकर्ताओं को बूथ जीतने का मंत्र दिया।  उनके...